बालाकोट एयरस्ट्राइक में जिन आतंकी कैंपों को किया गया था ध्वस्त वे फिर हुए सक्रिय, 129 आतंकी घुसपैठ की फिराक में : सूत्र

1
- Advertisement -

पुलवामा हमले के बाद भारतीय वायुसेना ने ऑपरेशन बालाकोट को अंजाम दिया था

नई दिल्ली:

भारत सरकार से जुड़े सूत्रों का कहना है कि पाकिस्तान के बालाकोट में हुई स्ट्राइक के बाद तबाह हो गए आतंकी कैंप एक बार फिर से वहां सक्रिय हो गए हैं. 129 आतंकी लॉन्च पैड पर घुसपैठ को तैयार बैठे हुए हैं. सूत्रों का कहना है कि 5 अगस्त के बाद 100 गुना घुसपैठ बढ़ गई है और इतना ही नहीं 45 दिनों में 60 आतंकियों ने की घुसपैठ की है. उसके पहले के 7 महीने में सिर्फ़ 35 घुसपैठ हुई थी. बताया जा रहा है कि इमरान खान के अमेरिका दौरे के दौरान इन आतंकी कैंपों को हटा लिया गया था. इन कैंपों में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों को ट्रेनिंग दी जा रही है. पहले भी इसी आतंकी संगठन के कैंप यहां चलाए जा रहे थे.

गौरतलब है कि इसी साल 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ एक काफिले पर आत्मघाती हमला हुआ था जिसमें 44 जवानों शहीद हो गए थे. लोकसभा चुनाव के ठीक पहले हुआ यह आतंकी हमला मोदी सरकार के लिए बड़ी चुनौती बन गया था. लेकिन 26 फरवरी को भारतीय वायुसेना के फाइटर प्लेन पाकिस्तान की सीमा में घुसकर बालाकोट में चल रहे आतंकी कैंपों को तबाह कर डाला था. हालांकि इस स्ट्राइक के बाद कई अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं ने दावा किया कि भारतीय वायुसेना की इस स्ट्राइक में कोई मारा नहीं गया है. लेकिन बाद में वायुसेना की ओर से की गई प्रेस कॉन्फ्रेंस में साफ कहा गया कि हमले के वक्त वहां पर 300 मोबाइल फोन सक्रिय थे. हालांकि वायुसेना की ओर से यह साफ नहीं किया गया कि वहां पर कितने आतंकवादी मारे गए हैं. वायुसेना का कहना था कि लाशें गिनना हमारा काम नहीं है.

पाकिस्तान ने पुंछ में दागा मोर्टार, भारतीय सेना ने किया नष्ट​

- Advertisement -

अन्य खबरें :

पाकिस्तान ने जम्मू-कश्मीर के पुंछ में दागा मोर्टार, भारतीय सेना ने ऐसे किया नष्ट, देखें- VIDEO

टिप्पणियां

पुलवामा के बाद पाक के साथ पारंपरिक युद्ध के लिये तैयार थी सेना: सूत्र

महिला वायुसेना अधिकारी ने कहा, अभिनंदन को पाकिस्तानी F-16 लड़ाकू विमान को मार गिराते हुए देखा

Source Article