दुबई समेत दुनिया के कोने-कोने में धूमधाम से मनाया जा रहा है जामिया का स्थापना दिवस

2
- Advertisement -

जामिया के स्थापना दिवस को पूर्व छात्र जौहर दिवस के रूप में मनाते हैं.

नई दिल्ली: जामिया मिल्लिया इस्लामिया के स्थापना दिवस के अवसर पर पूरी दुनिया मे जामिया के पूर्व छात्र कार्यक्रमों का आयोजन करते हैं. स्थापना दिवस को पूर्व छात्र जौहर दिवस के रूप में मनाते हैं. संयुक्त अरब अमीरात(यूएई) में रहने वाले जामिया के सैकड़ों पूर्व छात्र दुबई में 9 नवंबर को एक भव्य समारोह का आयोजन कर रहे हैं. इस समारोह में शत्रुघ्न सिन्हा मुख्य अतिथि के तौर पर शिरकत करेंगे. जामिया के रजिस्ट्रार ए. पी. सिद्दीकी(आईपीएस) इस समारोह के मुख्य पैट्रन हैं. यूएई में भारत के राजदूत नवदीप सिंह सूरी, जामिया के पूर्व छात्र और राजनेता दानिश अली, सुपर 30 कोचिंग शुरू करने वाले आनंद कुमार जैसे कई बड़े नाम इस समारोह में विशिष्ट अतिथि के रूप में शामिल होंगे.
जामिया मिल्लिया इस्लामिया में 15-17 नवंबर तक त्रिदिवसीय अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन
टिप्पणियां जामिया के रजिस्ट्रार के अलावा ग्लोबल जामिया एलुमनाई नेटवर्क(GJAN) के चेयरमैन प्रो. मुशाहिद आलम रिज़वी, जनसंपर्क अधिकारी एवं मीडिया कोऑर्डिनेटर अहमद अज़ीम समेत जामिया के कई अधिकारी इस समारोह में विशेष अतिथि के रूप में शामिल होंगे. भारत समेत पूरी दुनिया से पूर्व छात्र भी इस समारोह में शिरकत करेंगे. दुबई के कई बड़े कारोबारी भी इस समारोह में शामिल होंगे. समारोह का आयोजन करने वाली समिति के कोऑर्डिनेटर सय्यद नदीम ज़ैदी ने बताया कि यूएई में जामिया के पूर्व छात्र बड़ी संख्या में हैं और स्थापना दिवस के मौके पर सभी छात्र यहां जुटते हैं. यह एक मौका होता है पुराने साथियों से मिलने का, जामिया की तहज़ीब को समझने का और विश्विद्यालय को आगे ले जाने के लिए पूर्व छात्रों द्वारा किये जा रहे प्रयासों को बताने का.
दिवाली के दीपकों से जगमग हुआ जामिया मिल्लिया इस्लामिया, 'युवा' ने किया छात्र मिलन का आयोजन
दुबई के अलावा सऊदी अरब, क़तर, बहरीन, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा,सिंगापुर समेत दुनिया के कई और देशों में जामिया का स्थापना दिवस मनाया जा रहा है. 29 अक्टूबर 1920 को जामिया की स्थापना की गई थी और अब 2 साल बाद इस ऐतिहासिक विश्वविद्यालय को स्थापित हुए 100 वर्ष पूरे हो जाएंगे.
Source Article

- Advertisement -