राकेश अस्थाना के खिलाफ मामले की जांच जल्द और निष्पक्ष होगी : सीबीआई

2
- Advertisement -

केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) मुख्यालय.

नई दिल्ली: सीबीआई ने कहा है कि विशेष निदेशक राकेश अस्थाना के खिलाफ रिश्वत मामले की जांच शीघ्रता और निष्पक्षता से की जाएगी. सीबीआई के प्रवक्ता ने कहा है कि अस्थाना के खिलाफ मामले की जांच कर रही टीम में विश्वसनीयता पर खरे उतरे अधिकारी गण शामिल हैं. एसपी सतीश डागर राकेश अस्थाना के केस की जांच के लिए नए जांच अधिकारी बनाए गए हैं.
सीबीआई ने एजेंसी के निदेशक आलोक वर्मा के ‘‘असहयोग'' पर केंद्रीय सतर्कता आयोग (सीवीसी) और सरकार के बयानों पर प्रतिक्रिया देने से इंकार किया.
सीबीआई के प्रवक्ता ने कहा कि सीबीआई दफ्तर में कुछ भी सील नहीं किया गया है. सीबीआई में काम सामान्य तौर पर हो रहा है. एजेंसी के नए निदेशक ने कहा है कि हमें एकजुट रहकर काम करना होगा. निष्पक्ष तौर पर काम करना होगा. जांच के लिए नई टीम बना दी गई है. नई टीम में सबसे अच्छे अधिकारी हैं. राकेश अस्थाना के मामले की एकजुट और निष्पक्ष होकर जांच होगी.
यह भी पढ़ें : आलोक वर्मा ने किया सरकार के सीबीआई के कामकाज में हस्तक्षेप की ओर इशारा, याचिका के 6 प्रमुख पॉइंट
सीबीआई के अंतरिम निदेशक बनाए गए एम नागेश्वर राव ने कल रात 12 बजे से पहले ही चार्ज ले लिया था. जिन केसों की जांच राकेश अस्थाना कर रहे थे (विजय माल्या आदि), उनकी जांच एसआईटी करती रहेगी.सीबीआई ने जानकारी दी कि कुल 13 तबादले हुए हैं. कुछ लोगों को बुलाया गया है कुछ लोगों को बाहर भेजा गया है.
यह भी पढ़ें : आलोक वर्मा ने सुप्रीम कोर्ट से क्यों कहा स्वतंत्र और स्वायत्त सीबीआई की जरूरत?
आलोक वर्मा के मामले पर सीबीआई ने कहा कि जो जांच है वो सीवीसी कर रहा है. हमे उसमें कुछ नहीं कहना है. सीबीआई में अब गुटबाज़ी की कोई जगह नहीं है. हमारी सबसे बड़ी कोशिश यही है कि लोगों का विश्वास सीबीआई पर बना रहे. हमारी कोशिश है कि हमारे अफ़सरों का “मोरल” बढ़ा रहे.
टिप्पणियांVIDEO : सीबीआई डायरेक्टर को पद से नहीं हटा सकती सरकार
इसी बीच राकेश अस्थाना के केस के नए इनवेस्टीगेशन आफीसर एसपी सतीश डागर बनाए गए हैं.
Source Article

- Advertisement -