योगी कैबिनेट का पहला विस्तार: 6 कैबिनेट समेत 23 नए मंत्रियों ने ली शपथ, देखें लिस्ट

2
- Advertisement -

योगी कैबिनेट का पहला विस्तार

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के पहले मंत्रिमण्डल विस्तार के तहत बुधवार को 23 मंत्रियों को शपथ दिलायी गयी. राजभवन में आयोजित समारोह में राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने छह कैबिनेट मंत्रियों, छह राज्य मंत्रियों (स्वतंत्र प्रभार) और 11 राज्य मंत्रियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलायी. इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद थे. स्वतंत्र प्रभारी के राज्यमंत्रियों.. महेन्द्र सिंह (ग्राम्य विकास), सुरेश राणा (गन्ना), भूपेन्द्र सिंह चौधरी (पंचायती राज) और अनिल राजभर (खाद्य प्रसंस्करण) को प्रोन्नति देते हुए कैबिनेट मंत्री पद की शपथ दिलायी गयी. वहीं, भोगांव से विधायक राम नरेश अग्निहोत्री तथा घाटमपुर से विधायक कमला रानी वरुण को सीधे कैबिनेट में जगह दी गयी है.

सैफई मेडिकल कॉलेज में रैगिंग का तांडव : मुंडवा दिए 150 जूनियर डॉक्टरों के सिर

23 MLAs take oath as ministers in Uttar Pradesh Government, 6 of them as Cabinet Ministers, in the first Cabinet reshuffle of the present Government pic.twitter.com/IaUqWyt7oc

— ANI UP (@ANINewsUP) August 21, 2019

- Advertisement -

सूचना राज्यमंत्री डॉक्टर नीलकंठ तिवारी को भी प्रोन्नति दी गयी है. उन्हें स्वतंत्र प्रभार के राज्यमंत्री पद की शपथ दिलायी गयी. इसके अलावा कपिलदेव अग्रवाल, सतीश द्विवेदी, अशोक कटारिया, श्रीराम चौहान और रवीन्द्र जायसवाल जैसे नये चेहरों को भी स्वतंत्र प्रभार के राज्यमंत्री पद की शपथ दिलायी गयी. इसके अलावा अनिल शर्मा, महेश गुप्ता, आनन्द स्वरूप शुक्ला, विजय कश्यप, गिर्राज सिंह धर्मेश, लाखन सिंह राजपूत, नीलिमा कटियार, चौधरी उदयभान सिंह, चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय, रमाशंकर सिंह पटेल और अजित सिंह पाल को राज्यमंत्री बनाया गया है.

INX Media Case: चिदंबरम पर गिरफ्तारी की तलवार: SC से फौरी राहत नहीं, ED ने जारी किया लुकआउट नोटिस

राजभवन में पूर्वान्ह 11 बजे से शुरू होने वाले समारोह में मंत्रियों को शपथ दिलायी गई. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के शनिवार को राजभवन में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से मुलाकात और उसके एक दिन बाद राज्यपाल के दिल्ली में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से भेंट करने के बाद मंत्रिमंडल विस्तार बहुत जल्द होने की संभावनाएं प्रबल हो गई थीं. सूत्रों के मुताबिक मंत्रिमण्डल विस्तार सोमवार को होने की तैयारियां शुरू की गयी थीं, लेकिन सरकार की तरफ से इस सिलसिले में राजभवन को कोई निवेदन नहीं दिया गया था. योगी ने मार्च 2017 में मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी. उस वक्त उन्हें मिलाकर मंत्रिमण्डल में कुल 47 सदस्य थे.

टिप्पणियां

कश्मीर को लेकर पीएम मोदी और ट्रंप की बातचीत पर औवैसी का हमला, बोले- ट्रंप कोई चौधरी हैं क्या?

प्रदेश सरकार के तीन मंत्री एसपी सिंह बघेल आगरा लोकसभा सीट, रीता बहुगुणा जोशी इलाहाबाद सीट और सत्यदेव पचौरी कानपुर सीट से सांसद चुने जा चुके हैं. उनके इस्तीफा देने से ये मंत्री पद खाली हो गए हैं. वहीं भाजपा के सहयोगी दल सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर को पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री पद से बर्खास्त किए जाने के बाद मंत्रिमंडल में एक जगह और बन गई थी. इसके अलावा परिवहन मंत्री स्वतंत्र देव सिंह को प्रदेश भाजपा का अध्यक्ष बनाए जाने के बाद उनके स्थान पर भी किसी और मंत्री को चुना जाना था.

Source Article