सौरव गांगुली ने बोर्ड को लिखा खत, कहा- BCCI और भारतीय क्रिकेट की छवि हो रही धूमिल

2
- Advertisement -

सौरव गांगुली (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बंगाल (सीएबी) के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने बीसीसीआई के कार्यकारी अध्यक्ष सीके खन्ना, सचिव अमिताभ चौधरी और कोषाध्यक्ष अनिरुद्ध चौधरी को प्रशासकों की समिति (COA) से संबंधित मामले को लेकर एक मेल भेजा है. इस मेल में उन्होंने बिना नाम लेते हुए यौन उत्पीड़न के आरोपों में फंसे राहुल जौहरी का भी जिक्र किया है. इतना ही नहीं, सौरव गांगुली ने बीसीसीआई और भारतीय क्रिकेट की छवि धूमिल होने की भी बात कही है.
आम्रपाली दुबे के प्यार में झाडू लगाने और बर्तन मांजने पर मजबूर हुए ये भोजपुरी सुपरस्टार, Video में झलका दर्द
सौरव ने मेल में लिखा, ''मैं आपको यह मेल डर के साथ बेहद गहरी भावना के साथ लिख रहा हूं. भारतीय क्रिकेट प्रशासन (Indian Cricket Administration) किस दिशा की ओर जा रहा है. जीतते या हारते हुए मैंने लंबे समय तक क्रिकेट खेला है और हमेशा से भारतीय क्रिकेट की छवि हमारे लिए सबसे महत्वपूर्ण रही. हम हमेशा से देखते आए हैं कि क्रिकेट में कोई न कोई मसला उलझा हुआ रहता है. यह बेहद चिंता की बात है (मैंने चिंता शब्द का इस्तेमाल किया). मैं यह बताना चाहता हूं कि पिछले कुछ सालों से जैसा समय गुजरा है, दुनिया के लिए भारतीय क्रिकेट का अधिकार और लाखों फैन्स के प्यार व भरोसे को खोया है.''

Former cricketer and Cricket Association of Bengal (CAB) President Sourav Ganguly writes to BCCI Acting President CK Khanna, Secretary Amitabh Chaudhary and Treasurer Anirudh Chaudhry over Committee of Administrators (CoA) and sexual harassment allegations against Rahul Johri. pic.twitter.com/iAh8o7ECXz

— ANI (@ANI) October 30, 2018

उन्होंने आगे लिखा कि, ''मुझे यह नहीं पता कि इसमें कितनी सच्चाई है, लेकिन हाल ही में आई उत्पीड़न के आरोपों की रिपोर्ट की वजह से बीसीसीआई की छवि धूमिल हुई है. चार लोगों की प्रसाशनिक समिति दो-दो भागों में हो गई हैं और अब दोनों ही विभाजित दिखाई दे रही हैं. एक सत्र के बीच में क्रिकेट के नियम बदल दिए जाते हैं, जिन्हें कभी नहीं सुना गया होगा. समितियों में किए गए निर्णय पूरी तरह से अपमान के साथ बदल गए, कोच चयन के मामले में मेरा अनुभव अचंभित था (कम कहा जाए तो बेहतर).''
टिप्पणियांसपना चौधरी नागिन की तरह बलखाईं तो मदहोश हो गए सब, Video ने काटा गदर
गांगुली ने बताया, ''बोर्ड के कामकाज से संबंधित मामलों में शामिल मेरे एक दोस्त ने मुझसे पूछा कि वह किसके पास जाते हैं. इस पर मेरे पास कोई जवाब नहीं था. मुझे यह पूछना पड़ा कि मुझे अंतर्राष्ट्रीय खेल के लिए किस एसोसिएशन को आमंत्रित करना चाहिए क्योंकि मुझे नहीं पता था कि क्या हो रहा था. भारतीय क्रिकेट ने शानदार प्रशासकों और क्रिकेटर्स के सालों की कड़ी मेहनत की वजह से बड़े पैमाने पर फैन फॉलोइंग बनाई है. मेरे हिसाब से यह अब खतरे में है. उम्मीद है कि लोग इसे सुन रहे हैं.''
Source Article

- Advertisement -