देश के कई हिस्सों में भारी बारिश से भीषण बाढ़, असम में 4 लाख लोग प्रभावित

0
- Advertisement -

अरुणाचल प्रदेश के तवांग में ज़मीन धंसने से 2 बच्चों की मौत हो गई है.

नई दिल्ली:

देश के उत्तरी और पूर्वी हिस्से में बुधवार को भारी बारिश हुई. असम में वर्षा और बाढ़ जनित घटनाओं में तीन लोगों की मौत हो गयी और 17 ज़िलों के क़रीब साढ़े 4 लाख प्रभावित हैं. धेमा जी, बोगांईगांव और बारपेटा में बाढ़ से सबसे ज़्यादा नुकसान हुआ है. असम में क़रीब 17 हज़ार हेक्टेयर फसल पानी में डूबी हुई है. 53 रिलीफ़ कैंप खोले गए हैं और 18 हज़ार से ज़्यादा लोगों को राहत कैंप में रखा गया है.. NDRF बाकी एजेंसियों के साथ राहत और बचाव में जुटी हुई है. गुवाहटी में ब्रह्मपुत्र नदी खतरे के निशान की ओर बढ़ रही है. उफनती हुई नदी ने दूर-दूर तक मैदानी भागों को अपने में समेट लिया है. कई और नदियां भी ख़तरे के निशान से ऊपर हैं. असम के ही चिरांग में चंपा नदी में आई बाढ़ ने एक गांव को लगभग पूरा डूबो दिया. यहां के 45-50 घर पूरी तरह पानी में डूब चुके हैं. सेना के जवानों ने बाढ़ में फंसे लोगों को निकालकर सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया है. मिजोरम के तलाबंग इलाके में भारी बारिश से बाढ़ जैसे हालात हैं.

Weather Updates: दिल्ली एनसीआर में झमाझम बारिश का इंतजार बढ़ा, इस दिन आएगा मॉनसून

- Advertisement -

अरुणाचल प्रदेश
लगातार हो रही भारी बारिश की वजह से अरुणाचल प्रदेश के तवांग में ज़मीन धंसने से 2 बच्चों की मौत हो गई है.. साथ ही कई इलाक़ों से संपर्क कट गया है. कई गाड़ियां मिट्टी के दलदल में फंस गई हैं. कई रास्तों पर पानी का तेज़ बहाव है जिससे लोगों को ख़ासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. राज्य सरकार अलर्ट पर है क्योंकि भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है. सिक्किम और कलिम्पोंग को सिलीगुड़ी से जोड़ने वाला हाइवे लगातार हो रही बारिश और भू-स्खलन की वजह से रोक दिया गया है.

West Bengal: Vehicular movement on Sikkim-Darjeeling route on National Highway 10 in Kalimpong, affected due to heavy rainfall and landslide in the area. pic.twitter.com/qfJXVTi1Ab

— ANI (@ANI) July 12, 2019

छत्तीसगढ़ : बाढ़ के पानी में कागज की तरह बह गई कार, देखें- VIDEO

उत्तराखंड
उत्तराखंड के उत्तरकाशी में गंगोत्री हाइवे पर चुंगी के पास पहाड़ी पर रुक-रुक कर भू-स्खलन हो रहा है. भू-स्खलन के बीच भी सड़क पर गाड़ियों की आवाजाही हो रही है, जिससे किसी बड़े ख़तरे का डर बना हुआ है. पिछले 2 साल से इस रास्ते पर काम चल रहा है, लेकिन इस बरसात में भी पहाड़ दरक रहा है.

सूखी नदी पर पुल बना रहे थे मजदूर, अचानक आ गई पानी की तेज धार, फिर…देखें- VIDEO

महाराष्ट्र
महाराष्ट्र के वाशिम जिल के एक गांव में बाढ़ के पानी से उफनता नाला पार करने की कोशिश कर रही 14 वर्षीय एक किशोरी और उसका भाई पानी में बह गए और उनकी मौत हो गई. पुलिस ने गुरुवार को बताया कि यह घटना वाघी बुद्रुक गांव में मंगलवार को हुई. दोनों भाई बहन स्कूल से घर जा रहे थे. शीरपुर जैन पुलिस थाना के निरीक्षक राहुल वाधवा ने बताया ‘‘बच्चों की पहचान पूजा पवार और उसके सात साल के भाई पारस पवार के तौर पर हुई है. भारी बारिश की वजह से नाले में बाढ़ आ गई थी. पूजा और पारस के साथ दो अन्य बच्चे भी नाला पार करते समय पानी में बह गए थे.

बाढ़ में डूब रहे थे दो बच्चे, हीरो की तरह आया शख्स और जान पर खेलकर ऐसे बचाई जान, देखें VIDEO

गुजरात
दक्षिण गुजरात में भारी बारिश के कारण वापी और वलसाड जिले में उमरगाम के कई इलाके जलमग्न हो गए जिससे सामान्य जनजीवन बाधित हो गया. राज्य आपात अभियान केंद्र (एसईओसी) के अनुसार, वापी में सुबह चार बजे से आठ बजे के बीच महज चार घंटों में करीब 184 मिलीमीटर बारिश हुई. मौसम विभाग ने सोमवार को वलसाड, नवसारी और दमन, दादर तथा नगर हवेली में कुछ स्थानों पर भारी बारिश की चेतावनी दी है. अधिकारियों ने बताया कि दक्षिण गुजरात में दमनगंगा, औरंगा और कोलक नदियों में बहाव तेज होने के कारण निचले इलाकों खासतौर से वापी में रह रहे लोगों के लिए अलर्ट जारी किया गया है. अरब सागर में ऊंची लहरें उठने के कारण वापी में कई इलाकों में बाढ़ आ गई है. उन्होंने बताया कि दमनगंगा नदी को केंद्र शासित प्रदेश दादर और नगर हवेली में मधुबन बांध से करीब 1.5 लाख क्यूसेक की दर से पानी मिल रहा है जिससे निचले इलाकों में बाढ़ आ गई है.

टिप्पणियां

असम में बाढ़ का कहर, पानी में डूबे 145 गांव​

Source Article