पनामा पेपर्स के बयान पर फंसे राहुल गांधी तो बोले- बीजेपी में इतना भ्रष्टाचार कि कन्फ्यूज हो गया

3
- Advertisement -

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की फाइल फोटो.

नई दिल्ली: मध्य प्रदेश में इंदौर में रोड शो के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के परिवार पर भ्रष्टाचार को लेकर गंभीर आरोप लगाए थे. बेटे का नाम पनामा पेपर्स में आने की बात कह दी थी. जिस पर शिवराज सिंह चौहान के बेटे ने उन पर मंगलवार को मानहानि का केस कर दिया. अब अपने बयान पर बैकफुट में आए राहुल गांधी ने कहा कि उन्होंने कन्फ्यूजन में पनामा पेपर्स की बात कह दी थी. राहुल गांधी ने कहा-"बीजेपी में इतना भ्रष्टाचार है कि मैं कल कन्फ्यूज हो गया था. मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री ने पनामा नहीं किया, उन्होंने तो ई टेंडरिंग और व्यापम घोटाला किया है." यह बातें राहुल गांधी ने अपने उस बयान के संदर्भ में कही, जिसमें उन्होंने इंदौर रैली के दौरान शिवराज सिंह चौहान के बेटे का नाम पनामा पेपर्स में आने की बात कही थी. जिसके बाद शिवराज सिंह चौहान के बेटे कार्तिकेय चौहान ने मंगलवार को भोपाल अदालत में राहुल गांधी के खिलाफ मानहानि का परिवाद दायर किया.
. न्यायाधीश सुरेश सिंह की कोर्ट में कार्तिकेय सिंह चौहान की और से अधिवक्ता शिरीष श्रीवास्तव ने राहुल गांधी के विरुद्ध मानहानि का परिवाद पेश किया.न्यायाधीश ने गवाही के लिए तीन नवंबर सुबह 11 बजे का दिया समय. अब इस मामले में कार्तिकेय की गवाही होगी. अधिवक्ता ने सबूत के तौर पर अखबार की कटिंग और टीवी न्यूज का हवाला दिया.

#WATCH BJP mein itna brashtachaar hai ki main kal confuse ho gaya tha. Madhya Pradesh ke CM ne Panama nahi kiya unhone to e tendering aur vyapam scam kiye hain: Rahul Gandhi on his earlier remark that MP CM's son was named in Panama papers. #MadhyaPradeshpic.twitter.com/HOapxZfw6M

— ANI (@ANI) October 30, 2018

क्या बोले शिवराज सिंह चौहान
इस पूरे मामले में शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कांग्रेस के प्रदेश के नेता मेरी वजह से परेशान है रोज मुझपर झूठे आरोप लगाते है . गली का नेता आरोप लगाता तो अलग बात थी. कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी का बिना सोचे समझे या सोच समझकर आरोप लगाना गलत है. राजनीति में इतने घटिया स्तर पर नही उतरना चाहिए. मेरे विरोध में कांग्रेस अंधी हो गयी है .हमने तो मानहानि तय किया है. माफी मांगेगे तो विचार करेंगे. शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि राहुल खुद कन्फ्यूज्ड हैं. वो माफी मांगे तब सोचेंगे . मेरा बेटा तो पॉलटिक्स में नही है फिर उसका नाम क्यों लिया. कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि राहुल गांधी माफी नहीं मागें तो क़ानूनी कार्रवाई के लिए तैयर रहें.
बीजेपी की सरकार बनेगी.
टिप्पणियांवीडियो- शिवराज पर बरसे 'कम्प्यूटर बाबा'
Source Article

- Advertisement -