Ranji Trophy: बिहार के स्पिनर आशुतोष अमन ने तोड़ा महान बिशन सिंह बेदी का 44 साल पुराना रिकॉर्ड

3
- Advertisement -

बिशन सिंह बेदी ने 67 टेस्‍ट मैच में 28.71 के औसत से 266 विकेट हासिल किए (फाइल फोटो)

पटना:

बिहार के बाएं हाथ के स्पिनर आशुतोष अमन (Ashutosh Aman) ने बड़ा कमाल किया है. अमन ने बुधवार को यहां रणजी ट्रॉफी के एक सत्र में अपना 65वां विकेट हासिल कर महान स्पिन गेंदबाज और भारतीय टीम के पूर्व कप्‍तान बिशन सिंह बेदी (Bishan Singh Bedi) को पीछे छोड़कर रिकॉर्ड बुक में अपना नाम दर्ज करा लिया. बिहार ने इस मैच में मणिपुर को तीन विकेट से पराजित किया, हालांकि क्वार्टरफाइनल के लिए प्लेट ग्रुप से एकमात्र स्थान उत्तराखंड ने मिजोरम पर बोनस अंक की जीत से हथिया लिया. 32 साल के अमन ने यह उपलब्धि मणिपुर के संगतपम सिंह को पगबाधा आउट कर हासिल की जो उनका 65वां विकेट रहा. इस तरह उन्होंने पूर्व भारतीय कप्तान बेदी के दिल्ली की ओर से 1974-75 में हासिल किये गये 64 विकेट के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ा. भारतीय वायुसेना के कर्मचारी अमन ने 71 रन देकर सात विकेट हासिल किये.

ईशांत शर्मा-स्‍टीव स्मिथ की 'हरकत' से खफा बिशन सिंह बेदी, कहा – अब बदसूरत चेहरे भी बनने लगे

- Advertisement -

भारतीय टीम के पूर्व कप्‍तान बिशन सिंह बेदी (Bishan Singh Bedi)की गिनती अभी भी देश के शीर्ष स्पिनरों में की जाती है. बाएं हाथ के परंपरागत शैली के स्पिनर बेदी ने 67 टेस्‍ट मैच में 28.71 के औसत से 266 विकेट हासिल किए. पारी में पांच या इससे अधिक विकेट उन्‍होंने 14 बार हासिल किए जबकि एक बार वे मैच में 10 या इससे अधिक विकेट लेने में कामयाब रहे. बेदी उस दौर में भारत के लिए क्रिकेट खेले थे जब बिशन सिंह बेदी, भागवत चंद्रशेखर, ईरापल्‍ली प्रसन्‍ना और वेंकटराघवन की स्पिन चौकड़ी विपक्षी बल्‍लेबाजों के लिए सिरदर्द साबित होती थी.

टिप्पणियां

वीडियो: ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ टेस्‍ट सीरीज जीतने के बाद यह बोले विराट

इस स्पिन चौकड़ी ने टेस्‍ट क्रिकेट में भारत को कई जीतें दिलाईं. अपनी फ्लाइट से बल्‍लेबाजों को छकाने में वे बेहद माहिर थे. बेदी (Bishan Singh Bedi)का जन्‍म 25 सितंबर 1946 को अमृतसर में हुआ था लेकिन उन्‍होंने अपना ज्‍यादातर घरेलू क्रिकेट दिल्‍ली के लिए ही खेला. बेदी ने 10 वनडे मैच में भी खेले और सात विकेट हासिल किए थे. (इनपुट: एजेंसी)

Source Article