दुष्यंत चौटाला का आरोप: खट्टर शासन में एक करोड़ रूपये में बिके न्यायिक सेवा के प्रश्नपत्र

0

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर

उचाना:

हरियाणा में इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) से टूट कर बनी जननायक जनता पार्टी (जजपा) के नेता दुष्यंत चौटाला ने मनोहर लाल खट्टर सरकार पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए. दुष्यंत चौटाला ने आरोप लगाया है कि राज्य की मनोहर लाल खट्टर सरकार के दौरान न्यायिक सेवा भर्ती के प्रश्नपत्र एक करोड़ रुपये में बिके, जबकि नायब तहसीलदार की भर्ती के लिए हुई परीक्षा के प्रश्नपत्र लाखों रुपये में बिके. दरौली खेड़ा गांव में लोगों को संबोधित करते हुए चौटाला ने कहा, ‘ईमानदारी साबित करने के लिए खट्टर को जनता के खून पसीने के करोड़ों रुपये बर्बाद करने की जरूरत नहीं थी.'

Haryana Assembly Election: मनोहर लाल खट्टर ने सोनिया गांधी पर साधा निशाना, कहा- वह तो आतंकवादियों के लिए…

टिप्पणियां

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा, ‘ईमानदारी करोड़ों रुपये के विज्ञापन देकर साबित नहीं की जा सकती, क्योंकि खट्टर शासन में न्यायिक सेवा भर्ती के प्रश्नपत्र एक करोड़ रुपये में और नायब तहसीलदार भर्ती के प्रश्नपत्र लाखों रुपये में बिके,' चौटाला ने दावा किया कि खट्टर के कार्यकाल में नौकरियां नीलाम हुई, कर्मचारी चयन कार्यालय के माध्यम से नौकरियां बेची गईं जिनका खुलासा बाद में जांच में हुआ.

Video: हरियाणा विधानसभा चुनाव: बीजेपी सरकार के खिलाफ कुनबा जोड़ने में जुटी कांग्रेस

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)Source Article