6 जनवरी को 2019 का पहला Solar Eclipse, जानिए Surya Grahan के दौरान क्या करें और क्या नहीं?

1
- Advertisement -

Surya Grahan के दौरान क्या करें और क्या नहीं?

नई दिल्ली:

Surya Grahan 6 January 2019: 6 जनवरी को साल 2019 का पहला ग्रहण (Grahan) पड़ रहा है. यह ग्रहण इस साल का भारत में पहला सूर्य ग्रहण (Surya Grahan in India) होगा. यह पूर्ण नहीं बल्कि आंशिक सूर्य ग्रहण (Partial Solar Eclipse) होगा, जो कि 3 घंटे 18 मिनट तक रहेगा. जी हां, ग्रहण सुबह 5 बजे से शुरू होकर 9.18 तक चलने वाला है. इसके बाद अगला ग्रहण इसी महीने 31 जनवरी को पड़ने वाला है. यह चंद्र ग्रहण (Lunar Eclipse) होगा. इसके साथ ही साल 2019 में कुल 5 ग्रहण पड़ेंगे. तीन सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse) और दो चंद्र ग्रहण (Chandra Grahan) (6 जनवरी को पड़ने वाले ग्रहण से जुड़े सभी सवालों का जवाब जानिए यहां).
यहां जानिए सूर्य ग्रहण (Surya Grahan) को देखते वक्त क्या-क्या बरतें सावधानियां.

1. सूर्य ग्रहण हो या चंद्र ग्रहण, कभी भी ग्रहण के दौरान आसमान को नंगी आंखों से ना देखें.

- Advertisement -

2. सूर्य ग्रहण को हमेशा सोलर फिल्टर वाले चश्मों से देखें. इस चश्मों को सोलर-व्युइंग ग्लासेस, पर्सनल सोलर फिल्टर्स या आइक्लिप्स ग्लासेस कहा जाता है.

ग्रहण के बुरे प्रभावों से बचने के लिए इन 4 मंत्रों को पढ़ रहे हैं लोग

3. ज्योतिषों और पंडितों की मानें तो उनके अनुसार ग्रहण के वक्त खुले आकाश में निकलने के लिए मना किया जाता है. खासकर प्रेग्नेंट महिलाओं, बुज़ुर्गों, रोगी और बच्चों को. साथ ही ग्रहण के दौरान खाना खाने और पकाने को भी मना किया जाता है.

4. वहीं, लोगों की मान्यता है कि ग्रहण के तुरंत बाद किसी भी काम को करने से पहले नहाना चाहिए. सिर्फ खुद को ही नहीं बल्कि घर में मंदिर में मौजूद सभी भगवानों की मूर्तियों को भी नहलाना या फिर गंगाजल छिड़कना चाहिए.

5. मूर्तियों और खुद को नहलाने के बाद पूरे घर में धूप-बत्ती कर शुद्धीकरण किया जाना चाहिए. घर में या बाहर मौजूद तुलसी के पौधे को भी गंगाजल डालकर स्वच्छ करना चाहिए.

6. कुछ लोग तो अपने घरों को भी पानी से धो डालते हैं. मान्यता है कि ग्रहण के बाद मन की शुद्धी के लिए दान-पुण्य भी करना चाहिए.

बता दें, 6 जनवरी को पहला और 26 दिसंबर को आखिरी सूर्य ग्रहण होगा. दोनों ही सूर्य ग्रहण होंगे. 6 जनवरी को पड़ने वाला सूर्य ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा बल्कि नॉर्थ ईस्ट एशिया (North East Asia) और पैसेफिक ओशन (Pacific Ocean) के कुछ हिस्सों में दिखाई देगा. (यहां जानिए किन शहरों में दिखेगा ग्रहण)

ग्रहण के बाद दुष्प्रभावों से बचने के लिए लोग कर रहे हैं ये 6 काम

टिप्पणियां

VIDEO: एक सीध में सूर्य, चंद्र और पृथ्वी

Source Article