भारत माता की जय’ पर जंग : पीएम मोदी ने कहा- कांग्रेस की ओर से ‘फतवा’ आया है

2
- Advertisement -

राजस्थान विधानसभा चुनाव प्रचार अपने चरम पर

नई दिल्ल: राजस्थान के चुनावी रण में पीएम मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बीच 'भारत माता की जय' पर जंग छिड़ गई है. सीकर में चुनावी रैली में प्रधानमंत्री मोदी ने चुनावी रैली में कहा कि कांग्रेस की ओर से एक फतवा आया, मैं अपनी रैली की शुरुआत भारत माता की जय से न करूं. वे ऐसा करने से कैसे रोक सकते हैं. उनको ऐसी बातों पर शर्म आनी चाहिए. यह हमारी मातृभूमि का अपमान है.' पीएम मोदी ने आगे कहा कि 'इंडिया इज इंदिरा' से लेकर भारत माता जय की जगह 'सोनिया गांधी की जय', ये कांग्रेस पार्टी का चरित्र है. हम तो जियेंगे तो मां भारती के लिए और मरेंगे भी तो मां भारती के लिए. आपको बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अलवर में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि पीएम मोदी हर रैली में भारत माता की जय बोलते हैं, बजाए इसके उनको नीरव-मेहुल और ललित मोदी की जय बोलना चाहिए. राहुल ने कहा अगर वह भारत माता की जय बोलते हैं तो किसानों को कैसे भूल सकते हैं.

Congress has come up with a "fatwa" that I should not begin rallies with "Bharat Mata Ki Jai"… How can they deny this? They must be ashamed of even saying such a thing. This shows their disrespect for our Motherland: PM @narendramodi#भगवामय_राजस्थान

— BJP LIVE (@BJPLive) 4 December 2018

NDTV Exclusive : वसुंधरा राजे ने कहा- धर्म या नफरत नहीं, आम अपराध ही है लिंचिंग
राहुल गांधी की इसी बात पर पीएम मोदी ने सीकर की रैली में पलटवार किया है. मोदी ने कहा कि पाकिस्तान को तो पता चल गया कि सर्जिकल स्ट्राइक क्या होता है लेकिन भारत में बैठे पाकिस्तान के जन्मदाताओं को समझ नहीं आ रहा है. वन रैंक, वन पेंशन का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि जिसके लिए सेना के जवानों को कांग्रेस ने 40 साल इंतजार कराया हमने सत्ता में आते ही इसे लागू कर दिया. प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस पार्टी आए दिन हमारी सेना का अपमान करती है. सेना के लिए अभद्र भाषा का प्रयोग करती है, हमारे जवान सर्जिकल स्ट्राइक करके आए, पूरा देश जोश से भरा था लेकिन कांग्रेस पार्टी में ऐसा लग रहा था जैसे कोई शोक सभा चल रही है. जो पार्टी सेनाध्यक्ष को सड़क छाप गुंडा कहने वाले व्यक्ति को पार्टी का पदाधिकारी बना दे, ऐसी पार्टी पर क्या आप भरोसा कर सकते हैं.
पीएम नरेंद्र मोदी का निशाना: कांग्रेस नेताओं के पास विजन होता तो पाक के हिस्से में नहीं जाता करतारपुर
टिप्पणियां आपको बता दें कि राजस्थान में 7 दिसंबर को विधानसभा चुनाव को लेकर मतदान होगा और नतीजे 11 दिसंबर को आएंगे. बीजेपी को यहां पर अपनी सत्ता बचानी है तो कांग्रेस की पूरी कोशिश है कि बीजेपी को हराकर लोकसभा चुनाव से पहले पूरे देश को संदेश दे दिया जाए.
क्‍या राजस्‍थान में किला बचा पाएंगी वसुंधरा राजे?​
Source Article

- Advertisement -