महिला कांस्टेबल की मौत पर पुलिसकर्मियों का हंगामा, अधिकारियों पर लगाया प्रताड़ना का आरोप

3
- Advertisement -

घटना की तस्वीर

पटना: बिहार की राजधानी पटना में शुक्रवार को एक महिला पुलिसकर्मी की बीमारी से मौत के बाद पुलिसकर्मियों ने अधिकारियों पर प्रताड़ना का आरोप लगाते हुए पुलिस लाइन में जमकर हंगामा मचाया. इस दौरान आक्रोशित पुलिसकर्मी कानून को हाथ में लेकर सड़कों पर उतर गए और आसपास की दुकानों को जबरदस्ती बंद करवाया और आम लोगों की भी पिटाई की. पुलिस के अनुसार, पटना पुलिस लाइन में एक महिला पुलिसकर्मी की बीमारी के बाद मौत हो गई. इस पर पुलिस लाइन के सभी पुलिसकर्मी आक्रोशित हो गए. उन्होंने उच्च पदाधिकारियों पर मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए पुलिस लाइन में जमकर हंगामा किया. वहां खड़े सभी वाहनों में तोड़फोड़ की. हंगामा करने में कई महिला पुलिसकर्मी भी शामिल थीं.

Patna: Police personnel protest and create ruckus allegedly after an ailing woman constable passed away due to lack of treatment.Protesters claim the commandant did not grant her an adequate leave period to get treated.The commandant was injured after being thrashed by protesters pic.twitter.com/GtJbgN1owL

— ANI (@ANI) November 2, 2018

यूपी के पुलिस महकमे के लिए सोशल मीडिया पॉलिसी जारी की गई
प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, गुस्साए पुलिसकर्मियों ने नगर पुलिस अधीक्षक, पुलिस उपाधीक्षक और सार्जेट मेजर की भी पिटाई की. लाठी और डंडे से लैस पुलिसकर्मियों ने अधिकारियों को खदेड़ दिया है और गाड़ियों को तोड़ डाला है. इस दौरान मीडियाकर्मियों को भी निशाना बनाया गया. इसके बाद आक्रोशित पुलिसकर्मी सड़क पर उतर गए और हंगामा किया. आम लोग जब आक्रोशित हुए तब सभी पुलिसकर्मी पुलिस लाइन में लौट गए.
'वर्दी का गुरूर' दूर करने के लिए यूपी में सोमवार से सिपाहियों को बड़े अधिकारी देंगे ट्रेनिंग
इस दौरान दोनों ओर से पथराव हुआ. आक्रोशित पुलिसकर्मियों का आरोप है कि उन्हें छुट्टी तक नहीं दी जाती है. मृतका का भी छुट्टी न मिलने के कारण सही ढंग से इलाज नहीं हो पाया जिससे उनकी मौत हो गई. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि वरिष्ठ पुलिस अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए है. क्षेत्र में तनाव है लेकिन स्थिति नियंत्रण में है घटनास्थल पर पहुंचे पटना के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मनु महाराज ने कहा कि दोषियों पर उन पर कार्रवाई की जाएगी. पहली प्राथमिकता स्थिति को नियंत्रित करने की है.
टिप्पणियांविवेक तिवारी हत्याकांडः सोशल मीडिया में पुलिस पर निगरानी​
इनपुट : आईएनएस
Source Article

- Advertisement -