पाकिस्तान में पहली बार दिया गया ट्रांसजेंडर को ड्राइविंग लाइसेंस, पुलिस की हो रही जमकर तारीफ

1
- Advertisement -

Pakistan की ट्रैफिक पुलिस ने देश के इतिहास में पहली बार ट्रांसजेंडर को ड्राइविंग लाइसेंस उपलब्ध कराया है. 'डॉन' की मंगलवार की रिपोर्ट के अनुसार, इस्लामाबाद ट्रैफिक पुलिस (आईटीपी) ने सोमवार को लैला अली को इस्लामाबाद पुलिस प्रमुख के विशेष निर्देशों के तहत लाइसेंस उपलब्ध कराया. इस्लामाबाद पुलिस प्रमुख ने कहा कि वह एक दशक से बिना किसी लाइसेंस के गाड़ी चला रही थीं. ट्रांसजेंडर का नाम लैला अली है. ड्राइविंग लाइसेंस में उनका नाम मोहम्मद अली दिया गया है.
पाक आर्मी चीफ से गले मिलने पर सिद्धू ने फिर दी सफाई, 'सिर्फ झप्पी थी, राफेल डील नहीं की'
s3am844g

पुलिस प्रमुख ने बताया कि वो पिछली रात आई थीं और ट्रांसजेंडर की जुड़ी समस्याएं बताईं. ट्रांसजेंडर को काफी प्रताड़ित किया जाता है. लैला ने पुलिस को बताया कि एक ट्रांसजेंडर पर पुलिस ने झूठा केस बनाया और उसे गिरफ्तार कर लिया गया. पुलिस प्रमुख अब इस समस्या को सुलझाने की कोशिश में है.
लियोनेल मेस्सी ने हैरतअंगेज अंदाज में उछलकर छीनी गेंद, देखते रह गए बाकी खिलाड़ी, देखें VIDEO

बातों-बातों में लैला ने बताया कि उनके पास कार है और पिछले 10 साल से बिना लाइंसेंस के ड्राइविंग कर रही हैं. पुलिस चीफ ने सभी परेशानियां सुनीं और उनको सुलझाने का वादा किया और उनके लिए ड्राइविंग लाइंसेंस बनवाया. जब पुलिस प्रमुख ने पूछा कि उन्होंने अब तक ड्राइविंग लाइसेंस क्यों नहीं बनवाया तो लैला ने कहा- मैंने रावलपिंडी पुलिस से दर्खास्त की थी. लेकिन उन्होंने ठीक से रिस्पॉन्स नहीं दिया.
टिप्पणियांपायलट की एक चूक से ग्लाइडर पर फंसी शख्स की जान, एक हाथ से लटका रहा, देखें VIDEO
2u557c5g
लैला ने कहा कि चर्चा के दौरान पुलिस प्रमुख ने यह आश्वासन दिया कि ट्रांसजेंडर समुदाय की परेशानियों पर गौर किया जाएगा. वर्तमान में पाकिस्तान में लगभग 500,000 ट्रांसजेंडर रह रहे हैं. मई में पाकिस्तान की संसद ने ट्रांसजेंडर पर्सन्स एक्ट पारित किया था, जिसमें इन लोगों की सुरक्षा और अधिकारों का प्रावधान है.
Source Article

- Advertisement -