फिलहाल BJP के अध्यक्ष बने रहेंगे अमित शाह : सूत्र

0
- Advertisement -

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह (फाइल फोटो)

नई दिल्ली :

गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) अभी कम से कम 6 महीने BJP अध्यक्ष बने रह सकते हैं. सूत्रों का कहना है कि इसी दौरान पार्टी के आंतरिक चुनाव होंगे. जानकारी के मुताबिक, बीजेपी तत्काल नए पार्टी अध्यक्ष का चुनाव करेगी या फिर इसे सांगठनिक चुनाव तक टाला जाएगा, इसका फैसला अगले कुछ दिनों में होने वाली पार्टी अध्यक्ष की बैठक में लिया जाएगा. बताया जा रहा है कि अमित शाह (Amit Shah) बृहस्पतिवार को सभी प्रदेश अध्यक्ष और महासचिव के साथ बैठक करेंगे. इसके साथ ही सांगठनिक चुनाव की प्रक्रिया भी शुरू होगी. इस बैठक में चुनाव की तारीखों और सदस्यता अभियान को लेकर भी चर्चा होगी. पार्टी के एक नेता ने बताया कि सांगठनिक चुनाव खत्म होने में कई महीने लग सकते हैं. ये अक्टूबर-नवंबर तक खिंच सकता है.

यूपी में बीजेपी के नए अध्यक्ष के नाम पर चर्चा तेज, एमपी में कांग्रेस कर रही आदिवासी नेता की तलाश

- Advertisement -

आपको बता दें कि हालिया लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 300 सीटों का आंकड़ा पार किया. इसका श्रेय पार्टी अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) की रणनीति और प्लानिंग को दिया गया. हालांकि अमित शाह के मोदी कैबिनेट में शामिल होने के बाद बीजेपी के नए अध्यक्ष को लेकर कयास शुरू हो गए. कहा जा रहा है कि गृह मंत्रालय मिलने के बाद उनके लिए दोनों जिम्मेदारियों को संभालना थोड़ा मुश्किल है. सूत्रों का कहना है कि आने वाले दिनों में हरियाणा, झारखंड और महाराष्ट्र जैसे महत्वपूर्ण राज्यों में चुनाव होने हैं. ऐसे में पार्टी नहीं चाहती है कि अमित शाह (Amit Shah)अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी छोड़ें.

मोदी और शाह- दो बाघ, एक पहाड़, राजनाथ कहां छूटे?

टिप्पणियां

आपको बता दें कि बीजेपी अध्यक्ष के तौर पर अमित शाह का तीन वर्षीय कार्यकाल इस साल की शुरुआत में खत्म हो गया था, लेकिन पार्टी ने उनसे चुनाव तक अपने पद पर बने रहने को कहा था. गौरतलब है कि बीजेपी के संविधान के मुताबिक पार्टी अध्यक्ष तीन और वर्षों तक अपने पद पर बना रह सकता है. सूत्रों का कहना है कि पार्टी के सांगठनिक चुनाव तक अमित शाह अपने पद पर बने रहेंगे या नहीं, इसका फैसला भी कल होने वाली मीटिंग में लिया जाएगा. आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने देशभर में शानदार प्रदर्शन किया और पार्टी ने अकेले 303 सीटों का आंकड़ा छुआ, जो बहुमत के लिए जरूरी जादुई आंकड़े से कहीं ज्यादा है. पार्टी ने इस बार पश्चिम बंगाल और ओडिशा में बेहतरीन प्रदर्शन किया.

VIDEO: अमित शाह ने बुलाई राज्य प्रभारियों की बैठक, आगामी चुनावों को लेकर बनेगी रणनीति

Source Article