श्रीलंका में हुए सीरियल ब्लास्ट के पीछे स्थानीय इस्लामिक संगठन के होने की आशंका: सरकार

2
- Advertisement -

प्रतीकात्मक तस्वीर

कोलंबो:

ईस्टर के मौके पर रविवार को श्रीलंका में आठ सिलसिलेवार बम धमाकों ने पूरी दुनिया को सकते में डाल दिया. अब श्रीलंका में हुए बम धमाकों को लेकर सरकार ने बड़ा बयान दिया है. श्रीलंका के मंत्री राजिता सेनारत्ने ने सोमवार को कहा कि ईस्टर के मौके पर श्रीलंका में बम धमाके अंतरराष्ट्रीय नेटवर्क के सहयोग से किया गया. सेनारत्ने ने कहा कि हम नहीं मानते कि ये हमले उन लोगों के एक समूह द्वारा किए गए, जो इस देश तक ही सीमित थे. बिना किसी अंतर्राष्ट्रीय नेटवर्क के ये हमले सफल नहीं हो सकते.उन्होंने आगे कहा कि श्रीलंका के मंत्री राजिता सेनारत्ने ने कहा कि देश में ईस्टर के दिन हुए भीषण विस्फोटों के पीछे ‘नेशनल तोहिद जमात' संगठन का हाथ होने की आशंका है.

इससे पहले इंटरपोल ने सोमवार को कहा कि वह श्रीलंका में ईस्टर समारोह के समय गिरजाघरों और महंगे होटलों में हुये सिलसिलेवार आठ बम धमाकों की जांच के लिए इस देश की सरकार के साथ पूरा सहयोग करने को तैयार है. इंटरपोल के महासचिव जुर्गेन स्टोक ने टि्वटर पर जारी संदेश में कहा, ‘इंटरपोल इस भयावह हमले की कड़ी निंदा करता है और राष्ट्रीय अधिकरणों के द्वारा की जा रही जांच में अपना पूर्ण सहयोग देने का प्रस्ताव करता है.' पेरिस में इस संगठन का मुख्यालय है और यह विश्व स्तर पर पुलिस सहयोग की सुविधा मुहैया कराता है.

टिप्पणियां

- Advertisement -

स्टॉक ने कहा कि इंटरपोल, सदस्य देश के निवदेन पर एक दुर्घटना प्रत्युत्तर दल तैनात कर सकता है ताकि निर्दिष्ट जगह पर संकट का हल निकालने की दिशा में मदद हो सके. उन्होंने कहा, ‘हमारी सहानुभूति एवं प्रार्थनाएं पीड़ित परिजनों एवं उनके मित्रों के लिए हैं.' गौरतलब है कि रविवार को श्रीलंका के गिरजाघरों और महंगे होटलों को निशाना बनाते हुए आठ विस्फोट किए गए. इन हमलों में 290 लोग मारे गए हैं और 500 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं.

VIDEO: ईस्टर के मौके पर 8 धमाकों से दहला श्रीलंका​

Source Article