मूर्तिकार राम वनजी सुतार को ‘भारत गौरव’ सम्मान से नवाजा गया

3
- Advertisement -

भारतीय जन संचार संघ और दिल्ली विश्वविद्यालय के हिन्दू कॉलेज के नारी विकास प्रकोष्ठ ने यह सम्मान दिया.

नई दिल्ली: वरिष्ठ संचारकर्मियों के संगठन भारतीय जन संचार संघ और दिल्ली विश्वविद्यालय के हिन्दू कॉलेज के नारी विकास प्रकोष्ठ ने विश्व की सबसे ऊंची प्रतिमा बनाने के लिए राम वनजी सुतार को ‘प्रो. (डॉ.) रामजीलाल जांगिड गौरव सम्मान' दिया हैं. युवाओं को संस्कार और नई दिशा देने के लिए उत्तराखंड रत्न साध्वी प्रज्ञा भारती को यही सम्मान मिला है. सम्मान समारोह लगभग 40 साल पहले देश में जन संचार की शिक्षा कई राज्यों में भारतीय भाषाओं में शुरू करने वाले प्रो.(डॉ.) रामजीलाल जांगिड के 80 वें जन्म दिवस के अवसर पर आयोजित किया गया था.
'देशाभिमान सम्मान' भारत और श्रीलंका में आयुर्वेद की पताका फहराने वाले डा. हीरालाल शर्मा को लगभग 150 पुस्तकें लिखने के लिए दिया गया. भारत सरकार के पूर्व सचिव डा. कमल टावरी आई.ए.एस.(रिटायर्ड) को 'कर्मयोगी सम्मान' दिया गया. वह गांव, गाय और गोबर को भारतीय अर्थव्यवस्था के आधार मानते हैं. 6 लोगों (हरियाणा सरकार के पूर्व मुख्य सचिव और लेखक राम सहाय वर्मा, आई.ए.एस.(रिटायर्ड), दिल्ली विश्वविद्यालय में 43 वर्ष राजनीति शास्त्र पढ़ने वाली डॉ॰ शारदा जैन, बिहार और झारखण्ड में 80 से अधिक कुष्ट रोग निवारण आश्रम खोलने वाले लेखक व पत्रकार डॉ. लक्ष्मी निधि, वरिष्ठ पत्रकार शेषनारायण सिंह, आकाशवाणी के वरिष्ठ संचार कर्मी डॉ. श्याम शर्मा और सम्मोहन चिकित्सा के विशेषज्ञ डॉ. रामप्रकाश शर्मा (मोदीपुरम) को जीवन पर्यन्त उपलब्धि सम्मान दिया गया.
अनिल सुतार को 25 देशों में प्रतिमाएं बनाने के लिए 'शिल्पाचार्य सम्मान' मिला. स्वास्थ्य के क्षेत्र में निष्ठापूर्वक काम करने के लिए स्त्री रोगों की चिकित्सक डॉ. रीता अग्रवाल (कोलकाता), हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. विवेक जांगिड (राम मनोहर लोहिया अस्पताल, नई दिल्ली) और डॉ. अरुण कुमार (बाल रोगों के चिकित्सक) को 'निष्ठावान चिकित्सक सम्मान' दिया गया.
टिप्पणियां शिक्षा के क्षेत्र में दौलतराम कालेज, दिल्ली की डॉ. अनिता गर्ग मंगला, एमिटी इंटरनेशनल स्कूल की प्राचार्या मीनू कंवर और सीआरपीएफ स्कूल, रोहिणी की प्राचार्या निधि चौधरी को भी सम्मानित किया गया.
मीडिया के क्षेत्र में विद्युत प्रकाश मौर्य (हिन्दुस्तान अखबार) को हिन्दी में 150 ब्लॉग लिखकर पर्यटन और शाकाहार को बढ़ावा देने के लिए सम्मान दिया गया. लगभग 31 वर्षों से जनसंचार के क्षेत्र में काम कर रहे जगदीश चंद्र को दिल्ली मेट्रो में काम आने वाले निर्देश तैयार करने के लिए सम्मानित किया गया. दैनिक जागरण के एसोसिएट संपादक संजय मिश्र को 'ऊर्जावान पत्रकार सम्मान' मिला. मासिक 'जान्ह्वी' के सह सम्पादक नरेश मिश्र भी सम्मानित किए गए. थेवा कला के विशेषज्ञ जगदीश राजसोनी (प्रतापगढ़, राजस्थान) को भी सम्मान मिला.
Source Article

- Advertisement -