RSS के भैयाजी जोशी बोले- तिरपाल में रामलला के आखिरी बार दर्शन, उम्मीद है अगली बार मिलेगा भव्य मंदिर

5
- Advertisement -

जोशी ने 25 नवंबर को 'धर्मसभा' में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेने की अपील की.

लखनऊ: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह कार्यवाहक भैयाजी जोशी ने सोमवार को अयोध्या में रामलला पर पूजा की और उम्मीद जताई कि तिरपाल के अंदर भगवान राम के वे आखिरी बार दर्शन कर रहे हैं. 25 नवंबर को अयोध्या में होने वाली 'धर्मसभा' से पहले आरएसएस में नंबर दो की हैसियत रखने वाले जोशी ने भगवान से प्रार्थना की कि अगली बार जब वे अयोध्या में आएं तो उन्हें भगवान राम का भव्य मंदिर मिले. जोशी की इस टिप्पणी को भारतीय जनता पार्टी पर राम मंदिर को लेकर अध्यादेश या कानून लाने के लिए बनाए जा रहे दबाव के संदर्भ में देखा जा रहा है.
उन्होंने साथ ही कहा कि हिंदू संतों की अपील पर 25 नवंबर को आयोजित किए जा रहे समारोह में हिंदू समुदाय बड़ी संख्या में हिस्सा लें. जोशी ने कहा, 'हम उम्मीद करते हैं कि हिंदू समुदाय के लोग संतों का न्योता स्वीकार कर बड़ी संख्या में हिस्सा लेंगे. इसके साथ ही उन्होंने राम मंदिर के निर्माण का वादा भी दोहराया.
'अगर राम मंदिर निर्माण के लिए अध्यादेश लाया जाए, तो आपत्ति नहीं': बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी
जब उनसे पूछा गया कि सरकार को क्या करना चाहिए तो जोशी ने कहा कि वह इस पर टिप्पणी नहीं करेंगे. लेकिन साथ ही उन्होंने कहा कि वे सुप्रीम कोर्ट से अपील करेंगे और कहेंगे कि यह संवेदनशील मामला है और राम मंदिर का निर्माण आस्था से जुड़ा है, इसके निर्माण के रास्ते में आने वाली बाधाओं को दूर किया जाए. उन्होंने पीएम मोदी से भी इस मामले में दखल देने और इसका जल्द समाधान निकालने का आग्रह किया.
2019 लोकसभा चुनाव से पहले शिवसेना का नया नारा: हर हिंदू की यही पुकार, पहले मंदिर, फिर सरकार
टिप्पणियां (इनपुट-आईएएनएस)

बड़ी खबर: 'जरूरी हुआ तो 1992 जैसा आंदोलन'
Source Article

- Advertisement -