IND vs AUS 1st Test: ऋषभ पंत ने एमएस धोनी के इस रिकॉर्ड को किया बराबर…

2
- Advertisement -

ऋषभ पंत ने एक पारी में छह कैच लेने के एमएस धोनी के रिकॉर्ड की बराबरी की (फाइल फोटो)

एडिलेड: टिप्पणियां21 वर्षीय ऋषभ पंत (Rishabh Pant) को महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) के संन्‍यास और ऋद्धिमान साहा की चोट के कारण भारतीय‍ टेस्‍ट टीम में विकेटकीपिंग की जिम्‍मेदारी मिली है. ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ (Australia vs India) एडिलेड (Adelaide Test) में खेले जा रहे पहले टेस्‍ट मैच में पंत ने विकेट के पीछे शानदार प्रदर्शन करते हुए एक पारी में सर्वाधिक कैच लेने के महेंद्र सिंह धोनी के रिकॉर्ड की बराबरी की. पहले टेस्‍ट (1st Test) मैच के तीसरे दिन शनिवार को उन्‍होंने ऑस्‍ट्रेलिया के पुछल्‍ले बल्‍लेबाज जोश हेजलवुड का शमी की गेंद पर कैच लपककर इस रिकॉर्ड की बराबरी की. पंत का ऑस्‍ट्रेलिया की पहली पारी के दौरान यह छठा कैच रहा. इससे पहले विकेटकीपर के तौर पर धोनी ने वर्ष 2009 में वेलिंगटन में न्‍यूजीलैंड के खिलाफ पारी में छह विकेट लिए थे.
MS Dhoni के फैन्स ने ऋषभ पंत को कहा कुछ ऐसा, पीछे पलटकर दिया ऐसा Reaction

6 – most catches by an Indian keeper in a Test inns: MS Dhoni at Wellington 2009 and Rishabh Pant today!#AusvInd#AusvsInd

— Mohandas Menon (@mohanstatsman) December 8, 2018

पंत का यह छठा टेस्‍ट है. टेस्‍ट क्रिकेट में बल्‍लेबाज के रूप में अपने प्रदर्शन से क्रिकेटप्रेमियों को प्रभावित कर चुके हैं. उन्‍होंने अब तक छह टेस्‍ट में 43.25 के औसत से 346 रन बनाए हैं जिसमें इंग्‍लैंड के खिलाफ बनाए गए 114 रन उनका सर्वोच्‍च स्‍कोर रहा है. एडिलेड टेस्‍ट में भारत की पहली पारी के दौरान पंत ने 25 रन बनाए थे. वे ऑफ स्पिनर नाथन लियोन की गेंद पर आउट हुए थे. पंत की इस पारी में दो चौके और एक छक्‍का शामिल था. पंत ने भले ही पारी में छह विकेट लेने का कारनामा किया है लेकिन उनकी विकेटकीपिंग को समीक्षक अभी शीर्ष स्‍तर का नहीं मानते. इंग्‍लैंड के खिलाफ सीरीज के दौरान पंत ने बॉय के रूप में खूब रन दिए थे. इसके अलावा स्पिन और तेज गेंदबाजों की गेंदबाजी के आगे भी विकेट के पीछे गेंद कलेक्‍ट करने में गफलत कर जानते हैं. अनुभव हासिल करने के साथ उनकी विकेटकीपिंग में सुधार आने की उम्‍मीद है.
वीडियो: पुजारा बोले, विराट और धोनी में यह बात है कॉमन गौरतलब है कि 37 वर्षीय धोनी के वर्ष 2014 में क्रिकेट से संन्‍यास लेने के बाद पश्चिम बंगाल के ऋद्धिमान साहा ने विकेट के पीछे जिम्‍मेदारी संभाली और अपने रिफ्लेक्‍सेस से हर किसी को प्रभावित किया. साहा के चोटिल होने के कारण कुछ मैचों में पार्थिव पटेल और दिनेश कार्तिक ने विकेट के पीछे जिम्‍मेदारी संभाली. हालांकि ये दोनों खिलाड़ी भारतीय टेस्‍ट टीम का नियमित हिस्‍सा नहीं रह पाए. इंग्‍लैंड के खिलाफ डेब्‍यू करने के बाद से पंत भारतीय टेस्‍ट टीम के विकेटकीपर की जिम्‍मेदारी निभा रहे हैं.
Source Article

- Advertisement -