बिहार : नाबालिग लड़की से रेप मामले में शख्स को 10 साल की सजा और 25 हजार जुर्माना

3
- Advertisement -

प्रतीकात्मक फोटो

पूर्णिया:

बिहार के पूर्णिया जिले की एक अदालत ने वर्ष 2104 में एक नाबालिग लड़की से दुष्कर्म मामले में एक आरोपी को शनिवार को 10 साल के सश्रम कारावास और 25 हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनायी. अपर जिला जज के के सिंहा ने पूर्णिया जिला के जानकीनगर थाना क्षेत्र में एक नाबालिग लड़की के साथ दुष्कर्म के आरोपी जितेंद्र महतो को शनिवार को 10 वर्ष की सश्रम कारावास और 25 हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनायी. विशेष अभियोजक निर्मला रानी साह ने बताया कि पीड़िता नौवीं कक्षा की छात्रा थी और वारदात के एक साल पूर्व ही उसकी शादी हुई थी. उन्होंने बताया कि वारदात के एक महीना पहले पीड़िता अपने पति से इजाजत लेकर अपने मायके पढ़ने आई थी.

बलात्कार और सहमति से सेक्स के बीच साफ अंतर, लिव-इन पार्टनर से संबंध बनाना रेप नहीं : कोर्ट

- Advertisement -

साह ने बताया कि पीड़िता अपनी मां और अपने परिचित एवं अभियुक्त के साथ जानकीनगर स्कूल में नाम लिखवाने आई थी. उन्होंने बताया कि स्कूल से लौटने पर शाम हो जाने के कारण पीड़िता की मां अपने गांव जाने के लिए एक ग्रामीण की साइकिल पर सवार हो गयीं जबकि पीड़िता अभियुक्त की साइकिल पर बैठी थी. साह ने बताया कि अंधेरा होने के कारण अभियुक्त जानबूझकर पीछे रह गया और मौका पाकर झालारी घाट नहर के पास पीड़िता को साइकिल से गिरा कर दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया और फरार हो गया.

चंडीगढ़ : होटल में ब्रिटिश नागरिक के साथ रेप, स्पा में फुट मसाज कराने गई थी महिला

उन्होंने बताया कि पीड़िता ने किसी तरह अपने घर पहुंचकर वारदात के बारे में परिजन को बताया. इसके बाद 17 जून 2014 को इस मामले में जानकीनगर थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी

टिप्पणियां

VIDEO: हम लोग: बच्चियों से रेप पर सजा-ए- मौत क्या सही?

Source Article