पोस्टर पर तेजस्वी यादव के साथ बलात्कार के आरोपी की तस्वीर को लेकर विवाद

2
- Advertisement -

तेजस्वी यादव (फाइल फोटो).

पटना: आरजेडी नेता तेजस्वी यादव की संविधान बचाओ यात्रा के दौरान उनके नवादा जिला पहुंचने से पहले वहां लगाए गए कुछ पोस्टरों को लेकर विवाद पैदा हो गया है. दरअसल, इन पोस्टरों में उन्हें स्थानीय विधायक राज वल्लभ यादव के साथ दिखाया गया है जो एक नाबालिग लड़की से बलात्कार के आरोप में जेल में कैद हैं.
बिहार विधान परिषद सदस्य और जेडीयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने आरजेडी उपाध्यक्ष और तेजस्वी की मां राबड़ी देवी के नाम खुला पत्र लिखते हुए उनसे पूछा है ‘क्या दुष्कर्म के आरोपी को राजनीतिक सम्मान जरूरी है?' कुमार ने कहा है कि उन्होंने राबड़ी से कहा कि वह एक महिला ही नहीं, एक मां और पत्नी होने के साथ – साथ बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री भी हैं. ‘‘आप जहां एक महिला का दर्द समझती होंगी, वहीं राजनीति की बारीकियों से भी परिचित होंगी. ऐसी परिस्थिति में क्या दुष्कर्म के आरोपी को राजनीतिक सम्मान दिया जाना जरूरी है?''
यह भी पढ़ें : बीजेपी नेता गिरिराज सिंह बोले- राम मंदिर के मुद्दे पर अगर हिंदुओं का सब्र टूटा तो, तेजस्वी ने ऐसे दिया जवाब
तेजस्वी यादव ने राजवल्लभ प्रसाद वाले पोस्टर पर सफाई देते हुए कहा कि कार्यकर्ताओं ने उत्साह में अगर कोई पोस्टर लगा दिया है तो मैं उसे उतार नहीं सकता. नवादा में पत्रकारों से बातचीत करते हुए तेजस्वी ने कहा कि राजवल्लभ प्रसाद पर आरोप लगा है. कोर्ट में मामला चल रहा है.
टिप्पणियांVIDEO : तेजस्वी से मिले कुशवाहा, फिर सफाई दी
सिवान यात्रा के क्रम में तेजस्वी के अपनी पार्टी के पूर्व सांसद एवं मोहम्मद शहाबुद्दीन (वर्तमान में दिल्ली के तिहाड़ जेल में बंद हैं) के घर जाकर उनके परिवार के सदस्यों से मिलने पर उप मुख्यमंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने भी उन्हें आड़े हाथों लिया. सुशील ने कहा कि कथित न्याय यात्रा के दौरान तेजस्वी यादव ने तिहरे हत्याकांड के गुनहगार शहाबुद्दीन के परिवार से भेंट की. उस पीड़ित पिता से नहीं मिले, जिसके जवान बेटे की हत्या कर दी गई थी.
(इनपुट भाषा से)
Source Article

- Advertisement -