दिल्ली में मेट्रो शौकिया सवारी नहीं बल्कि रोज की जरूरत, किराया घटाया जाए : मनीष सिसोदिया

6
- Advertisement -

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (फाइल फोटो).

नई दिल्ली:

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने सोमवार को मेट्रो का किराया घटाने पर जोर देते हुए कहा कि आम लोग ज्यादा किराया देने में सक्षम नहीं हैं. उन्होंने कहा कि "मेट्रो कोई शौकिया सवारी करने के लिए नहीं है बल्कि यह रोज की जरूरत है."

दिल्ली मेट्रो की पिंक लाइन पर लाजपत नगर-मयूर विहार पॉकेट-1 खंड के उद्घाटन कार्यक्रम में सिसोदिया ने अन्य देशों के साथ दिल्ली मेट्रो के किराये की तुलना नहीं करने की सलाह दी, जहां प्रति व्यक्ति आय काफी ज्यादा है.

सिसोदिया ने कहा, "मुझे अभी भी लगता है कि मेट्रो का किराया बहुत ज्यादा है. मेट्रो के निर्माण में सिविल इंजीनियरिंग शानदार है, अब किराया घटाने के लिए हमें कुछ आर्थिक इंजीनियरिंग की जरूरत है. मेरा मानना है कि इसे किया जा सकता है."

- Advertisement -

पिंक लाइन मेट्रो का और विस्तार, लाजपत नगर- मयूर विहार पॉकेट-1 कोरीडोर की शुरुआत आज से

उप मुख्यमंत्री ने कहा, "जब हम इसे उचित ठहराने के लिए अन्य देशों के मेट्रो किराये से तुलना करते हैं तो हमें यह बात भी ध्यान में रखनी चाहिए कि उनके और हमारे देश में प्रति व्यक्ति आय में कितान अंतर है..जो लोग श्रमिक वर्ग से आते हैं उन्हें भी किराया भुगतान करने में सक्षम होना चाहिए."

VIDEO : प्रधानमंत्री ने की मेट्रो में सवारी

टिप्पणियां

साल 2017 में दिल्ली मेट्रो का किराया दो चरणों में बढ़ाकर दोगुना कर दिया गया था. दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार ने इसका विरोध किया था.
(इनपुट आईएएनएस से)

Source Article