योगी सरकार की मंत्री का विवादास्पद बयान, बोलीं- BSP में साहब दुनिया छोड़ गए, अब बीवी और गुलाम का राज

1
- Advertisement -

अनुपमा जायसवाल (Anupma Jaiswal) ने बसपा प्रमुख मायावती को ‘माया महाठगनी’ बताया है.

नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव (General Election 2019) जैसे-जैसे आगे बढ़ रहा है, नेताओं की बदजुबानी भी बढ़ती जा रही है. इस लिस्ट में नया नाम उत्तर प्रदेश की बेसिक शिक्षा मंत्री अनुपमा जायसवाल (Anupma Jaiswal) का जुड़ गया है. अनुपमा जायसवाल ने विपक्ष की तुलना जानवरों के झुंड से की और बीएसपी सुप्रीमो मायावती को लेकर भी आपत्तिजनक टिप्पणी की. बीजेपी की आईटी सेल द्वारा आयोजित 'साइबर योद्धा' सम्मेलन में अनुपमा जायसवाल (Anupma Jaiswal) ने सपा, बसपा और रालोद गठबंधन पर तीखा हमला बोलते हुए कहा कि जब कुत्ते, बिल्ली, ऊंट, खच्चर आदि एक घाट पर पानी पीने लगें तो समझ लो दूसरी तरफ शेर पानी पीने आ रहा है. अपने अस्तित्व के संकट को देखकर सभी विपक्षी पार्टियां एक हो रही हैं. जो कभी एक दूसरे को फूटी आंखों नहीं सुहाते थे, वे आज एक दूसरे के लिए वोट मांग रहे हैं.

VIDEO: आजम खान की एक और बदजुबानी, MP के विदिशा में पत्रकारों से कही यह बात…

- Advertisement -

अनुपमा जायसवाल (Anupma Jaiswal) ने बसपा प्रमुख मायावती को ‘माया महाठगनी' बताते हुए कहा कि व्यक्ति का 'नेचर' और 'सिग्नेचर' कभी नहीं बदलता. उन्होंने बसपा संस्थापक कांशीराम, पार्टी प्रमुख मायावती और उनके दल के नेताओं पर विवादित टिप्पणी करते हुए कहा 'आप सबने सुना होगा साहब, बीवी और गुलाम. उनकी पार्टी के मुखिया रहे साहब इस दुनिया को छोड़ चुके हैं. अब केवल बीवी और उसके गुलाम बचे हैं. अकेली बीवी कुर्सी पर बैठती है और गुलाम उसके सामने जमीन पर बैठते हैं. इस पार्टी को पिछले लोकसभा चुनाव में जीरो मिला था, इस बार अंडा मिलेगा'. अनुपमा जायसवाल ने मायावती पर तंज कसते हुए कहा कि देश में ऐसे भी नेता हैं जिनकी प्रधानमंत्री बनने की इच्छा तो है, लेकिन चुनाव नहीं लड़ेंगे क्योंकि उन्हें अपनी जीत का भरोसा नहीं है.

मेनका गांधी का पीलीभीत के लिए ABCD फार्मूला, कहा- 50 फीसदी से कम वोट आए तो…

उन्होंने कहा 'बहन जी (मायावती) ने पिछले दिनों एक सवाल किया था कि प्रदेश में भाजपा की सरकार ने दो साल में क्या काम किया? हम उसने पूछना चाहते हैं कि तुम चार बार प्रदेश की मुख्यमंत्री रही हो, तुमने क्या किया?' अनुपमा (Anupma Jaiswal) ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को भी घेरते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' योजना शुरू की है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी प्रधानमंत्री की इस योजना को आत्मसात करते हुए बेटी बचाने की नीति पर अमल करना शुरू कर दिया है. अनुपमा जायसवाल (Anupma Jaiswal) ने कहा कि जिसकी मां पार्टी की सुप्रीमो हो, भाई राष्ट्रीय अध्यक्ष हो और वह खुद राष्ट्रीय महासचिव हो, वह भी कहती है कि यदि पार्टी ने आदेश दिया तो मैं वाराणसी से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ चुनाव लडूंगी. इसके बाद पार्टी में और कौन बचता है, जिससे उन्हें पूछने की जरूरत है. प्रियंका की 'मैया, भैया और सैंयां' इन दिनों खतरे में हैं. (इनपुट-भाषा से भी)

टिप्पणियां

बीजेपी सांसद साक्षी महाराज की मतदाताओं को अजीब चेतावनी, कहा – अगर सन्‍यासी को वोट नहीं दिया तो…

VIDEO: जया प्रदा पर विवादित बयान को लेकर आज़म ख़ान के खिलाफ़ FIR दर्ज

Source Article