RRB Group D Recruitment: CBT के बाद होगी शारीरिक परीक्षा, यहां जानिए हर जानकारी

4
- Advertisement -

RRB Group D: कम्प्यूटर बेस्ड परीक्षा के बाद शारीरिक परीक्षा आयोजित की जाएगी.

नई दिल्ली: रेलवे रिक्रूटमेंट बोर्ड ग्रुप डी (RRB Group D) के पदों पर कम्प्यूटर बेस्ड परीक्षा करा रहा है. परीक्षा 17 दिसंबर तक चलने वाली है. भर्ती परीक्षा के लिए ए़डमिट कार्ड (RRB Admit Card) एग्जाम से 4 दिन पहले जारी किए जा रहे हैं. कई परीक्षाओं के लिए एडमिट कार्ड (RRB Group D Admit Card) जारी कर दिए गए हैं. उम्मीदवार अपने रीजन की आरआरबी वेबसाइट पर जाकर अपना एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं. ग्रुप डी की कम्प्यूटर बेस्ड परीक्षा (RRB CBT) के बाद शारीरिक दक्षता परीक्षा होगी. CBT में पास होने वाले उम्मीदवारों को ही शारीरिक परीक्षा देने का मौका मिलेगा. आइये जानते हैं शारीरिक परीक्षा से जुड़ी जानकारी..

रेलवे ग्रुप डी शारीरिक दक्षता परीक्षा (RRB Group D Physical Efficiency Test)

कम्प्यूटर बेस्ड परीक्षा (RRB CBT) में पास होने वाले उम्मीदवारों को शारीरिक दक्षता परीक्षा देनी होगी. जिन उम्मीदवारों की कम्प्यूटर बेस्ड परीक्षा हो चुकी है, उन्हें शारीरिक दक्षता परीक्षा (Physical Efficiency Test, PET) की तैयारी में लग जाना चाहिए.
पुरुष
शारीरिक दक्षता परीक्षा (RRB PET) में पास होने के लिए पुरुषों को 35 किलो का भार दो मिनट में 100 मीटर तक लेकर जाना होगा. इतना ही नहीं उम्मीदवारों को 1000 मीटर की दौड़ 4 मिनट 15 सेकंड में पूरी करनी होगी.
टिप्पणियांमहिला
महिला उम्मीदवारों को परीक्षा में 20 किलो का भार दो मिनट में 100 मीटर तक लेकर जाना होगा. साथ ही 1000 मीटर की दौड़ 5 मिनट 40 सेकंड में पूरी करनी होगी.
HSSC Group D Admit Card: 2 नवंबर को जारी होगा एडमिट कार्ड, ऐसे कर पाएंगे डाउनलोड आपको बता दें कि रेलवे भर्ती बोर्ड ग्रुप सी (RRB Group C) के पदों पर हुई भर्ती परीक्षा का रिजल्ट जल्द ही जारी कर देगा. ग्रुप सी असिस्टेंट लोको पायलेट और टेक्नीशियन परीक्षा (RRB Group C, ALP Technician) का रिजल्ट दिवाली से पहले 5 या 6 नवंबर को जारी किया जा सकता है. जल्द ही उम्मीदवारों का इंतजार खत्म हो जाएगा.
RRB Group C Result: Alp, Technician परीक्षा का रिजल्ट ऐसे कर पाएंगे चेक
ग्रुप सी एएलपी, टेक्नीशियन के 64 हजार 371 पदों पर भर्ती परीक्षा 9 अगस्त से 4 सितंबर तक आयोजित की गई थी. परीक्षा हर दिन तीन शिफ्टों में हुई थी.
Source Article

- Advertisement -