बिहार : सुशील मोदी ने सार्वजनिक रूप से नीतीश कुमार की तारीफ में कसीदे पढ़े

2
- Advertisement -

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी (फाइल फोटो).

पटना: बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के मंत्रिमंडल में सहयोगी होने के साथ उनके प्रशंसक भी हैं. हालांकि मोदी को इस बात का खामियाज़ा भी पार्टी में उठाना पड़ता है लेकिन मोदी नीतीश कुमार के कामकाज पर टिप्पणी करने की बात या मौका होता है तो बेबाक टिप्पणी करने से पीछे नहीं हटते.
मंगलवार को नीतीश कुमार के लोक सभा में दिए गए भाषणों पर केंद्रित एक किताब के विमोचन समारोह में मोदी ने कहा कि अगले बीस से पच्चीस साल तक शायद नीतीश कुमार के मुकाबले का कोई नेता नहीं मिले. मोदी का कहना था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरह नीतीश में भी निर्णय लेने का साहस है. उन्होंने इस सम्बंध में नीतीश कुमार के कई बड़े निर्णय गिनाए. इनमें महिलाओं को पंचायत में पचास प्रतिशत आरक्षण देने का मामला भी था. मोदी ने माना कि नीतीश ने जो लंबी रेखा खींची है उसे अगले 25 वर्षों तक पार करना मुश्किल होगा.
टिप्पणियां सुशील मोदी ने नीतीश कुमार की तारीफों के पुल बांधते हुए कहा कि अमूमन माना जाता है कि विकास से वोट नहीं मिलता लेकिन नीतीश ने इसे भी गलत साबित कर दिया है. मोदी ने रेल मंत्री के रूप में भी नीतीश के कामकाज की चर्चा की और कहा वहां भी उन्होंने एक से एक काम किए.
मोदी नीतीश के कामकाज करने के तरीकों से प्रभावित रहे हैं. इसके कारण उनके अपनी पार्टी के नेता उनकी आलोचना भी करते रहे हैं. लेकिन मोदी के करीबियों का कहना है कि मोदी जब विपक्ष में रहे तब उन्होंने सरकार की बखिया उधेड़ने में कोई कसर नहीं छोड़ रखी थी.
Source Article

- Advertisement -