शिवसेना का पीएम मोदी पर हमला, कहा- वे भगवान विष्णु के ‘अवतार’ हैं इसलिये…

0
- Advertisement -

शिवसेना ने पीएम मोदी के विदेश दौरों पर सवाल खड़ा किया है. (फाइल फोटो)

मुंबई: भाजपा की अगुवाई वाली एनडीए में सहयोगी शिवसेना ने पीएम मोदी पर निशाना साधा है. शिवसेना ने कहा कि पीएम ने विदेश यात्राओं के पिछले सभी रिकार्ड तोड़ दिये हैं. पार्टी ने प्रश्न उठाया कि ऐसे में भारत को उससे (इन यात्राओं से) क्या हासिल हुआ? फ्रांस और रूस के साथ भारत के रक्षा सौदों को अधिक महत्व नहीं देते हुए उद्धव ठाकरे की अगुवाई वाली पार्टी ने दावा किया कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप धमकी दे रहे हैं कि यदि भारत एफ-16 लड़ाकू जेट सौदे पर राजी नहीं होता है तो अमेरिका भारत पर आर्थिक प्रतिबंध लगायेगा. पार्टी ने अपने मुखपत्र ‘सामना' के संपादकीय में यह कहते हुए मोदी पर कटाक्ष किया कि वह ‘‘भगवान विष्णु के अवतार हैं और यही वजह है कि अपने श्रद्धालुओं को दर्शन देने के लिए पूरी दुनिया की यात्रा कर रहे हैं''.
शिवसेना का BJP पर हमला, उद्वव ठाकरे ने कहा- 'मोदी सरकार को अब दोस्तों की जरूरत नहीं'
वैसे, शिवसेना केंद्र और महाराष्ट्र में सत्तारुढ़ भाजपा की अगुवाई वाले गठबंधन का हिस्सा है लेकिन भाजपा के 2014 के महाराष्ट्र लोकसभा चुनाव अकेले अपने दम पर लड़ने के फैसले के बाद से दोनों दलों के बीच तनाव चल रहा है. सामना के संपादकीय में की गयी टिप्पणियों के बारे में पूछे जाने पर मुम्बई भाजपा प्रवक्ता निरंजन शेट्टी ने कहा कि उनकी पार्टी किसी भी राजनीतिक दल के मुखपत्र में व्यक्त विचारों पर प्रतिक्रिया नहीं करती है. शिवसेना ने कहा कि कई ऐसे देश हैं जिनके साथ भारत के अच्छे संबंध नहीं है, ‘‘शायद प्रधानमंत्री उनके साथ संबंध सुधारने के लिए विदेश यात्रा पर जाते हैं''. उसने कहा कि उनकी यात्रा पर करोड़ों रुपये खर्च होते हैं. पार्टी ने कहा, ‘‘बदले में भारत को क्या हासिल हुआ.
शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे 25 नवंबर को जाएंगे अयोध्या, PM मोदी से पूछेंगे यह सवाल…
पहला, फ्रांस के साथ राफेल जेट सौदा किया गया जिसमें भ्रष्टाचार के आरोप सामने आए. फिर, अमेरिका ने रुस के साथ एस-400 वायु रक्षा मिसाइल प्रणाली का सौदा करने पर अमेरिका ने एतराज किया. भारत रूस समझौते के बाद अब अमेरिका खुद को तुष्ट करने के लिए चाहता है कि भारत उससे एफ-16 खरीदे''. शिवसेना ने आरोप लगाया कि अमेरिका भारत को रुसी एस -400 वायु रक्षा प्रणाली का सौदा करने पर अमेरिका के विरोधियों से प्रतिबंध के जरिये निपटने संबंधी कानून (सीएएटीएसए) के माध्यम से पाबंदियों की धमकी दे रहा है. अमेरिका पहले ही पाकिस्तान को एफ-16 लड़ाकू जेट विमान बेच चुका है. ऐसे में पाकिस्तान को इस विमान की सभी ‘गोपनीय बारीकियां' मालूम हैं. उसके बाद भी ट्रंप प्रशासन भारत को यह विमान बेचना चाहता है.
मोदी के मंत्री ने की CM ऑफिस के बंटवारे की मांग, कहा- इससे दूर होगा शिवसेना और बीजेपी का विवाद
टिप्पणियां VIDEO : मिशन 2019: 'चुनाव आते ही फिर राम याद आए'

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
Source Article

- Advertisement -