पुलवामा हमले पर सेना बोली- 100 घंटे के भीतर घाटी में जैश का खात्मा, अब जो बंदूक उठाएगा, मारा जाएगा

2
- Advertisement -

पुलवामा आतंकी हमले पर सेना की प्रेस कॉन्फ्रेंस

नई दिल्ली:

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा(Pulwama) में हुए आतंकी हमले के बाद से ही देश में गुस्से का माहौल है. इस बीच मंगलवार को सेना, सीआरपीएफ और जम्मू-कश्मीर पुलि ने पुलवामा हमले पर संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस की और शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि दी. श्रीनगर में सुरक्षाबलों ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि जैश-ए-मोहम्मद पाकिस्तानी सेना का ही बच्चा है और पाकिस्तानी सेना का इस हमले में पूरा-पूरा हाथ है. उन्होंने सख्त हिदायत देते हुए कहा कि घाटी में अगर आतंकी सरेंडर नहीं करते हैं तो वे सभी मारे जाएंगे. बता दें कि 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे.

पुलवामा अटैकः कांग्रेस का पीएम मोदी पर हमला- सुरक्षा खामियों के चलते हुई घटना, वादा करें-पाक जाकर झप्पी नहीं डालेंगे

- Advertisement -

सेना ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान आतंकी बने युवाओं के माता पिता से अपील भी की कि आतंकी बने अपने बच्चों से सरेंडर करने को कहें. साथ ही आम लोग एनकाउंटर की जगह से दूर रहें. सेना ने स्पष्ट तौर पर कहा कि पुलवामा आतंकी हमले में पूरी तरह से पाकिस्तान और आईएसआई का हाथ था और इसमें कोई दोराय नहीं की पाकिस्तानी सेना इनकी पूरी मदद करती है. सेना ने सोमवार के एनकाउंटर को लेकर कहा कि कल तीन आतंकवादी मारे गए थे. वहीं सेना ने कहा कि आतंकियों की भूमिका की जांच जारी रहेगी.

राजस्थान: पाकिस्तानी नागरिकों को 48 घंटे में बीकानेर से बाहर जाने का आदेश, DM बोले- हो सकता है गंभीर खतरा

सेना, सीआरपीएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस ने संयुक्त प्रेस वार्ता की और इस दौरान उन्होंने कहा कि हमने सौ घंटे के भीतर घाटी से जैश-ए-मोहम्मद का खात्मा कर दिया है. अगर, कोई भी जो बंदूक उठाएगा, वह मारा जाएगा. सुरक्षाबलों ने कहा कि हमारी सरेंडर पॉलिसी काफी बेहतर है, इसलिए यही सही रास्ता होगा, जिनके बच्चे रास्ता भटक गए हैं. अगर कोई सरेंडर नहीं करता है तो हम बंदूक उठाने वाले को मार देंगे.

पुलवामा हमले के बाद केंद्र का राज्यों को निर्देश: कश्मीरी लोगों और छात्रों की सुरक्षा सुनिश्चित करें

प्रेस वार्ता के दौरान CRPF के IGP ज़ुल्फिकार हसन ने कहा, "पुलवामा हमले के बाद हमारी हेल्पलाइन 14411 देशभर में कश्मीरियों की मदद कर रही है… बहुत-से कश्मीरी विद्यार्थियों ने हेल्पलाइन से संपर्क किया है…"

Zulfiquar Hasan, CRPF: Our helpline-14411 has been helping Kashmiris across the country in wake of this attack.Lot of Kashmiri students have approached this helpline for help all over the country. All Kashmiri children studying outside have been taken care of by security forces. pic.twitter.com/YVfeziJiG9

— ANI (@ANI) February 19, 2019

वहीं, कश्मीर के IGP एसपी पाणि ने कहा कि (आतंकी गुटों में) भर्तियों में खासी गिरावट आई है… हमने पिछले तीन महीनों में कोई नई भर्ती नहीं देखी. इसमें परिवारों की महती भूमिका रही है. आतंकी गुटों की भर्तियों में जो कमी आई है, उसमें स्थानीय लोगों और परिवारों का बहुत बड़ा हाथ है.

पुलवामा में पत्थरबाजी के बीच हुआ मास्टरमाइंड कमरान गाजी का एनकाउंटर, 18 घंटे चली मुठभेड़, 10 बड़ी बातें

IGP Kashmir SP Pani: There is a significant dip in recruitment, we have not see any recruitment in the last three months. The families are playing a huge role in this. We would like to urge the families and the community in curtailing recruitment. #PulwamaAttackpic.twitter.com/MtLBa0RSHB

— ANI (@ANI) February 19, 2019

भारतीय सेना की चिनार कॉर्प्स के कॉर्प्स कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल केएस ढिल्लों ने पुलवामा आतंकवादी हमले के बारे में कहा कि "हमारे पास हमले में इस्तेमाल किए गए विस्फोटकों के बारे में सुराग हैं, लेकिन तफ्तीश जारी होने की वजह से विस्तार से नहीं बताया जा सकता."

KJS Dhillon, Corps Commander of Chinar Corps, Indian Army on Pulwama terrorist attack: We have leads on the type of explosives used but I can't share the details as an investigation is underway pic.twitter.com/jaV0RIAxFO

— ANI (@ANI) February 19, 2019

टिप्पणियां

गौरतलब है कि गुरुवार को सीआरपीएफ का काफिला जम्मू से श्रीनगर जा रहा था. इस काफिले में करीब 78 गाड़ियां थीं और 2500 जवान शामिल थे. उसी दौरान बाईं ओर से ओवरटेक कर विस्फोटक से लदी एक कार आई और उसने सीआरपीएफ की बस में टक्कर मार दी. आतंकवादी ने जिस कार से टक्कर मारी थी, उसमें करीब 60 किलो विस्फोटक थे. इसकी वजह से विस्फोट इतना घातक हुआ कि इसमें 40 जवान शहीद हो गए. इस घटना पर पीएम मोदी ने सीधे तौर पर कहा है कि आतंकी बहुत बड़ी गलती कर चुके हैं और अब उन्हें इसका अंजाम भी भूगतना होगा.

VIDEO: पुलवामा हमले का मास्टरमाइंड ढेर

Source Article