शहीदों के घरों में 20 साल से खत भेजते आ रहा है ये शख्स, ‘शहीद स्मारक’ बनाने के लिए घरों से लाते हैं मिट्टी

2
- Advertisement -

टिप्पणियांगुजरात (Gujarat) के सूरत (Surat) में एक सिक्योरिटी गार्ड ऐसा काम करता है जिसको सुनकर आपकी आखें भी नम हो जाएंगी. सिक्योरिटी गार्ड पिछले 20 साल से शहीदों के लिए खत लिखते जा रहे हैं. पीछे की वजह से शहीदों के घरवालों के चेहरे पर मुस्कान. सिक्योरिटी गार्ड के रूप में काम करने वाले जितेंद्र सिंह पिछले 20 साल से उन जवानों को पोस्टकार्ड भेजते आ रहे हैं जो देख के लिए लड़ाई में शहीद हो चुके हैं.
फिर शादी करने जा रहे हैं बिहार के 'लव गुरु' मटुकनाथ, कहा – "मेरी जवानी ने अभी अंगड़ाई ली है"
8n5irn98

जितेंद्र के मुताबिक, "ऐसा मैं पिछले 20 साल से कर रहा हूं. वे खुश होते हैं कि कोई उन्हें याद रखता है. जब मैं उनसे मिलता हूं, मैं उनके घरों से मिट्टी लेकर आता हूं, ताकि 'शहीद स्मारक' बन सके.'' वो आगे जाकर शहीदों के लिए शहीद स्मारक बनाने का विचार कर रहे हैं. ऐसा वो शहीदों के सम्मान में करना चाहते हैं.

Mary Kom के साथ मुक्केबाजी करते दिखे खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर, वायरल हुआ VIDEO
n27lus6
जितेंद्र ने कहा- कारगिल युद्ध के दौरान जवानों ने अपने घरों को खत भेजे थे, लेकिन जब तक वे खत घर पहुंचे, वे शहीद हो चुके थे… मैं तभी से खत लिखने के लिए प्रेरित हुआ… मैंने एक बार एक शख्स से बात की थी, जिसने अपना बेटा खोया था, उन्होंने कहा, ऐसा लगा, जैसे वह अपने बेटे से बात कर रहे हैं…"
Source Article

- Advertisement -