Valentine’s Day Shayari: 14 फरवरी की ये शायरी सुन, आपके बॉयफ्रेंड/गर्लफेंड कहेंगे- वाह क्या बात है!

2
- Advertisement -

Valentine’s day Shayari: वैलेंटाइन्स डे शायरी

नई दिल्ली:

14 फरवरी (14th February) वैलेंटाइन्स डे (Valentine's Day) से एक दिन पहले आता है किस डे (Kiss Day). इस दिन लोग अपने साथी किस के जरिए प्यार जताते हैं और फोन पर मैसेज और शायरी (Shayari) से एक-दूसरे को किस डे विश करते हैं. वैलेंटाइन्स डे (Valentine's Day) से पहले किस डे को स्पेशल (Kiss Day Shayari) बनाने के लिए यहां शानदार शायरी दी जा रही हैं, जो आपको ही नहीं बल्कि आपके पार्टनर को बहुत पसंद आएंगी. इस शायरी को पढ़ने के बाद आप इन्हें आपके साथी से व्हाट्सप्प (WhatsApp), फेसबुक (Facebook) या एसएमएस (SMS) से शेयर किए बिना रह नही पाएंगे. ये शायरी सिर्फ किस डे (Kiss Day) के लिए ही नहीं बल्कि वैलेटाइन्स डे (Valentine's Day) के दिन भी शेयर कर सकते हैं. तो पढ़ें और शायराना अंदाज़ में अपने पार्टनर से जताएं अपना प्यार…

Happy Hug Day: शायराना अंदाज़ में करें अपने प्यार को बयां, भेजें ये Happy Hug Day Shayari

- Advertisement -

जो उनकी आंखों से बयां होते हैं

वो लफ्ज़ किताबों में कहाँं होते हैं

_____________________

कौन कहता है मेरे बिना वो खुश है
जरा उनके सामने मेरा नाम के कर देखो

____________________

किसी को चाहो तो इस अंदाज़ से चाहो !
कि वो तुम्हे मिले या ना मिले !
मगर उसे जब भी प्यार मिले तो तुम याद आओ !!

____________________

अभी आए अभी जाते हो जल्दी क्या है दम ले लो
न छोड़ूंगा मैं जैसी चाहे तुम मुझ से क़सम ले लो
अमीर मीनाई

____________________

इश्क़ है अगर
शिकायत न कीजिए…!
और शिकवे हैं तो
मोहब्बत न कीजिए…!!

____________________

ना रूठना ना मनाना, ना गिला ना शिकवा कर,
गर करना है तो बस इश्क़ कर, बे-इन्तहा कर

____________________

चर्चे… किस्से…नाराजगी आने दो,
मुझको इश्क़ में और
इश्क़ को मुझमें मशहूर हो जाने दो

____________________

सीने में जलन आंखों में तूफ़ान क्यों होता है,
इस आशिकी में हर आदमी परेशान क्यों होता है

____________________

लगाके इश्क़ की बाजी सुना है दिल दे बैठे हो,
मुहब्बत मार डालेगी अभी तुम फूल जैसे हो

____________________

उसी से पूछ लो उसके इश्क की कीमत,
हम तो बस भरोसे पे बिक गए

____________________

इक बात कहूं इश्क़ बुरा तो नहीं मानोगे,
बड़ी मौज के थे दिन, तुमसे पहचान से पहले

____________________

अगर इश्क़ गुनाह है तो गुनाहगार है खुदा,
जिसने बनाया दिल किसी पर आने के लिए

____________________

अकेले हम ही शामिल नहीं हैं इस जुर्म में जनाब,
नजरें जब भी मिली थी मुस्कराये तुम भी थे

____________________

कुछ अजब हाल है इन दिनों तबियत का साहब,
ख़ुशी ख़ुशी न लगे और ग़म बुरा न लगे

____________________

फ़रिश्ते ही होंगे जिनका हुआ इश्क मुकम्मल,
इंसानों को तो हमने सिर्फ बर्बाद होते देखा है

____________________

मेरी रूह गुलाम हो गई है, तेरे इश्क़ में शायद,
वरना यूँ छटपटाना, मेरी आदत तो ना थी

____________________

हमारे इश्क़ को यूं न आज़माओ सनम,
पत्थरों को धड़कना सिखा देते हैं ह

____________________

एहसास-ए-मुहब्बत के लिए
बस इतना ही काफी है,
तेरे बगैर भी हम, तेरे ही रहते हैं…

____________________

दिल एक हो तो कई बार क्यों लगाया जाये,
बस एक इश्क़ ही काफी है अगर निभाया जाये

____________________

इश्क की चोट का कुछ दिल पे असर हो तो सही,
दर्द कम हो कि ज्यादा हो, मगर हो तो सही…।

टिप्पणियां

VIDEO: प्यार करने की सजा

Source Article