पाइपलाइन से गैस लीक होकर सीवर में जा मिली, फिर बाथरूम में हुआ जोरदार धमाका और…

1
- Advertisement -

गैस लीक होकर सीवर में जा मिली, जिसके बाद धमाका हुआ.

नई दिल्ली : गुरुग्राम में एक ऐसा हादसा हुआ जिसकी उम्मीद नहीं की जा सकती. यहां के सेक्टर 15 में घरेलू गैस पाइप लाइन से गैस लीक हुई और फिर सीवर में जा घुसी. सीवर से गैस घरों में पहुंच गयी और फिर एक घर के बाथरूम में तेज धमाका हुआ. इस धमाके की चपेट में घर के मालिक आ गए और अब वह ज़िन्दगी और मौत से जूझ रहे हैं. गुरुग्राम के सेक्टर 15 पार्ट 2 इलाके रहने वाले मोहित खंडेलवाल 19 नवंबर की देर रात जब वाशरूम गए और एक्जॉस्ट फैन ऑन किया तो वॉशरूम के अंदर तेज धमाका हुआ. अचानक आग की लपटों से घिरे मोहित किसी तरह जलते हुए गेट खोलकर बाहर भागे और परिवार की मदद से आग बुझाई, लेकिन तब तक मोहित करीब 60 फीसदी जल चुके थे. धमाका ऐसा था कि बाथरूम को ज्यादा नुकसान तो नहीं हुआ लेकिन यहां मौजूद हर तरह का प्लास्टिक बुरी तरह पिघल गया. यही नहीं घर के आसपास के पेड़ भी झुलस गए. मोहित की पत्नी अंशिका खंडेलवाल के मुताबिक "एकदम से तेज बलास्ट हुआ. मैंने पर्दा खोला तो पेड़ जलता हुआ मिला मुझे समझ नहीं आया कि क्या हुआ. इसके बाद मोहित जलते हुए बाहर आये और फिर हमने किसी तरह आग बुझाई".
2008 मालेगांव ब्लास्ट: कर्नल पुरोहित को नहीं मिली राहत, सुप्रीम कोर्ट ने ट्रायल पर रोक लगाने से किया इनकार
अंशिका के मुताबिक पहले तो किसी को समझ नहीं आया कि आखिर धमाके की वजह क्या है, लेकिन अगले दिन जब स्थानीय लोगों ने जांच की और सीवर का ढक्कन खोला तो एक तेज गैस निकल रही रही थी. घर के सीवर की हवा निकालने के लिए घर की छत में लगे पाइपों में भी गैस निकल रही थी,लोगों के मुताबिक तब समझ में आया कि घर के बाहर जो घरेलू गैस की पाइप लाइन है वो कहीं लीक होकर सीवर में जा रही है जिससे ये तेज धमाका हुआ. मोहित की पत्नी के मुताबिक उन्हें 2-3 दिन से इसकी स्मेल आ रही थी, लेकिन उन्हें लगा कि शायद बढ़ते प्रदूषण की वजह से ऐसा हो रहा है. मोहित के पड़ोसी भी इस हादसे से डरे हुए हैं, क्योंकि ये गैस पाइप लाइन इस इलाके के हर घर में है. सभी को लगता है कि आगे उनके यहां ऐसा हादसा न हो जाये. पड़ोसी राजेन्द्र प्रसाद बरोनिया के मुताबिक उन्हें पता नहीं था कि वो इस गैस पाइप लाइन लगवाकर एक छोटे ज्वालामुखी को दावत दे रहे हैं. उनके मुताबिक गैस सीवर के अंदर कहां से लीक कर रही थी ये तो बाद में डिटेक्ट हुआ है और उसकी वजह से जहां पैसेज मिल रहा वहां जा रही है. हमारे घर के पास भी स्मेल आने लगी थी.
पंजाब में AAP नेता एचएस फुल्का का बयान- अमृतसर ब्लास्ट के पीछे हो सकते हैं सेना प्रमुख बिपिन रावत
टिप्पणियां हादसे के बाद गैस कंपनी के लोगों ने ज़मीन खोदकर गैस लीकेज कर रहा पाइप ठीक किया जो बिल्कुल सीवर से सटा हुआ था. पड़ोसी वैभव का कहना है कि अगर गैस लीक हो रही थी तो क्या इस तरह का इंतज़ाम नहीं होता कि तुरंत पता चल जाये गैस कहां से लीक हो रही है. दुनिया कहां जा रही है और हमारी ऑथोरिटी जिसने इस पाइप लाइन को बड़े प्रोफेशनल तरीके से डाला है वो ये भी पता नहीं कर सकी कि गैस लीक हो रही है. मोहित की पत्नी की शिकायत पर गुरुग्राम पुलिस ने घरेलू गैस लाइन बिछाने वाली कंपनी एचजीसी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है. कंपनी ने पुलिस को बताया वहां एक टेलीकॉम कंपनी के लोगों ने कुछ दिन पहले खुदाई की जिसकी वजह से उनका पाइप फट गया और गैस लीक होने लगी. सिविल लाइन्स के एसीपी शमशेर सिंह के मुताबिक "हमने एचसीजी कंपनी के खिलाफ आईपीसी 337 के तहत केस दर्ज कर लिया है ,फोरेंसिक रिपोर्ट का इंतज़ार है ,जांच जारी है"
ubmi8figधमाके के बाद बाथरूम की खिड़कियां आदि टूट गईं.
वहीं हरियाणा एलपीजी एसोसिएशन के अध्यक्ष भरत यादव के मुताबिक "जो डोमेस्टिक गैस पाइप लाइन होती है उसमें मीथेन गैस होती है और सीवर में भी मीथेन होती है. जब ये ज्यादा मात्रा में हो गयी तो फिर ब्लास्ट हो गया,हालांकि इसका पता इसलिए नहीं चला होगा क्योंकि इसमें स्मेल बहुत कम होती है. इसलिए पता नहीं चल पाता, जबकि जो एलपीजी गैस होती है उसमें प्रोपेन और ब्यूटेन गैस गैस होती है. जिसमें स्मेल होती है इसलिये उसके लीकेज की पता चल जाता है". इधर मोहित की हालत नाजुक बनी हुई है. उनके खाने की नली को और वोकल कॉर्ड में ज्यादा नुकसान हुआ है. मोहित ने हाल ही में स्क्रेप कारोबार से जुड़ी एक फैक्ट्री शुरू की थी. उनके 2 छोटे बच्चे भी है. 4 लोगों के परिवार में वह अकेले कमाने वाले हैं. परिवार के मुताबिक जिस कंपनी की लापरवाही है वो भी इलाज़ के आगे नहीं आ रही. मोहित के करीबी दोस्त अक्षय के मुताबिक इस घटना के बाद पड़ोसियों ने हेल्प की, लेकिन लोकल ऑथोरिटी लोकल आरडब्लूए, लोकल पार्षद या नेता आज तक मदद करने नहीं आया.
Source Article

- Advertisement -