नीरव मोदी की गिरफ्तारी पर शुरू हुआ सियासी वार-पलटवार, कांग्रेस ने कहा चुनाव की वजह से हुआ ऐसा

0
- Advertisement -

नीरव मोदी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

पीएनबी घोटाले का मुख्य आरोपी और भगोड़ा हीरा कारोबारी नीरव मोदी (Nirav Modi) को लंदन में गिरफ्तार किया गया है. उसे वेस्‍टमिंस्‍टर की कोर्ट में पेश किया जाएगा. गिरफ्तारी के बाद यह उम्‍मीद जगी है कि उसे भारत प्रत्‍यर्पित किया जा सकता है. इस गिरफ्तारी पर सियासी वार-पलटवार का दौर शुरू हो गया है. बीजेपी जहां इसे सरकार की कामयाबी बता रही है तो वहीं कांग्रेस ने इसे चुनावी हथकंडा करार दे रही है.

भगोड़ा नीरव मोदी लंदन में गिरफ्तार, कोर्ट में किया जाएगा पेश

कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि बीजेपी ने उसे सिर्फ भारत से उड़ान भरने में मदद की थी. अब उसे वापस लाया जा रहा है. वो उसे (नीरव मोदी) को चुनाव के लिए लेकर आए हैं. चुनाव के बाद उसे दोबारा भेज देंगे.

Ghulam Nabi Azad, Congress on Nirav Modi arrested in London: They (BJP) had only helped him flee the country, now they are bringing him back. They are bringing him back for the elections, they will send him back after elections. pic.twitter.com/JNYGnJYlkP

— ANI (@ANI) March 20, 2019

- Advertisement -

वहीं बीजेपी नेता गिरिराज सिंह ने गुलाब नबी आजाद की टिप्पणी पर कहा कि चौकीदार ने चौकीदारी दिखाई, जब भी कोई भगौड़ा पकड़ा जाता है तो कांग्रेस परेशान हो जाती है. इसके अलावा उमर अब्दुल्ला ने भी नीरव मोदी की गिरफ्तारी पर प्रतिक्रिया दी. उमर अबदुल्ला ने ट्वीट करते हुए लिखा कि नीरव मोदी की गिरफ्तारी के बाद बीजेपी इसका श्रेय पीएम मोदी को दे रही है जबकि सच्चाई इससे बिल्कुल अलग है. लंदन में टेलीग्राफ और उसके संवाददाता ने नीरव मोदी को ढूंढ निकाला था. नाकि प्रधानमंत्रियों और उनकी एजेंसी ने.

टिप्पणियां

रवीश कुमार का खुला खत: लंदन में नीरव का मोदी मोदी हो जाना और मेरा नीरव को पत्र लिखना

It's amusing to see the BJP falling over itself to credit the PM with the Nirav Modi arrest while completely ignoring the fact that it was The Telegraph of London & it's correspondent who found Nirav Modi, not the PM & his agencies.

— Omar Abdullah (@OmarAbdullah) March 20, 2019

Source Article