Delhi Assembly Election 2020: AAP ने कई पुराने दिग्गज विधायकों की जगह इन नए चेहरों पर जताया भरोसा

0

आम आदमी पार्टी ने जारी की उम्मीदवारों की सूची

नई दिल्ली:

आम आदमी पार्टी ने दिल्ली विधानसभा चुनाव के मद्देनजर अपने उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी है. पार्टी ने इस चुनाव में कई दिग्गज विधायकों का टिकट काटकर कुछ नए चेहरों पर दाव खेला है. पार्टी ने इस बार तिमारपुर से मौजूदा विधायक पंकज पुष्कर का टिकट काटकर दिलीप पांडे को उम्मीदवार बनाया है. वहीं, बवाना से मौजूदा विधायक रामचंद्र का टिकट काटकर जय भगवान उपकार को टिकट दिया है. उधर, मुंडका से सुखबीर दलाल का टिकट काटकर इस बार धर्मपाल लाकड़ा को मौका दिया गया है. पार्टी से पटेल नगर से हजारीलाल चौहान का टिकट काटकर राजकुमार आनंद को उम्मीदवार बनाया है. ऐसे ही पार्टी ने हरी नगर में जगदीप सिंह की जगह राजकुमारी ढिल्लों को, द्वारका से आदर्श शास्त्री का टिकट काटकर विनय मिश्रा को, दिल्ली कैंड से कमांडो सुरेंद्र सिंह की जगह वीरेंद्र सिंह कादियान को, राजेंद्र नगर से विजेंद्र धर की जगह राघव चड्ढा को, कालकाजी से अवतार सिंह का टिकट काटकर आतिशी को, बदरपुर से नारायण दत्त शर्मा की जगह राम सिंह को, त्रिलोकपुरी से राजू दिन गान की जगह रोहित कुमार मैहरोलिया को, कोंडली से मनोज कुमार की जगह कुलदीप कुमार को, कोंडली से मनोज कुमार की जगह कुलदीप कुमार को, सीलमपुर से हाजी इशराक की जगह अब्दुल रहमान को, गोकुलपुर से चौधरी फतेह सिंह का टिकट काटकर चौधरी सुरेंद्र कुमार को और मटिया महल से आसिम अहमद खान की जगह शोएब इकबाल को टिकट दिया है.

दिल्ली में कांग्रेस को बड़ा झटका, पूर्व सांसद महाबल मिश्रा के बेटे सहित 5 नेता AAP में शामिल

बता दें कि आम आदमी पार्टी (AAP) ने दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Election) के लिए सभी 70 सीटों पर अपने उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है. आम आदमी पार्टी की पॉलिटिकल अफेयर्स कमिटी की बैठक में उम्मीदवारों के नाम तय किए गए हैं. आम आदमी पार्टी ने 46 मौजूदा विधायकों को टिकट दिया है, जबकि 15 का टिकट काट दिया है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल नई दिल्ली से, जबकि उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया पटपड़गंज से चुनाव लड़ेंगे. आम आदमी पार्टी ने इस बार इस बार 6 की जगह 8 महिलाओं को टिकट दिए हैं. तिमारपुर से मौजूदा विधायक पंकज पुष्कर का टिकट काटकर दिलीप पांडे को उम्मीदवार बनाया गया है. वहीं, बवाना से मौजूदा विधायक रामचंद्र का टिकट काटकर जय भगवान उपकार को टिकट दिया गया है.

ऐसे शुरू हुआ था AAP और BJP में VIDEO वॉर, CM केजरीवाल को भेजा गया है 500 करोड़ का नोटिस

मुंडका से सुखबीर दलाल का टिकट काटकर धर्मपाल लाकड़ा को उम्मीदवार बनाया गया. वहीं, पटेल नगर से हजारीलाल चौहान का टिकट काटकर राजकुमार आनंद को उम्मीदवार बनाया गया. हरी नगर से जगदीप सिंह का टिकट काटकर राजकुमारी ढिल्लों को उम्मीदवार बनाया गया. वहीं, द्वारका से आदर्श शास्त्री का टिकट काटकर विनय मिश्रा को टिकट दिया गया है. दिल्ली कैंट से कमांडो सुरेंद्र का टिकट काटकर वीरेंद्र सिंह कादियान को टिकट दिया गया. दूसरी तरफ राजेंद्र नगर से विजेंद्र घर का टिकट काटकर राघव चड्ढा को उम्मीदवार बनाया गया. कालकाजी से अवतार सिंह का टिकट काटकर आतिशी को उम्मीदवार बनाया गया. वहीं, बदरपुर से नारायण दत्त शर्मा का टिकट काटकर राम सिंह नेताजी को टिकट दिया गया. त्रिलोकपुरी से राजू दिन गान का टिकट काटकर रोहित कुमार मैहरोलिया को टिकट दिया गया. वहीं, कुंडली से मनोज कुमार की जगह कुलदीप कुमार को टिकट दिया गया. सीलमपुर से हाजी इशराक का टिकट काटकर अब्दुल रहमान को उम्मीदवार बनाया गया तो गोकुलपुर से चौधरी फतेह सिंह का टिकट काटकर चौधरी सुरेंद्र कुमार को उम्मीदवार बनाया गया है.

