बाढ़ से बचने के लिए महाराष्ट्र से दिल्ली आया परिवार, स्टेशन पर ही बच्ची का हो गया अपहरण

1
- Advertisement -

सीसीटीवी में बच्ची को अपहरण कर ले जाती हुई महिला

नई दिल्ली:

महाराष्ट्र में बाढ़ जैसे हालात से बचने के लिए एक दंपत्ति दिल्ली पहुंचा लेकिन उन्हें इस बात का अंदाज़ा नहीं था कि दिल्ली पहुंचने के बाद उनकी बच्ची का अपहरण हो जाएगा. बीते शुक्रवार रात को निज़ामुद्दीन रेलवे पुलिस को जानकारी मिली कि 2 साल की बच्ची गुम हो गयी है, इसके बाद पुलिस ने बच्ची को ढूंढने के लिए एक टीम बनाई और पूरे रेलवे स्टेशन बच्ची की तलाश शुरू की लेकिन बच्ची का कहीं पता नहीं चला जिसके बाद पुलिस ने प्लेटफार्म पर लगे सीसीटीवी की फ़ुटेज को खंगाले, जिसमें एक महिला बच्ची को गोद में ले जाती हुई नज़र आई और उस महिला के पीछे एक शख़्स भी नज़र आया.

बदमाशों ने सरेआम किया युवती का अपहरण, बचाने की जगह वीडियो बनाते रहे लोग

पुलिस ने जब इस बारे में पूछताछ की तो उस शख़्स की तस्वीर को प्लेटफॉर्म पर काम करने लोगों ने पहचान लिया. प्लेटफॉर्म पर काम करने वालों ने बताया कि ये शख़्स प्लेटफॉर्म पर काम करने वाला राजू है. जब पुलिस ने इस शख़्स की जानकारी निकाली तो पता चला कि राजू ग़ायब है. इसके बाद पुलिस का शक राजू पर और गहरा गया.

- Advertisement -

टिप्पणियां

11 साल की लड़की की बहादुरी: गायब हुई बच्ची को किडनैपर के घर से लेकर भागी, फिर हुआ कुछ ऐसा

पुलिस ने कार्रवाई करते हुए राजू को दिल्ली के नांगली इलाके से गिरफ़्तार कर लिया और उसकी निशानदेही पर पुलिस ने इस महिला को भी ग़ाज़ियाबाद से गिरफ़्तार कर लिया जो बच्ची को गोद में लेकर जाती हुई दिख रही थी. ये महिला राजू की पत्नी है. पूछताछ में इन दोनों पति-पत्नी ने बताया कि इनकी अपनी कोई सन्तान नहीं थी इसलिए बच्ची का अपहरण किया था. बच्ची के माता-पिता महाराष्ट्र के वासिम के रहने वाले है. पुलिस के मुताबिक वासिम ,महाराष्ट्र में बाढ़ जैसे हालत होने के कारण बच्ची और पत्नी के साथ दिल्ली में कुछ दिन रहने आये थे.

Source Article