Amritsar train accident: हादसे की होगी न्यायिक जांच, CM अमरिंदर बोले- 4 हफ्ते में जांच रिपोर्ट मांगी

3
- Advertisement -

Amritsar train accident: अमृतसर ट्रेन हादसे में घायलों का जायजा लेते सीएम अमरिंदर सिंह

अमृतसर: पंजाब (Punjab Train Mishap) के अमृतसर (Amritsar train accident) में दशहरे के दिन रावण दहन के दौरान 59 लोगों की मौत के मामले पर मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने दुख जताया है. घटना के एक दिन बाद शनिवार को अमृतसर पहुंच कर मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की और इस मामले की न्यायिक जांच के आदेश दिए. पंजाब के CM कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मृतकों के परिवार वालों के लिए 3 करोड़ के मुआवजे का ऐलान किया. बता दें कि अमृतसर में शुक्रवार की शाम रावन दहन के दौरान ट्रेन की चपेट में आने से 59 लोगों की मौत हो गई है और 50 से ज़्यादा लोग घायल बताए जा रहे हैं, जिनमें कुछ की हालत गंभीर बनी हुई है.
अमृतसर हादसा : मरते-मरते यूं 'रावण' ने बचाई कइयों की जान, पीछे छोड़ गया विधवा मां, पत्नी और 8 महीने का मासूम
सीएम अमरिंदर सिंह ने कहा कि इजराइल जाने के दौरान एयरपोर्ट पर हादसे की खबर मिली. हमने मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिये हैं और हमने 4 हफ्ते में जांच रिपोर्ट मांगी है. पंजाब के स्कूल कॉलेज बंद रहेंगे. साथ ही उन्होंने कहा कि हमारी यह जांच रेलवे की जांच से अलग जांच होगी. उन्होंने कहा कि ऐसे मौके पर आरोप-प्रत्यारोप नहीं होना चाहिए. यह हादसा बहुत ही दुखद है.
Amritsar train accident: 'मौत की ट्रेन' का चालक बोला- मुझे ग्रीन सिग्नल मिला और रास्ता क्लीयर

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि जैसे ही हादसा हुआ, पूरा प्रशासन महकमा इसमें लग गया. जितना जल्दी हो सकता था, हम उतनी जल्दी यहां आए. आज पूरा पंजाब कैबिनेट यहां है. मुख्यमंत्री ने कहा कि इस हादसे में अब तक कुल 59 लोग मरे हैं और 57 घायल हैं. हम जल्द से जल्द शवों का पोस्टमार्टम करने का प्रयास करेंगे. हमने 9 को छोड़कर बाकी सबके शवों की पहचान कर ली है.
टिप्पणियां

अमृतसर ट्रेन हादसा : रेलवे बोर्ड के चेयरमैन ने कहा- हमारी कोई गलती नहीं, ड्राइवर इमरजेंसी ब्रेक लगाता तो जा सकती थीं और जानें
दरअसल, अमृतसर के जोड़ा फाटक के पास शुक्रवार शाम दशहरा (dussehra 2018) के मौके पर रावण दहन देखने के लिए बड़ी संख्या में भीड़ उमड़ी थी. लोग रेल की पटरियों पर खड़े होकर रावण दहन देख रहे थे, तभी अचानक तेज रफ्तार में ट्रेन आई और सैकड़ों लोगों को कुचलती हुई चली गई. ट्रेन जालंधर से अमृतसर आ रही थी तभी जोड़ा फाटक पर यह हादसा हुआ. इस भयावह हादसे को देखते हुए पंजाब में एक दिन के राजकीय शोक का ऐलान किया गया है. इससे पहले पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने ट्वीट किया, ‘अमृतसर रेल दुर्घटना के मद्देनजर प्रदेश में कल शोक रहेगा. सभी दफ्तर और शिक्षण संस्थान बंद रहेंगे.' बता दें कि मौके पर कम से कम 300 लोग मौजूद थे जो पटरियों के निकट एक मैदान में रावण दहन देख रहे थे.
Source Article

- Advertisement -