बुलंदशहर हिंसा: समीक्षा बैठक में CM योगी का केवल गोकशी पर फोकस, इंस्पेक्टर की मौत पर एक शब्द भी नहीं

3
- Advertisement -

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ. (फाइल तस्वीर)

बुलंदशहर: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को बुलंदशहर में गोकशी के शक में हुई भीड़ की हिंसा पर समीक्षा बैठक की. सीएम योगी का समीक्षा बैठक में पूरा फोकस गोकशी पर रहा. इस दौरान उन्होंने हिंसा में मारे यूपी पुलिस के इस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह पर एक शब्द भी नहीं बोला. सीएम ने इस घटना पर मुख्य सचिव, डीजीपी, प्रमुख सचिव गृह, अपर पुलिस महानिदेशक इंटेलिजेंस के साथ बैठक की. बैठक के बाद एक प्रेस रिलीज जारी की गई, जिसमें इंस्पेक्टर का कहीं जिक्र नहीं था. न ही इसमें हिंसा और पुलिस सुरक्षा को लेकर किसी तरह की कोई बात कही गई है.
सीएम योगी ने बैठक में घटना की समीक्षा कर निर्देश दिए, 'इसकी गंभीरता से जांच की जाए और गोकशी में शामिल सभी लोगों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी. यह घटना एक बड़ा साजिश का हिस्सा है, इसलिए गोकशी के मामले में प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से शामिल सभी लोगों को समय पर गिरफ्तार किया जाए.'
बुलंदशहर में जब इंस्पेक्टर की हत्या के बाद थी अराजक स्थिति, CM योगी आदित्यनाथ गोरखपुर में ले रहे थे लाइट एंड साउंड शो का आनंद
इसके साथ ही उन्होंने हिंसा में मरने वाले युवक सुमित के परिवार वालों को मुख्यमंत्री राहत कोष से 10 लाख रुपए की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की. यह भी निर्देश दिया गया कि अभियान चलाकर माहौल खराब करने वाले तत्वों को बेनकाब करके उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए.
jtr8erpo
समीक्षा बैठक के बाद जारी की गई प्रेस रिलीज.
योगी सरकार के मंत्री बोले, बुलंदशहर की घटना प्रायोजित, वोट बैंक के लिए भड़काया गया दंगा
बुलंदशहर के एक गांव में खेतों में कथित रूप से गाय के अवशेष मिलने के बाद हिंसा भड़क गई थी. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर लोगों को समझाने की कोशिश की गई. लेकिन भीड़ नहीं मानी और ज्यादा उग्र हो गई. भीड़ ने पुलिस पर ही हमला कर दिया. पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की भीड़ के इस हमले में मौत हो गई. इसके अलावा एक सुमित नाम के युवक की भी इसमें मौत हो गई. इसके बाद पुलिस ने इस मामले में एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई कर दी है. पुलिस ने 27 लोगों को नामजद किया और 50-60 अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है. इसके साथ ही इस मामले में करीब चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है.
बुलंदशहर हिंसा: पूर्व प्रधान बोले- हम तो मान गए थे पर बजरंग दल वालों ने बरसाए पत्थर, सुनियोजित लगती है घटना
रणनीति: बुलंदशहर हिंसा, क्या सोची समझी साजिश?
संबंधित खबरें:
बुलंदशहर हिंसा: पूर्व प्रधान बोले- हम तो मान गए थे पर बजरंग दल वालों ने बरसाए पत्थर, सुनियोजित लगती है घटना
बुलंदशहर हिंसा: जिसके खेत में मिले थे गाय के अवेशष, उसने कहा- हम उन्हें गाड़ रहे थे पर भीड़ नहीं मानी
बुलंदशहर हिंसा इनसाइड स्टोरी: आखिर क्या हुआ था उस दिन कि हैवान भीड़ ने ले ली दो की जान
बुलंदशहर भीड़ हिंसा: 'हम पीछे हटते रहे, भीड़ 'मारो-मारो' के नारे के साथ करती रही हमला, ऐसे ले ली जांबाज इंस्पेक्टर की जान'
बुलंदशहर में गोकशी के नाम पर 'खूनी खेल', जांबाज इंस्पेक्टर का 'दादरी कनेक्शन', 10 प्वाइंट में जानें पूरी स्टोरी
बुलंदशहर भीड़ हिंसा अपडेट: पुलिस ऑफिसर की हत्या मामले में गोकशी का शिकायतकर्ता ही है मुख्य आरोपी
बुलंदशहर हिंसा : गोकशी को लेकर दर्ज एफआईआर में दो नाबालिगों के नाम
बुलंदशहर हिंसा : शहीद सुबोध कुमार की तस्वीर के साथ कुमार विश्वास ने ट्विटर पर लिखी कविता- 'अंधभक्तों जाग जाओ…'
टिप्पणियांशहीद इंस्पेक्टर की पत्नी ने कहा- पहले भी दो बार गोली से घायल हुए, बहन बोलीं- अखलाक केस की जांच और पुलिस की साजिश बनी वजह
बुलंदशहर हिंसा में जान गंवाने वाले इंस्पेक्टर सुबोध कुमार की पत्नी ने कहा, अगर उन्हें छुट्टी मिल गई होती तो…
Source Article

- Advertisement -