राहुल गांधी ने राफेल पर ‘PM की परीक्षा’ से पहले ही बताए सवाल, पूछा- खुद हल करेंगे या किसी और को भेजेंगे?

3
- Advertisement -

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी( File Photo)

नई दिल्ली:

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने बुधवार को राफेल मामले (Rafale Deal)मेंप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi)पर जमकर हमला बोला और उन्हें चुनौती दी कि प्रधानमंत्री इस मुद्दे पर उनके साथ सीधी बहस करें. राहुल गांधी ने पहले लोकसभा (Lok Sabha)में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेरा और उसके बाद उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके आरोपों की झड़ी लगा दी. प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद राहुल ने टि्वटर का सहारा लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा. उन्होंने टि्वटर पर कहा कि कल संसद में प्रधानमंत्री 'ओपेन बुक राफेल डील एक्जाम' का सामना करेंगे. इसके अलावा राहुल ने पीएम मोदी के लिए चार सवाल भी ट्वीट किए हैं.

राहुल ने ट्वीट कर तंज कसते हुए कहा, 'कल संसद में प्रधानमंत्री 'ओपेन बुक राफेल डील एग्जाम' का सामना करेंगे. सवाल पहले से पता हैं: 1. वायुसेना को 126 विमानों की जरूरत थी तो सिर्फ 36 विमानों का सौदा क्यों? 2. विमान की कीमत 526 करोड़ रुपए की बजाय 1,600 करोड़ रुपये क्यों की गई? 4. एचएएल की बजाय ए ए (अनिल अंबानी) को ठेका क्यों दिया गया? क्या वह परीक्षा के लिए आएंगे ? या किसी प्रतिनिधि को भेज देंगे?'

Tomorrow, the PM faces an Open Book #RafaleDeal Exam in Parliament.
Here are the exam questions in advance:
Q1. Why 36 aircraft, instead of the 126 the IAF needed?
Q2. Why 1,600 Cr instead of 560 Cr per aircraft.
Q4. Why AA instead of HAL?
Will he show up? Or send a proxy?

— Rahul Gandhi (@RahulGandhi) January 2, 2019

- Advertisement -

जब संसद में बोले राहुल- मैम, मैं अनिल अंबानी नहीं तो क्या, डबल AA कह सकता हूं…

राहुल गांधी ने ट्वीट में तीसरा सवाल नहीं पूछा था. जब यूजर्स ने उस पर प्रतिक्रिया देना शुरू किया तो राहुल गांधी ने तीसरा सवाल भी ट्वीट करके पूछा और साथ ही बताया कि उन्होंने तीन के बाद सीधा चौथा सवाल क्यों पूछा. उन्होंने इस ट्वीट में कहा, 'मैंने सवाल नंबर तीन रोक लिया था, क्योंकि लोकसभा स्पीकर ने कहा था, 'गोवा टेप के बारे में कोई बात नहीं होगी.' लेकिन सवाल नंबर तीन उतना ही विवादित हो गया, जितना राफेल डील. इसलिए लोगों की मांग पर तीसरा सवाल पूछ रहा हूं,'

उन्होंने पूछा, 'मोदी प्लीज बताइए, पर्रिकर जी ने अपने बेडरूम में राफेल की फाइल क्यों रखी हुई है और इस फाइल में क्या जानकारी है.'

The Missing Q3!
I had held back Q3 because Madam Speaker had said, “no talking about the Goa tape”! But the missing Q3 has become as controversial as Rafale:) So on popular demand:
Q3. Modi Ji, please tell us why Parrikar Ji keeps a Rafale file in his bedroom & what's in it? https://t.co/6WdiN487HJ

— Rahul Gandhi (@RahulGandhi) January 2, 2019

राहुल गांधी ने दी चुनौती: हिम्मत है तो राफेल पर आमने-सामने बैठकर 20 मिनट मुझसे बहस करें PM

लोकसभा में बहस के बाद की गई प्रेस कॉन्फ्रेंस में राहुल गांधी ने राफेल मामले पर एक साक्षात्कार में प्रधानमंत्री की टिप्पणी को लेकर कहा कि न जाने मोदी किस दुनिया मे रहते हैं, जबकि हकीकत यह है कि पूरा देश उनसे राफेल पर सवाल पूछ रहा है. उन्होंने कहा कि इस मामले में प्रधानमंत्री को सच्चाई और विश्वसनीयता के साथ जवाब देना चाहिए. राहुल ने कहा, 'राफेल मामले पर प्रधानमंत्री के साथ आमने सामने से बात करने के लिए 20 मिनट दीजिये और फिर आप फैसला करिए कि क्या होता है. लेकिन प्रधानमंत्री के पास साहस नहीं है. उनके पास आपके (मीडिया) सामने आने का साहस नहीं है.'

गोधरा, गठबंधन, राफेल : PM मोदी के लिए कैसे संकट मोचक बन जाते हैं अरुण जेटली ?

साथ ही राहुल ने कहा, 'ऑडियो टेप में गोवा के स्वास्थ्य मंत्री साफ कह रहे हैं कि पर्रिकर जी ने कैबिनेट बैठक में बोला कि मेरे पास राफेल फाइल है और पूरी जानकारी है और मुझे कोई परेशान नहीं कर सकता है. हो सकता है कि इस तरह के और टेप हों. पर्रिकर जी एक तरह से प्रधानमंत्री को धमकी दे रहे थे, ब्लैकमेल कर रहे हैं.'

लोकसभा में जेटली के भाषण का हवाला देते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘अपने भाषण में जेटली जी ने बोला कि 16 00 करोड़ रुपये की बात कहां से आती है? अब इन्होंने खुद कहा कि 58 हजार करोड़ रुपये का सौदा है. 36 विमान खरीदे जा रहे हैं. एक विमान की कीमत क्या हुई? जेटली जी, 1600 करोड़ रुपये की संख्या आपने दी है. विमान की कीमत बढ़ाई गई. ये किसने किया, कैसे हुआ? हमारा मुख्य सवाल है कि क्या वायुसेना ने यह निर्णय लिया था या उसने इस पर आपत्ति जताई थी?'

राफेल मामला: संसद में राहुल गांधी ने लगाई आरोपों की झड़ी, 'PM ने ही अंबानी को दिलाया कॉन्ट्रेक्ट'

गांधी ने कहा, ‘पूर्व रक्षा मंत्री पर्रिकर ने साफ कहा था कि मुझे सौदे के बारे में कुछ नहीं पता. अब कह रहे हैं कि उनके शयन कक्ष में फाइले हैं. मोदी जी ने प्रक्रिया बदली. विमान की कीमत 1600 करोड़ रुपये कराया. ओलांद से कहा कि डबल ए (अनिल अंबानी) को कांट्रैक्ट को दिया जाए.' उन्होंने आरोप लगाया कि युवाओं और हिंदुस्तान के किसानों से साढ़े तीन लाख करोड़ रुपये चोरी करके सबसे अमीर लोगों का कर्जा माफ किया है.

(इनपुट- भाषा)

राफेल पर घमासान: राहुल ने PM मोदी को दिया यह 'चैलेंज', पूछे कई सवालों के जवाब…

टिप्पणियां

VIDEO- राफेल पर राहुल गांधी का सरकार पर हमला

Source Article