AAP का कैंपेन सॉन्ग शनिवार को होगा लॉन्च, Teaser में देखें पहली झलक

बता दें कि इस महीने की शुरुआत में ही चुनाव आयोग ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करके दिल्ली विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान किया था. आयोग ने कहा था कि दिल्ली में एक ही चरण में 8 फरवरी को मतदान होगा. मतदान के बाद 11 फरवरी को नतीजे घोषित कर दिए जाएंगे. मुख्य चुनाव आयुक्त अरोड़ा ने संवाददाताओं को बताया था कि चुनाव के लिए अधिसूचना मंगलवार, 14 जनवरी को जारी की जाएगी. नामांकन दाखिल करने की अंतिम तिथि मंगलवार, 21 जनवरी होगी. नामांकन पत्रों की छंटनी की तिथि बुधवार, 22 जनवरी होगी, तथा नामांकन वापसी की अंतिम तिथि शुक्रवार, 24 जनवरी रखी गई है. दिल्ली में मतदान शनिवार, 8 फरवरी को करवाया जाएगा, और मतगणना, यानी चुनाव परिणाम मंगलवार, 11 फरवरी को आएंगे.

मनीष सिसोदिया की बीजेपी को चुनौती, कोई एक काम बताओ, जो क्वालिटी एजुकेशन के लिए आपने किया हो

दिल्ली में विधानसभा की 70 सीटें हैं जिसमें से 58 सामान्य श्रेणी की है जबकि 12 सीटें अनुसूचित जाति के लिये आरक्षित हैं. अरोड़ा ने बताया कि दिल्ली विधानसभा चुनाव की तैयारियों के सिलसिले में विभिन्न कानून अनुपालन एजेंसियों के साथ व्यापक चर्चा की गई है जिसमें सुरक्षा से जुड़े आयाम भी शामिल हैं. उन्होंने कहा कि चुनाव तरीख की घोषणा के बाद ही आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू हो जाएगी.

BJP और AAP के बीच है टक्‍कर
दिल्ली में मुख्य मुकाबला सत्तासीन आम आदमी पार्टी (AAP) और केंद्र में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (BJP) के बीच है, हालांकि कांग्रेस की स्थिति भी पिछले चुनाव के मुकाबले मज़बूत लग रही है. दिल्ली में विधानसभा चुनाव 2015 में AAP ने ऐतिहासिक जीत हासिल कर राष्ट्रीय राजधानी की 70 में से 67 विधानसभा सीटों पर कब्ज़ा किया था, और शेष तीनों सीटें BJP के खाते में आई थीं. कांग्रेस को पिछले चुनाव में एक भी सीट पर जीत हासिल नहीं हो पाई थी.

AAP में शामिल हुए 5 बार के MLA शोएब इकबाल, तो BJP बोली- मुस्लिम वोट बैंक साधने की कोशिश

इस बीच, दिल्ली के मुख्य चुनाव अधिकारी रणवीर सिंह ने बताया, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में मई, 2019 में हुए लोकसभा चुनाव 2019 की तुलना में विधानसभा चुनाव 2020 तक 3,75,000 मतदाता बढ़ गए हैं, और अब दिल्ली में कुल 1,46,92,136 मतदाता हैं. दिल्ली के मुख्य चुनाव अधिकारी ने जानकारी दी है कि दिल्ली में पुरुष मतदाताओं की तादाद 80,55,686 है, जबकि 66,35,635 महिला मतदाता हैं. राष्ट्रीय राजधानी में 815 मतदाता थर्ड जेंडर के हैं, जबकि NRI मतदाताओं की संख्या 489 है.

BJP के हमले पर मनीष सिसोदिया का जवाब- 'बच्चा-बच्चा जानता है ध्रुवीकरण की मास्टर पार्टी कौन है'

टिप्पणियां

रणवीर सिंह के अनुसार, दिल्ली में 2,689 स्थानों पर कुल 13,750 मतदान केंद्र हैं. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के कुल मतदाताओं में से 2,08,883 मतदाता 18 से 19 साल के बीच हैं, यानी ये लोग पहली बार मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे. दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 के मद्देनजर सोमवार शाम को दिल्ली के मुख्य चुनाव अधिकारी रणवीर सिंह विभिन्न राजनीतिक पार्टियों के साथ बैठक करेंगे.

VIDEO: विधानसभा चुनाव को लेकर मनोज तिवारी से एनडीवीटी की खास बातचीत

Source Article