IND vs AUS 1st ODI: आईसीसी ने अंबाती रायुडु के एक्शन को बताया संदिग्ध, लेकिन विराट कोहली के लिए राहत

2
- Advertisement -

Ambati Rayudu Bowling action is suspected: अंबाती रायुडु मैच में गेंदबाजी के दौरान

दुबई:

फंस गए अंबाती रायुडु (Ambati Rayudu bowling action is suspected) भाई साहब फंस गए! विराट कोहली ने उन्हें ऑस्ट्रेलिया (#INDvAUS #INDvsAUS) के खिलाफ सिडनी में खेले गए पहले वनडे (मैच रिपोर्ट) मुकाबले में अंबाती रायुडु को छठे गेंदबाज की भूमिका भी सौंपी. इस मैच (AUS vs IND, 1st ODI) में रायुडु ने हालांकि महज दो ओवर ही गेंदबाजी की. इसमें उन्होंने कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) का कितना भरोसा जीता, यह तो एक अलग बात है, लेकिन रायुडु आईसीसी के निशाने पर आ गए हैं. आईसीसी ने उनके गेंदबाजी एक्शन को संदिग्ध करार दिया है.

As expected Ambati Rayudu has been reported for suspect action #AUSvINDpic.twitter.com/Yvbpi3FLDg

— Cricket Guru (@CricketGuru15) January 13, 2019

मैच के अधिकारियों ने अपने फैसले की बाबत भारतीय टीम मैनेजमेंट को अवगत करा दिया है. मैदानी अंपायरों की रिपोर्ट के बाद मैच रेफरी ने इस 33 वर्षीय गेंदबाज के एक्शन की वैधता पर सवाल खड़ा किया है. रायुडु ने अपने दो ओवरों में 13 रन खर्च किए थे. और कमेंटेटरों ने उनके एक्शन को काफी हद तक मुरलीधरन से मिलता-जुलता करार दिया था. अब अंबाती रायुडु के एक्शन की जांच की जाएगी.

- Advertisement -

यह भी पढ़ें: IND vs AUS 1st ODI: इस वजह से महेंद्र सिंह धोनी की बैटिंग को लेकर मचा है बवाल

मतलब अब अंबाती रायुडु को आईसीसी की तय प्रक्रिया से गुजरना होगा. जहां मशीनों और विशेषज्ञों की राय के बाद उनके एक्शन के बारे में अंतिम फैसला किया जाएगा. मैदानी अंपायरों ने कहा कि रायुडु की बांह जरूरत यानी 15 डिग्री से ज्यादा मुड़ती दिखाई पड़ रही है. रायुडु के अगले 14 दिन के भीतर इस प्रक्रिया से गुजरना होगा. विराट कोहली ने रायुडु को इसीलिए गेंदबाजी थमायी थी कि वह जरूरत पर छठे गेंदबाज की भूमिका निभा सकते हैं. इस वजह से विराट की काफी आलोचना भी हुई क्योंकि पार्टटाइमर उपयोगी गेंदबाज केदार जाधव को टीम में नहीं लिया गया था. बहरहार विराट के लिए राहत की खबर है.

VIDEO: एडिलेड टेस्ट के बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली प्रेस कॉन्फ्रेंस में

टिप्पणियां

बहरहाल, रायुडु के गेंदबाजी एक्शन पर फंसने के बावजूद विराट कोहली और टीम मैनेजमेंट के लिए अच्छी खबर यह है कि अगले 14 दिन के दौरान रायुडु गेंदबाजी करने के लिए स्वतंत्र हैं. मतलब यह कि अगर विराट के जहन में वर्तमान कॉम्बिनेशन ही घूम रहा है, तो वह रायुडु को फिर से छठे गेंदबाज की भूमिका सौंप सकते हैं. अब रायुडु अंतिम जांच रिपोर्ट पर आईसीसी का फैसला आने तक गेंदबाजी करना जारी रख सकते हैं.

Source Article