विधायक की बेटी की शादी का मामला : मीडिया कवरेज से भड़के मध्‍यप्रदेश के बीजेपी नेता, ट्वीट कर उठाए सवाल

1
- Advertisement -

उत्तर प्रदेश के बरेली से बीजेपी विधायक राजेश मिश्रा की बेटी साक्षी मिश्रा (फाइल फोटो)

भोपाल:

उत्तर प्रदेश के बरेली से बीजेपी विधायक राजेश मिश्रा की बेटी साक्षी मिश्रा की शादी पर मध्य प्रदेश के नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने ट्वीट के जरिये सवाल उठाए हैं. टीवी चैनलों की इस मुद्दे पर कवरेज से भड़के भार्गव ने यहां तक लिख दिया कि ऐसी खबरों से कन्या भ्रूण हत्या की घटनाएं देश में अप्रत्याशित रूप से बढ़ेंगी.

इस मुद्दे पर लगातार कई ट्वीट करते हुए भार्गव ने लिखा, ''मेरे निजी विचार से यह चैनल अपनी टीआरपी बढ़ाने और रुपया कमाने के चक्कर मे बहुत बड़ा समाज विरोधी एवं राष्ट्र विरोधी कार्य कर रहे हैं. उनके इस कृत्य से अब यह बात तय है कि देश मे पिछले एक दशक से चल रही 'बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ' योजना एवं राष्ट्रीय अभियान 50 वर्ष पीछे चला जायेगा.' मेरा मानना है कि ऐसी खबरों से अब कन्या भ्रूण हत्या की घटनाएं देश मे अप्रत्याशित रूप से बढ़ेंगी. महिला पुरुष के लिंगानुपात में भारी अंतर आएगा जो हमें अगले तीन वर्षों में सामाजिक सर्वे में स्पष्ट रूप से दिखेगा. नर्सिंग होम एवं निजी अस्पतालों में गर्भपात का गौरखधंधा खूब फलेगा फूलेगा. धन्य हैं ऐसे समाज सुधारक खबरिया एवं राष्ट्रीय समाचार चैनल और उनके एंकर. अब टीवी और मोबाइल भारतीय परिवारों के लिए अभिशाप बनते जा रहे हैं. समय रहते समझदार लोग इस अभिशाप से मुक्ति पाएं तो परिवार सुखी रहेगा.''

सोशल मीडिया और कथित राष्ट्रीय समाचार चैनल और उनके तनखैया एंकरों द्वारा अपनी TRP बढ़ाने और रुपया कमाने की लालसा से एक आधुनिक लैला मजनू को लेकर उनके दुःखी पिता और परिवार का मजाक बनाया जा रहा है। जिसे लोग आंनद से देख रहे है।

— Gopal Bhargava (Leader of Opposition) (@bhargav_gopal) July 14, 2019

मेरे निजी विचार से यह चैनल अपनी TRP बढ़ाने और रुपया कमाने के चक्कर मे बहुत बड़ा समाज विरोधी एवं राष्ट्र विरोधी कार्य कर रहे हैं। उनके इस कृत्य से अब यह बात तय है कि देश मे पिछले एक दशक से चल रहा "बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ" की योजना एवं राष्ट्रीय अभियान 50 वर्ष पीछे चला जायेगा।

— Gopal Bhargava (Leader of Opposition) (@bhargav_gopal) July 14, 2019

मेरा मानना है कि ऐसी खबरों से अब कन्या भ्रूण हत्या की घटनाएं देश मे अप्रत्याशित रूप से बढ़ेगी तथा महिला पुरुष के लिंगानुपात में भारी अंतर आएगा जो हमे अगले तीन वर्षों में सामाजिक सर्वे में स्पष्ट रूप से दिखेगा
नर्सिंग होम एवं निजी अस्पतालों में गर्भपात का गौरखधंधा खूब फलेगा फूलेगा

— Gopal Bhargava (Leader of Opposition) (@bhargav_gopal) July 14, 2019

धन्य है ऐसे समाज सुधारक खबरिया एवं राष्ट्रीय समाचार चैनल और उनके एंकर ।
अब TV और मोबाइल भारतीय परिवारों के लिए अभिशाप बनते जा रहें हैं। समय रहते समझदार लोग इस अभिशाप से मुक्ति पाएं तो परिवार सुखी रहेगा ।

— Gopal Bhargava (Leader of Opposition) (@bhargav_gopal) July 14, 2019

देश के एक आम नागरिक के रूप में यह मेरे निजी विचार हैं। अनेक व्यक्ति या समाचार माध्यम इससे असहमत भी हो सकते हैं, जोकि स्वाभाविक है। यदि उनको मेरे इन विचारों से कष्ट पहुँचा हो तो उसके लिए मुझे क्षमा करें ।

— Gopal Bhargava (Leader of Opposition) (@bhargav_gopal) July 14, 2019

- Advertisement -

टिप्पणियां

इस मुद्दे पर मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के मीडिया समन्वयक नरेन्द्र सलूजा ने जमकर हमला बोलते हुए नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव की सोच को फासिस्ट और संकीर्ण करार दिया है. सलूजा ने कहा कि 'युवाओं के वोट तो भाजपा को चाहिए लेकिन वे उन्हें उस काल में ले जाने को मजबूर कर रहे हैं, जहां कुरितियों से जकड़ा समाज हर स्तर पर प्रगति में बाधक था. यह तो अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता में बाधक है. कन्या भ्रूण हत्या का समर्थन करके उन्होंने जता दिया कि 15 साल में उनकी सरकार का बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान सिर्फ ढकोसला था. उनका यह बयान कन्या भ्रूण हत्या के गोरखधंधे को बढ़ावा देने वाला है. भाजपा को स्पष्ट करना चाहिये कि वो गोपाल भार्गव के इस विचार के साथ सहमत है या नहीं.'

VIDEO: बरेली के MLA की बेटी साक्षी की कहानी उन्‍हीं की जुबानी

Source Article