दीवाली के दीपकों से जगमग हुआ जामिया मिल्लिया इस्लामिया, ‘युवा’ ने किया छात्र मिलन का आयोजन

4
- Advertisement -

जामिया विश्विद्यालय परिसर में छात्र मिलन समारोह का आयोजन किया गया.

नई दिल्ली: वैसे तो साल के सबसे बड़े त्योहार दीवाली आने में अभी कुछ दिनों का समय बचा है, मगर इसका उत्साह अभी से ही समूचे देश में देखने को मिल रहा है. इस वक्त जहां दीवाली की तैयारियों पर बात करें, तो हर ओर के सभी बड़े-छोटे बाज़ार त्योहार की सामग्रियों और खरीददारों से भरे है, तो वहीं घरों में सजावट का काम भी तेज़ी से हो रहा है. दीवाली की यहीं रौनक अब देशभर के शैक्षणिक संस्थानों में भी देखने को मिल रही है, जहां छात्र अपने-अपने स्तरों पर त्योहार से जुड़े अनेक कार्यक्रमों का आयोजन कर रहे हैं. कुछ इसी तरह का उत्सव राजधानी दिल्ली के जामिया मिल्लिया इस्लामिया में गुरुवार शाम किया गया, जिसमें छात्र संग शिक्षकों ने भी बड़-चढ़कर हिस्सा लिया. यह आयोजन छात्र-संस्था ‘यूथ यूनाइटेड फ़ॉर विज़न एण्ड एक्शन' (युवा) के जामिया चैप्टर द्वारा विश्वविद्यालय परिसर स्थित सफ़दर हाशमी ओपन हेड थ्रीएटर में किया गया.
धूमधाम से मना जामिया मिल्लिया इस्लामिया का 98वां स्थापना दिवस, विभिन्न कार्यक्रमों का हुआ आयोजन
जामिया विश्विद्यालय परिसर में दीवाली के इस उत्सव पर विभिन्न सांस्कृतिक एवं प्रतियोगिता कार्यक्रम आयोजित किए गए. पारंपरिक दीप-प्रज्वलन के साथ आरंभ हुए इस संध्या समारोह को तीन प्रतिस्पर्धात्मक कार्यक्रमों के चरणों में किया गया, जिसमें शतरंज, रंगोली मेकिंग और ओपन-माइक जैसी प्रतियोगिताएं भी रखी गई. इस कार्यक्रम में जामिया के सभी प्रतिभागी छात्र-छात्राओं ने अपना सर्वश्रेष्ठ दिया. एक तरफ जहां रंगोली मेकिंग कार्यक्रम में प्रतिभागियों ने अपनी बेहतरीन कलाकृतियों से सभी आगंतुकों का मन मोह लिया. तो वहीं ओपन-माइक कार्यक्रम के खुले मंच से जामिया छात्रों ने अपनी काव्य-रचनाओं एवं गीतों से सभी का मनोरंजन किया, जिसके बाद कार्यक्रम में उपस्थित जामिया के शिक्षकों तथा विशिष्ट अतिथियों ने सर्वोत्तम प्रतिभागियों को प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय पुरस्कारों से भी सम्मानित किया.
जेएमआई की शिक्षिका सईदा बेगम महिला वैज्ञानिक पुरस्कार से सम्मानित
प्रतियोगिता कार्यक्रमों के पश्चात्, मिष्ठान वितरण किया गया. विश्वविद्यालय के छात्रों ने एक-दूसरे को मिठाई खिलाकर दीवाली की शुभकामनाएं दीं. इस कार्यक्रम के बारे में शुभम कुमार ने बताया, "जामिया के छात्रों का यह गंगा-जमुनी तहज़ीब का मरकज़ मेरा अपना जामिया मिल्लिया इस्लामिया ही है. यहां एक-दूसरे को गले लगाकर ईद में सेवई की खीर भी साथ खाते हैं और दिवाली के दीये भी साथ रोशन करते हैं.
टिप्पणियांजामिया मिल्लिया इस्लामिया में स्वास्थ्य सेवा एवं वास्तुकला संगम ‘कॉन्फ्लूयन्स 18 ‘ का सफल आयोजन
वहीं, जामिया मिल्लिया इस्लामिया के इस दीवाली उत्सव के आयोजन पर ‘यूथ यूनाइटेड फ़ॉर विज़न एण्ड एक्शन' (युवा) के दिल्ली प्रांत संयोजक, रजनीश जिंदल ने एनडीटीवी को बताया की छात्रों ने जामिया की वास्तविक गंगा-जमुनी तहज़ीब का उदाहरण प्रस्तुत करते हुए सभी पंथ के छात्र-छात्राओं ने एक साथ दीवाली का उत्सव मनाया.
Source Article

- Advertisement -