संसद LIVE: आज भी लोकसभा में राफेल पर घमासान की उम्मीद, राहुल ने PM को दी है 20 मिनट बहस करने की चुनौती

2
- Advertisement -

Parliament winter session live updates: लोकसभा में राफेल पर आज भी हंगामे के आसार

नई दिल्ली:

संसद के शीतकालीन सत्र में आज यानी बुधवार का दिन भी घमासान भरा होने की उम्मीद है. लोकसभा में आज भी राफेल सौदे पर सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच आरोप-प्रत्यारोप के दौर चलने और हंगामे के आसार हैं. दरअसल, बुधवार को राफेल मुद्दे पर बहस के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला और राफेल में घोटाले की बात दोहराई. राहुल गांधी ने लोकसभा में राफेल को लेकर पीएम मोदी को घेरा और अनिल अंबानी को कॉन्ट्रैक्ट दिलवाने का आरोप लगाया, तो वहीं सरकार की ओर से वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भी पलटवार किया और अगस्ता वेस्टलैंड, नेशनल हेराल्ड और बोफोर्स समेत कई मामलों पर राहुल को गांधी पर काउंटर अटैक किया. आज संसद का शीतकालीन सत्र इसलिए भी अहम है क्योंकि राहुल गांधी ने पीएम मोदी को आमने-सामने बैठकर 20 मिनट तक बहस करने की चुनौती दी है. इतना ही नहीं, राहुल गांधी ने पीएम मोदी के लिए आज के बहस के संदर्भ में कुछ सवालों की लिस्ट भी दी है. अब देखना होगा कि राफेल पर राहुल का जवाब देने के लिए पीएम मोदी लोकसभा में आते हैं या नहीं. वहीं, राज्यसभा में भी ट्रिपल तलाक बिल पेश होने की संभावना है. लगातार हंगामे की वजह से कार्यवाही स्थगित हो जा रही हैं, जिसकी वजह से तीन तलाक विधेयक को चर्चा के लिए राज्यसभा में नहीं पेश किया जा सका है.

राफेल मामला: संसद में राहुल गांधी ने लगाई आरोपों की झड़ी, 'PM ने ही अंबानी को दिलाया कॉन्ट्रेक्ट', पढ़ें 8 वार

Parliament winter session live updates: Debate on rafale in loksabha

- Advertisement -

-सबरीमाला मंदिर मामले पर कांग्रसे सासंदों ने सदन के कार्यस्थगन का प्रस्ताव दिया.

-राष्ट्रीय जनता दल (RJD) सांसद जेपी यादव ने भारतीय सेना से अहीर अथवा यादव रेजिमेंट को हटाए जाने के मुद्दे पर लोकसभा में कार्यस्थगन प्रस्ताव का नोटिस दिया है.

RJD MP JP Yadav has given adjournment motion notice in Lok Sabha over the eradication of Ahir or Yadav regiment from the Indian Army. (File pic) pic.twitter.com/atCKcVa0Ng

— ANI (@ANI) January 3, 2019

-शिवसेना सांसद अरविंद सावंत ने लोकसभा में कहा कि कैसा ऑफसेट कॉन्ट्रैक्ट था कि जिसकी कंपनी नहीं थी अभी, सिर्फ कागज पर थी, जबकि HAL के पास सब था. हमारी सरकार अगर साफ है तो हम क्यों जेपीसी से डरते हैं?

राहुल गांधी ने पीएम मोदी से पूछे 4 सवाल लेकिन तीसरा गायब. यूजर ने पूछा- मोदी और अंबानी ने किडनैप कर लिया क्या?

इससे पहले बुधवार को लोकसभा में राफेल विमान सौदे पर बुधवार को लोकसभा में हुई तीखी बहस के दौरान कांग्रस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना करते हुए कहा कि पूरा देश उनपर अंगुलियां उठा रहा है. राहुल ने राफेल विमान सौदे की जांच संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) से कराने की मांग की, लेकिन वित्तमंत्री अरुण जेटली ने उनपर भ्रष्टाचार का मुद्दा गढ़ने का आरोप लगाते हुए उनकी मांग खारिज कर दी. सदन में हुई तीखी बहस के दौरान राहुल गांधी और जेटली के बीच खूब नुक्ताचीनी हुई. कांग्रेस ने राफेल विमान सौदे में भ्रष्टाचार का आरोप लगाया, जिसे वित्तमंत्री ने यह कहते हुए सिरे खारिज कर दिया कि जो भ्रष्टाचार में संलग्न रहे हैं वे स्वच्छ सरकार की छवि खराब करने की कोशिश कर रहे हैं.

राहुल गांधी ने राफेल पर 'PM की परीक्षा' से पहले ही बताए सवाल, पूछा- खुद हल करेंगे या किसी और को भेजेंगे?

राहुल गांधी ने क्या कहा:
राहुल गांधी ने राफेल सौदे पर बहस की शुरुआत सौदे की प्रक्रिया, कीमत और संरक्षण को लेकर मोदी पर हमले से की. उन्होंने कहा कि राफेल की कहानी में अनेक विसंगतियां हैं. उन्होंने कहा, "मुझे लगता था कि दाल में कुछ काला है, लेकिन यहां तो पूरी दाल ही काली है। हम जेपीसी की मांग कर रहे हैं. इससे सच सामने आ जाएगा. मोदीजी ने प्रक्रियाओं को नजरंदाज किया और अनुबंध एचएएल से छिन लिया गया. जेपीसी जांच की जरूरत है."

