राहुल गांधी के ‘खाओ कमीशन राव’ के बयान पर केसीआर का पलटवार, कहा- वो हमेशा जोकर की तरह बात करते हैं

5
- Advertisement -

केसीआर ने राहुल गांधी पर किया हमला

हैदराबाद: तेलंगाना राष्ट्रीय समिति (TRS) के अध्यक्ष के चंद्रशेखर राव (KCR) ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पर पलटवार करते हुए उन्हें जोकर की तरह बात करने वाला बताया है. दरअसल, तेलंगाना में प्रचार के दौरान राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने केसीआर को 'खाओ कमीशन राव' बताया था. केसीआर (KCR) में इलेंडू में रैली के दौरान कहा कि राहुल गांधी के बारे में सबको पता है कि वह हमेशा जोकर की तरह बात करते हैं. उन्होंने (KCR) कहा कि भले ही राहुल गांधी (Rahul Gandhi)समझदार हो या न हो, भगवान ने उन्हें समझदारी दी हो या न दी हो लेकि वह बात एक जोकर की तरह ही करते हैं. उन्होंने कहा कि हमनें कमीशन को री-डिजाइन किया है.
यह भी पढ़ें: तेलंगाना विधानसभा भंग, नई सरकार तक कार्यवाहक मुख्यमंत्री बने रहेंगे KCR
राहुल गांधी क्या आप साथ आएंगे, क्या आपमें इतनी हिम्मत है कि आप रुद्रामाकोटा मेरे साथ चल सकें, क्या हम देख सकते हैं कि वहां आज आपके पिता और दादी के नाम पर प्रोजेक्ट्स के हालात क्या हैं. मैं आपको वहां लेकर जाउंगा, बेवजह से आरोप लगाने का कोई फायदा नहीं है. केसीआर ने कहा कि हम प्रोजेक्ट्स बना रहे हैं जिनकी हमें जरूरत है, क्या हमें किसी कमीशन की जरूरत है. मैं आपको कमीशन दे सकता हूं अगर आप चाहते हैं तो.
यह भी पढ़ें: TRS प्रमुख चंद्रशेखर राव का हमला, 'PM मोदी और BJP को है यह बीमारी…'
टिप्पणियां बता दें कि यह कोई पहला मौका नहीं है जब केसीआर ने राहुल गांधी पर हमला बोला है. इससे पहले उन्होंने राहुल गांधी को 'देश का सबसे बड़ा मसखरा' तक कह डाला था. तेलंगाना के पहले मुख्यमंत्री ने कहा था कि "सभी जानते हैं राहुल गांधी क्या हैं… देश के सबसे बड़े मसखरे… पूरे देश ने देखा, वह किस तरह नरेंद्र मोदी के पास गए, और उन्हें गले लगाया, और फिर किस तरह आंख मारी.वह हमारे लिए प्रॉपर्टी हैं. जितनी ज़्यादा बार वह (तेलंगाना) आएंगे, हम उतनी ही ज़्यादा सीटें जीतेंगे."
VIDEO: समय से पहले चुनाव की तैयारी.
चंद्रशेखर राव ने कहा था कि राहुल गांधी को कांग्रेस की दिल्ली सल्तनत विरासत में मिली है.वह कांग्रेस के दिल्ली साम्राज्य के कानूनी वारिस हैं.यही वजह है कि मैं लोगों से अपील करता हूं कि कांग्रेस के, दिल्ली के गुलाम न बनें.तेलंगाना का निर्णय तेलंगाना में ही होना चाहिए."
Source Article

- Advertisement -