Flash Back 2018: खेलों के लिहाज से ऐतिहासिक रहा यह साल… 

9
- Advertisement -

पीवी सिंधु ने साल का समापन वर्ल्ड टूर फाइनल्स का खिताब जीतकर किया.

नई दिल्ली:

साल 2018 में भारतीय खिलाड़ियों ने कई बार वो कर दिखाया जिसकी इससे पहले सिर्फ़ कल्पना ही की जा सकती थी. एशियाड, कॉमनवेल्थ गेम्स और कई वर्ल्ड चैंपियनशिप्स में सितारों ने भारतीय खेलों का रूतबा ऊंचा कर दिया. बड़ी बात ये भी रही कि कई युवा खिलाड़ियों ने टोक्यो ओलिंपिक खेलों में अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद भी बढ़ा दी. मैरीकॉम का मुक्का…सिंधु के वर्ल्ड फ़ाइनल्स का ख़िताब और शूटिंग में चमकते सितारे साल 2018 में जगमगाते रहे और पदक बरसते रहे. एशियाड और कॉमनवेल्थ खेलों की कामयाबी के साथ कई मायनों में ये साल भारत के लिए ऐतिहासिक साबित हुआ.

Cricket Poll: आपकी नजर में वर्ष 2018 के लिए कौन है पसंदीदा क्रिकेटर?

बेस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स, 26 गोल्ड, 66 मेडल
ऑस्ट्रेलिया में हुए कॉमनवेल्थ खेलों में 26 गोल्ड के साथ भारत के खाते में 66 मेडल आए. क़रीब 90 साल के कॉमनवेल्थ खेलों के इतिहास में विदेशी ज़मीन पर भारत का ये बेहतरीन प्रदर्शन साबित हुआ. शूटिंग, रेसलिंग और वेटलिफ़्टिंग के अलावा भारतीय स्टार्स बॉक्सिंग, टेबल टेनिस, बैडमिंटन और यहां तक कि एथलेटिक्स में भी छाये रहे. मैरीकॉम, मनु भाकर, हीना सिद्धू, सुशील, बजरंग, विनेश फ़ोगाट, मीराबाई चान्हू और साइना नेहवाल से लेकर नीरज चोपड़ा जैसे धुरंधर अपने प्रदर्शन से सबका दिल जीतते रहे और इनसे उम्मीदें बड़ी होती रहीं..

- Advertisement -

FLASHBACK2018: ये पांच क्रिकेटर शायद ही आपको अगले साल विश्व कप में खेलते दिखाई पड़ें

एशियाई खेलों में भी दिखा जलवा

चार महीने बाद ही भारतीय खिलाड़ियों ने फिर से धमाका किया. इस बार 68 साल के एशियाई खेलों के इतिहास में भारत का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रहा. भारत ने इंडोनेशिया में हुए एशियाई खेलों में 1951 के दिल्ली में हुए एशियाई खेलों जितने गोल्ड और तब से भी कहीं ज़्यादा 69 मेडल जीतकर इतिहास बना दिया. टेबल टेनिस स्टार मनिका बत्रा कॉमनवेल्थ और एशियन गेम्स में छाई रहीं तो नीरज चोपड़ा, बजरंग पुनिया, विनीश फोगाट, अमित पंघल, जिनसन जॉनसन, मनजीत सिंह, स्वप्ना बर्मन जैसे डेढ़ दर्जन खिलाड़ियों ने एशियाड में सोना जीतकर भारतीय उम्मीदें और ऊंची कर दीं.

FLASHBACK2018: बजरंग और विनेश फोगाट बने भारतीय कुश्ती के नए सितारे, जूझते दिखे सुशील कुमार

बेस्ट एशियाड, 15 गोल्ड, 69 मेडल
कॉमनवेल्थ और एशियन गेम्स के बाद द.कोरिया में हुई शूटिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप में भारतीय खिलाड़ियों ने सीनियर और जूनियर स्तर पर 11 गोल्ड सहित 27 मेडल जीतकर दुनिया भर में अपना डंका बजा दिया.

