प्रवीण तोगड़िया बोले- मोदी सरकार के साढ़े चार साल में 52 हजार किसानों ने की आत्महत्या

3
- Advertisement -

प्रवीण तोगड़िया की फाइल फोटो.

नई दिल्ली:

अतंरराष्ट्रीय हिंदू परिषद(विहिप) के अध्यक्ष प्रवीण तोगडिया ( Pravin Togadia) ने कहा कि नरेन्द्र मोदी सरकार ने राम मंदिर मामले में देश के हिन्दुओं का विश्वास तोड़ा है. उन्होंने कहा कि इसके साथ ही केंद्र सरकार ने किसानों और युवाओं के साथ भी छलावा किया है. जयपुर में संवाददाताओं से बातचीत में तोगडिया ने कहा, ''मोदी जी मंदिर नहीं बना सकते हैं तो इस्तीफा दे दें. हमें तो देश में राम, किसानों को फसलों का दाम और युवाओं को काम देने वाली सरकार चाहिए थी इसलिये लोगों ने वोट दिया था. देश को न तो राम मिले, न किसानों को दाम मिला और न ही युवाओं को काम मिला.''

यह भी पढ़ें- प्रवीण तोगड़िया ने भाजपा पर बोला हमला, कहा- सरकार भगवान राम के खिलाफ युद्ध छेड़े हुए है

उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत ने आज कहा कि देश में नई शिक्षा नीति तैयार है. आरएसएस सरकार से शिक्षा नीति तैयार करवा सकती है तो साढ़े चार वर्षों में आरएसएस ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से राम मंदिर कानून क्यों नहीं बनवाया. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साढ़े चार वर्षो के शासन में 52 हजार किसानों ने आत्महत्याएं की और किसानों पर 12 लाख करोड़ का कर्ज है. इसे दूर क्यों नहीं किया गया. उन्होंने कहा केन्द्र में बहुमत की सरकार होने बावजूद किये गये वादों को पूरा नहीं करने के लिए भाजपा को देश से माफी मांगनी चाहिए. तोगड़िया ने बताया कि उनकी राजनैतिक पार्टी की लांचिग फरवरी के प्रथम सप्ताह में दिल्ली में होगी. (इनपुट-भाषा)

- Advertisement -

टिप्पणियां

वीडियो- मेरे एनकाउंटर की साजिश रची जा रही है: प्रवीण तोगड़िया

Source Article