बिहार में बीजेपी ने मुख्यमंत्री का अपहरण कर लिया : गुलाम नबी आजाद

3
- Advertisement -

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद (फाइल फोटो).

पटना: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने पटना में गुरुवार को कहा कि उन्होंने आज तक बिहार को छोड़कर कहीं दूसरी जगह मुख्यमंत्री का अपहरण होते नहीं देखा है. उन्होंने कहा कि बिहार में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का अपहरण कर लिया है.
पटना के गांधी मैदान में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) द्वारा आयोजित 'भाजपा हराओ-देश बचाओ' रैली में पहुंचे गुलाम नबी आजाद ने नोटबंदी को लेकर केंद्र सरकार पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि नोटबंदी सरकार का गलत फैसला था. आजाद ने कहा, "नोटबंदी और जीएसटी (वस्तु एवं सेवा कर) से देश में बेरोजगारों की संख्या में 35 लाख का इजाफा हो गया."
आजाद ने कहा कि इसी गांधी मैदान में बिहार विधानसभा चुनाव के पूर्व महागठबंधन की रैली में मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के रूप में नीतीश कुमार के नाम की घोषणा की गई थी, लेकिन उन्होंने अब पाला बदल लिया है. उन्होंने बीजेपी को सत्ता से दूर रखने के लिए विपक्षी दलों से एकजुट होने की अपील की. आजाद ने कहा, "भाजपा विरोधी सभी दलों को एक साथ आना चाहिए जिससे संविधान की रक्षा हो."
यह भी पढ़ें : सुशील मोदी की भविष्यवाणी: अगले 25 वर्षों तक नीतीश की खींची लकीर कोई पार नहीं कर सकता
इससे पहले वरिष्ठ नेता शरद यादव ने कहा कि आज लोकतंत्र खतरे में है. उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा. यादव ने कहा, "नीतीश कुमार ने जनता से विश्वासघात किया भाजपा के साथ मिलकर सरकार बनाई." उन्होंने कहा कि केंद्र में अगर दोबारा मोदी की सरकार बनी, तो भारत से लोकतंत्र का खात्मा हो जाएगा.
बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने देश में समान शिक्षा प्रणाली लागू करने की बात कही. उन्होंने कहा, "आज अल्पसंख्यकों और दलितों पर लगातर हमले हो रहे हैं."
टिप्पणियांVIDEO : शत्रुघ्न ने किया तेजस्वी का राज्याभिषेक
रैली में तकरीबन सभी विपक्षी दलों के नेता पहुंचे लेकिन प्रमुख विपक्षी दल राजद के नेता और पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने इस रैली से दूरी बनाए रखी.
(इनपुट आईएएनएस से)
Source Article

- Advertisement -