Flashback2018: खेल की दुनिया में भारत और पाकिस्‍तान के इन खिलाड़ि‍यों की रही धूम…

बेस्ट वर्ल्ड शूटिंग चैंपियनशिप, 11 गोल्ड, 27 मेडल
मनु भाकर और सौरभ चौधरी जैसे प्रतिभाशाली शूटर्स साल भर वर्ल्ड शूटिंग चैंपियनशिप और यूथ ओलिंपिक्स सहित सभी दूसरी प्रतियोगिताओं में छाये रहे. तो जेरेमी लालरिनुंगा Jeremy Lalrinunga जैसे वेटलिफ़्टर्स यूथ ओलिंपिक्स के गोल्ड के सहारे अपने खेल की मौजूदगी का एहसास करवाते रहे.

भारतीय अंडर-20 फ़ुटबॉल
भारतीय अंडर-20 फ़ुटबॉल टीम ने छह बार की चैंपियन अर्जेंटीना को शिकस्त देकर चौंकाया तो अंडर-16 टीम ने एशियन चैंपियन इराक जैसी टीम को भी पहली बार पटखनी देने में कामयाब रही.

आंचल का कमाल
मनाली की आंचल ठाकुर भारत को Turkey में इंटरनेशनल लेवल की किसी भी स्कीइंग प्रतियोगिता में पदक दिलाने वाली पहली भारतीय बन गईं. भारतीय खिलाड़ी पैरा गेम्स में भी कहीं पीछे छूटते नहीं दिखे. इंड़ोनेशिया में भारतीय पैरालिंपिक एथलीटों ने 15 गोल्ड सहित कुल 72 मेडल जीतकर इतिहास बना डाला.

सिंधु का कमाल
कॉमनवेल्थ और एशियन गेम्स में सिल्वर जीतने वाली पीवी सिंधु ने सात फ़ाइनल मैच खेलने के बाद बैडमिंटन वर्ल्ड टूर फ़ाइनल्स का ख़िताबी मैच जीता और साल 2018 को सुनहरा बना दिया. फ़ाइनल में जापान की नोज़ोमि ओकुहारा का हराकर सिंधु ने रिकॉर्ड बना डाला. बैडमिंटन में किदांबी श्रीकांत वर्ल्ड रैंकिंग में टॉप पर पहुंचने में कामयाब रहे तो युवा स्टार लक्ष्य सेन ने 53 साल बाद एशियन जूनियर बैडमिंटन चैंपियनशिप का ऐतिहासिक फ़ाइनल जीतकर मज़बूत बेंच का इशारा किया.

Flash Back: साल 2018 में इन 5 खिलाड़ियों रहा जलवा…

टिप्पणियां

हॉकी वर्ल्ड कप
भारतीय हॉकी के लिए ये साल उतार-चढ़ाव भरा साबित हुआ. हॉलैंड में हुई आख़िरी हॉकी चैंपियंस ट्रॉफ़ी में भारत ने सिल्वर मेडल जीतकर दबदबा तो कायम किया. लेकिन एशियन गेम्स में ब्रॉन्ज़ से संतोष करना पड़ा और ओलिंपिक का टिकट हासिल करने का रास्ता भी मुश्किल हो गया. कॉमनवेल्थ गेम्स में ये टीम कांस्य पदक हासिल कर पाई तो भुवनेश्वर में हुए वर्ल्ड कप हॉकी में ये टीम क्वार्टरफ़ाइनल तक पहुंची और छठे स्थान पर रही. महिला हॉकी एशियाड में फ़ाइनल में जापान से हारी और सिल्वर हासिल कर पाई. वर्ल्डकप में ये टीम भी 40 साल में पहली बार क्वार्टर फ़ाइनल में पहुंच पाई.

साइना, विनेश ने की शादी
साइना नेहवाल और विनेश फ़ोगाट जैसी स्टार्स अपनी शादी और सानिया मिर्ज़ा अपने घर आये नन्हे मेहमान की वजह से भी सुर्ख़ियों में रहीं. इनके फ़ैन्स ने इनकी दूसरी पारी के लिए खूब दुआएं मांगीं और उम्मीद जताई कि नया साल इनकी कामयाबी के सौगात लेकर आएगा.

Source Article