पंजाब से नहीं, अब जम्‍मू-कश्‍मीर से देश में आ रही है हेरोइन की खेप…

2
- Advertisement -

सीज गई ड्रग्स

नई दिल्ली: पंजाब से नहीं अब जम्मू कश्मीर से अफगानी हिरोइन देश में आ रही है. बीते दो महीने में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने जम्मू-कश्मीर से करीब 160 किलो हेरोइन पकड़ी है जिसकी अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में कीमत 4 अरब 40 करोड़ रुपए बताई जा रही है. कश्मीर के कुपवाड़ा से चले सेबों से भरे ट्रक को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की टीम ने जब रोका तो वो हैरान रह गई. जिन लकड़ी की पेटियों में सेब होने चाहिए उनमें से एक नहीं दो नहीं दर्जनों हेरोइन ड्रग्स से भरे सील बंद पैकेट निकलने लगे. ये अफगानी हेरोइन है जिसकी इंटरनेशनल मार्केट में कीमत चार करोड़ रुपए प्रति किलो होती है. नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरों की इस रेड में तीन सेबों की पेटियों से साठ करोड़ रुपए की हेरोइन जब्त हुई जिसकी डिलीवरी दिल्ली के आजादपुर मंडी में होनी थी.
यह भी पढ़ें: दिल्ली में बड़ी कार्रवाई, हेरोइन बनाने में इस्तेमाल होने वाला 9650 लीटर ड्रग्स बरामद
कश्मीर से रोज़ाना सैकड़ों सेब से भरे ट्रक दिल्ली आते हैं. इस ड्रग्स को खोजना आसान नहीं था. नारकोटिक्स कंट्रोल को पहले जानकारी मिली कि सेब के ट्रक में हेरोइन की बड़ी खेप दिल्ली आ रही है. लेकिन इस जानकारी पर हेरोइन को खोजना भूसे के ढेर से सुई खोजने के बराबर थी. लेकिन तभी जानकारी मिली कि इन पेटियों में खास तरह के स्टार के निशान बने हैं. इसके बाद नारकोटिक्स ने बड़ी बरामदगी की.पंजाब में बीएसएफ की चार अतिरिक्त बटालियन लगने और नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरों की सतर्कता के चलते अब हेरोइन की तस्करी का दूसरा रास्ता खोजा गया है.
टिप्पणियां यह भी पढ़ें: दिल्‍ली पुलिस के हत्‍थे चढ़े दो ड्रग्‍स तस्‍कर, 12 क्विंटल पॉपी स्ट्रॉ ड्रग्स बरामद
जानकार बताते हैं कि अफगानिस्‍तान से हिरेइन पाकिस्तान के मुजफ्फराबाद लाई जाती है . फिर ये कश्मीर के उरी सेंटर या LOC में पड़ती नदी पार करके कुपवाड़ा पहुंचती है. यहां से कुपवाड़ा, हंदवाड़ा और बारामूला सेंटर पर आती है फिर सेबों की पेटियों के जरिए पंजाब और दिल्ली पहुंचाई जाती है. यहां इंडियन और अफ्रीकन ड्रग्स रिसीवर को सप्लाई होती है. हाल फिलहाल में सुरक्षा एजेंसियों ने आशंका जाहिर की है कि ड्रग्स के कारोबार से कमाया पैसा आतंकी घटनाओं को अंजाम देने में भी होता है. इसीलिए ड्रग्स के सौदागरों की धरपकड़ में भी तेजी आई है.
Source Article

- Advertisement -