बुलंदशहर हिंसा : आईबी की रिपोर्ट के बाद स्याना थाने के सीओ और चौकी इंचार्ज का ट्रांसफर

0
- Advertisement -

बुलंदशहर हिंसा : मुख्य आरोपी अब तक गिरफ्त से बाहर है.

नई दिल्ली: बुलंदशहर हिंसा पर आई आईबी की रिपोर्ट के बाद स्याना इलाके के सीओ सत्य प्रकाश और चौकी इंचार्ज सुरेश कुमार का ट्रांसफर कर दिया गया है. निलंबित कर दिया गया है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक रिपोर्ट में पुलिस की भी लापरवाही की बात कही गई है. आईबी के एडीजी की ओर से सौंपी गई रिपोर्ट में कहा गया है कि बुलंदशहर में कथित गोकशी की खबर के बाद भारी विरोध शुरू हो गया था और उसी दौरान कुछ लोगों ने हिंसा भड़काने की साजिश रच डाली. स्थानीय पुलिस और प्रशासन की देरी की वजह से तनाव बढ़ता गया. इतना ही नहीं जिले के वरिष्ठ अधिकारी भी मौके पर नहीं पहुंचे जिसके बाद हालात और बिगड़ गए.
उत्तर प्रदेश में कोई मॉब लिंचिंग नहीं, बुलंदशहर की घटना एक 'दुर्घटना': योगी आदित्यनाथ
वहीं 100 नंबर पर तैनात पुलिस भी सूचना के बाद देर से पहुंची. स्थानीय खुफिया भी किसी तरह की साजिश भांपने में पूरी तरह से नाकाम साबित हुआ. इसके अलावा पर्याप्त पुलिस फोर्स की भी कमी थी. जबकि पुलिस की ओर से गोकशी करने वालों के खिलाफ एफआईआर का आश्वासन दिया गया था. इसके बाद भीड़ नियंत्रण से बाहर हो गई जिसमें इंस्पेक्टर सुबोध सिंह की हत्या कर दी गई.
बुलंदशहर हिंसा: इंस्पेक्टर की हत्या के आरोपी आर्मी जवान की मां बोली- अगर जीतू दोषी, तो खुद मार दूंगी गोली
टिप्पणियां गौरतलब है कि गोकशी के शक में भड़की हिंसा में इंस्पेक्टर सुबोध सिंह और एक स्थानीय युवक की जान चली गई थी. दोनों को किसी ने गोली मारी है. सुबोध को गोली मारने के पीछे जीतू फौजी नाम के एक आर्मी जवान पर शक जताया जा रहा है. उसको पकड़ने के लिए पुलिस की दो टीमें जम्मू-कश्मीर गई हैं. वहीं घटना का मुख्य आरोपी योगेश राज जिस पर हिंसा भड़काने का आरोप है, वह अभी तक गिरफ्त से बाहर है.
बुलंदशहर में इंस्पेक्टर की जान फौजी ने ली?​
Source Article

- Advertisement -