राफेल, राहुल, वाजपेयी, फैक्स मशीन, पद्मावत, साल 2018 की कई बातें हमेशा आपको आएंगी याद

1
- Advertisement -

फाइल फोटो

नई दिल्ली: साल 2018 का आज आखिरी दिन है. यह साल अपने साथ कई ऐसी बातें समेटकर जा रहा है जिनका असर पूरे देश में दिखाई दिया. बात चाहे सुप्रीम कोर्ट के जजों की प्रेंस कॉन्फ्रेंस की करें या फिर साल जाते-जाते राफेल पर जस्टिस तरुण गोगोई के फैसले की. राम मंदिर का मुद्दा भी इस साल गरमाया रहा लेकिन अदालत ने इस मुद्दे को ज्यादा तवज्जो नहीं दी. पूर्व राष्ट्रपति और कांग्रेस के दिग्गज नेता रहे डॉ. प्रणब मुखर्जी का आरएसएस के कार्यक्रम में हिस्सा लेना भी अपने आप में जहां एक अद्भूत राजनीतिक घटना थी तो दूसरी ओर साल भर उपचुनावों में बीजेपी के हारने की खभरें भी आती रहीं. हालांकि गुजरात विधानसभा चुनाव में उसकी जीत हुई और कर्नाटक में सबसे बड़ी पार्टी बनने के बाद भी वह सरकार न बना सकी. वहीं 11 दिसंबर को आए राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में वह अपनी सरकार भी गंवा बैठी. इस साल एक और मुद्दा चर्चा का केंद्र में रहा, वह था 'स्टेच्यू ऑफ यूनिटी'. गुजरात में बनी सरदार वल्लभ भाई पटेल की यह मूर्ति दुनिया की सबसे बड़ी प्रतिमा बताई जा रही है. इसका उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया. हमेशा याद आएंगी ये बातें

  1. राहुल गांधी : राहुल गांधी को इसी साल कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया गया था और काफी संघर्ष के बाद उनके हिस्से जीत आई. कांग्रेस ने मध्य प्रदेश-छत्तीसगढ़ और राजस्थान में सरकार बनाई.
  2. नीरव मोदी-मेहुल चोकसी और विजय माल्या : बैंकों का करोड़ो रुपया लेकर भाग. कोर्ट ने भगोड़ा साबित कर दिया. मोदी सरकार विपक्ष के निशाने पर है. उस पर मिलीभगत का आरोप है. फिलहाल तीनों को वापस लाने की कोशिश हो रही है.
  3. योगी आदित्यनाथ : उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था की हालत ठीक नहीं है. एन्काउंटरों पर भी सवाल उठ रहे हैं लेकिन वह चर्चा में इसलिए थे कि क्योंकि उन्होंने इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज कर दिया. इस पर सोशल मीडिया में मजाक भी उड़ा.
  4. नितिन गडकरी : दिसंबर के महीने में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने चुनाव हारने के मामले सवाल उठा दिए. उन्होंने कहा कि सांसद और विधायक अगर चुनाव हारते हैं तो पार्टी अध्यक्ष की जिम्मेदारी होनी चाहिए.
  5. विराट कोहली : ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न में टेस्ट जीतते ही उन्होंने कई रिकॉर्ड भी बना लिए.
  6. अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल : राफेल मुद्दे् पर सुनवाई के दौरान केंद्र की ओर से दिए गए दस्तावेज में ग्रामर की गलती की वजह से खूब फजीहत हुई.
  7. जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक : पीडीपी, नेशनल कांन्फ्रेंस और पीडीपी मिलकर सरकार बनाने की कोशिश में थे. तभी मलिक ने विधानसभा भंग करने की घोषणा कर दी और कह दिया कि उन्हें सरकार बनाने की कोई चिट्ठी नहीं मिली है उनकी फैक्स मशीन खराब थी.
  8. उर्जित पटेल : आरबीआई के सरप्लस फंड और स्वयत्ता को लेकर केंद्र सरकार से हुए विवाद के बाद उर्जित पटेल ने गवर्नर के पद से इस्तीफा दे दिया.
  9. नवजोत सिंह सिद्धू : कभी कांग्रेस और गांधी परिवार को जमकर कोसने वाले सिद्धू इस साल कांग्रेस के नेता बन गए. उनका एक भाषण काफी चर्चा में रहा.
  10. ट्रेन-18 : इसी साल देश में सबसे तेज चलने वाली ट्रेन का ट्रॉयल शुरू हो गया है. इसकी स्पीड 180 किलोमीटर प्रतिघंटा है.
  11. पद्मावती से पद्मवत : दीपिका पादुकोण और रणबीर सिंह की फिल्म की वजह से राजस्थान सहित पूरे देश में हंगामा हुआ. बाद में इस फिल्म के कुछ द्श्यों में बदलाव करना पड़ा और साथ ही फिल्म का नाम पद्मावत रखना पड़ा.
  12. शादियां : ईशा अंबानी-आनंद पिरमल, सोनम कपूर-आनंद आहुजा, साइना नेहवारल-पी.कश्यप, कपिल शर्मा-गिन्नी की शादियां चर्चा में रहीं.
  13. तकरार : एक ओर जहां तेजस्वी यादव पीएम मोदी के खिलाफ महागठबंधन बनाने वकालत कर रहे हैं तो दूसरी ओर उनके भाई तेज प्रताप अपनी पत्नी ऐश्वर्या से तलाक की अर्जी दे डाली.
  14. एनआरसी : असम में एनआरसी के मुद्दे पर बीजेपी और विपक्ष के बीच जमकर बहस हुई.
  15. राफेल : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सहित पूरा विपक्ष राफेल को लेकर पीएम मोदी को घेरता रहा है. राहुल गांधी ने 'चौकीदार चोर है' का नारा दिया लेकिन दूसरी ओर सुप्रीम कोर्ट ने राफेल खरीद में घोटाला मानने से इनकार कर दिया.
  16. रोहिंग्या : म्यांमार से भागकर भारत आए रोहिंग्याओं का मुद्दा भी छाया रहा और इस मामले में भी जमकर राजनीति हुई.
  17. निधन : पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी, तमिनाडु के पूर्व सीएम एम. करुणानिधि, सोमनाथ चटर्जी, श्रीदेवी, मृणाल सेन
  18. कठुआ : जम्मू-कश्मीर के कठुआ में एक मासूम बच्ची के साथ रेप और हत्त्या की खबर ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया था. मामले की सुनवाई पठानकोट की अदालत में हो रही है.
  19. उन्नाव रेप कांड : उन्नाव में बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर के खिलाफ रेप का आरोप लगा है. इस घटना ने योगी सरकार की जमकर फजीहत कराई.
  20. विवेक तिवारी हत्याकांड : लखनऊ में एप्पल के एरिया मैनेजर की दो पुलिसकर्मियों ने गोली मारकर हत्या कर दी.
  21. बुलंदशहर : गोकशी के शक में हुई हिंसा में इन्सपेक्टर सुबोध कुमार सिंह की गोली माकर हत्या कर दी गई.
  22. बुराड़ी कांड : दिल्ली के बुराड़ी में एक ही परिवार के 11 लोगों की लाशें पाई गई थीं. इन लोगों ने तंत्रमंत्र के चक्कर में अपनी जान दे दी.

पोल : 2018 का सबसे पसंदीदा राजनेता कौन…?

टिप्पणियांSource Article

- Advertisement -