राफेल मामला: राहुल पर अरुण जेटली का पलटवार: मिशेल ने क्यों कहा 'सन ऑफ इटालियन लेडी', पढ़ें 10 काउंटर अटैक

राहुल गांधी मंगलवार को मोदी द्वारा एक टेलीविजन साक्षात्कार में दिए गए उस बयान को खारिज करने की मांग कर रहे थे जिसमें उन्होंने कहा कि राफेल सौदे में व्यक्तिगत तौर पर उनके ऊपर सीधा आरोप नहीं है, बल्कि सरकार पर है. राहुल गांधी ने अपना मोबाइल फोन निकालकर गोवा के एक मंत्री की रिकॉर्डिग सुनाना चाहा तो सदन में शोर-शराबा होने लगा. जेटल समेत सत्ता पक्ष के सांसदों ने विरोध किया. इसपर लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने गांधी से कथित बातचीत की प्रमाणिकता साबित करने को कहा और किसी भी प्रकार की रिकॉडिंग नहीं सुनाने को कहा.

जब राहुल ने लोकसभा स्पीकर से कहा- मैम, मैं अनिल अंबानी नहीं तो क्या, डबल A कह सकता हूं…

राहुल गांधी ने कहा, "वह (मोदी) बहुत थके (साक्षात्कार में) लग रहे थे. उन्होंने कहा कि किसी ने उनपर अंगुली नहीं उठाई है, लेकिन सच यह है कि पूरा देश उनके ऊपर ही अंगुलियां उठा रहा है." गांधी ने कहा कि एक खबर में कहा गया है कि रक्षा मंत्रालय की फाइल नोट में यह कहा गया है कि प्रधानमंत्री मोदी को राफेल सौदे की बातचीत में दखल नहीं देनी चाहिए. उन्होंने कहा, "मोदी को इसपर भी जवाब देना चाहिए." राहुल गांधी ने मोदी पर ऑफसेट कांट्रैक्ट एक निजी कंपनी को दिलाने में प्रक्रियाओं की उपेक्षा करने का आरोप लगाया. राफेल मामले में सर्वोच्च न्यायालय के आदेश का जिक्र करते हुए कांग्रेस प्रमुख ने कहा कि शीर्ष अदालत ने यह नहीं कहा है कि मामले की जांच जेपीसी से नहीं होनी चाहिए.

गोधरा, गठबंधन, राफेल : PM मोदी के लिए कैसे संकट मोचक बन जाते हैं अरुण जेटली ?

अरुण जेटली ने रखा सरकार का पक्ष और किया पलटवार:
लोक कसभा में राफेल राफेल मामले में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के आरोपों को 'झूठा' और यूपीए सरकार पर देश की सुरक्षा से समझौता करने का आरोप लगाते हुए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने जेपीसी की मांग ठुकरा दी. अरुण जेटली ने लोकसभा में कहा कि कुछ लोग ऐसे होते हैं, जिन्हें स्वभाविक रूप से सच्चाई नापसंद होती है. उन्हें सिर्फ पैसे का गणित समझ में आता है, देश की सुरक्षा का नहीं. जेपीसी की मांग को खारिज करते हुए जेटली ने कहा कि इसमें संयुक्त संसदीय समिति नहीं हो सकती है, यह नीतिगत विषय नहीं है. यह मामला सौदे के सही होने के संबंध में है. सुप्रीम कोर्ट में यह सही साबित हुआ है. उन्होंने कहा कि जेपीसी में दलगत राजनीति का विषय आता है. बोफोर्स मामले में जेपीसी ने कहा था कि इसमें कोई रिश्वत नहीं दी गई. अब वहीं लोग जेपीसी की मांग कर रहे हैं, ताकि एक स्वच्छ सरकार के खिलाफ मामला गढ़ने का मौका मिल सके.

राहुल गांधी ने दी चुनौती: हिम्मत है तो राफेल पर आमने-सामने बैठकर 20 मिनट मुझसे बहस करें PM

राफेल विमान सौदा मुद्दे पर लोकसभा में चर्चा में हस्तक्षेप करते हुए जेटली ने कहा, 'यह एक ऐसा मामला है, जिसमें पहले से लेकर अंतिम शब्द तक.. जो भी बोला गया, पूरी तरह से झूठ है.' उधर संसद की कार्यवाही में बाधा पहुंचाने के आरोप में AIADMK के 26 सांसदों को लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने 5 दिन क लिए सस्पेंड कर दिया और संसद की कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित कर दी. स्पीकर सुमित्रा महाजन ने इसके साथ-साथ कांग्रेस सांसदों को सदन की कार्यवाही में बाधा पहुंचाने के लिए फटकार भी लगाई. उन्होंने कहा कि संसद में ऐसा बर्ताव शोभनीय नहीं है.

टिप्पणियां

Video:राफेल पर राहुल गांधी का सरकार पर हमला

Source Article