दिल्ली में बड़ी कार्रवाई, हेरोइन बनाने में इस्तेमाल होने वाला 9650 लीटर ड्रग्स बरामद

0
- Advertisement -

प्रतीकात्मक तस्वीर.

नई दिल्ली: दिल्ली में ड्रग्स का कारोबार जडे़ं जमा हो चुका है. लगातार ड्रग्स की बरामदगी और गिरफ्तारियां इस बात को पुख्ता करतीं हैं. एक बार फिर नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो(NCB) की दिल्ली यूनिट ने ड्रग्स के एक बड़े खेप को बरामद करते हुए तीन लोगो को गिरफ्तार किया. कुल 9650 लीटर एसेटिक एनहाइड्राइड बरामद किया गया है. ये पूर्ण रूप से प्रतिबंधित है. इसका इस्तमाल उच्च क्वालिटी की हेरोइन बनाने में किया जाता है. एक लीटर एसेटिक एनहाइड्राइड की कीमत बाजार में लगभग 250-300 रुपये बताई जाती है.
15 दिन पहले भी हो चुकी कार्रवाई
15 दिन पूर्व भी दिल्ली पुलिस ड्रग्स की सप्लाई की करने वाले एक बड़े गिरोह का पर्दाफाश कर दो लोगों गिरफ्तार कर चुकी है. छह करोड़ हेरोइन की कीमत 24 करोड़ रुपये थी.स्पेशल सेल के डीसीपी प्रमोद कुशवाहा के मुताबिक उनकी टीम को एक जानकारी मिली कि कुछ लोग 12 अक्टूबर को कॉमनवेल्थ फ्लाईओवर के पास किसी को ड्रग्स सप्लाई करने के लिए आ रहे हैं. पुलिस ने अपना जाल बिछाया. एक सफेद रंग की स्कॉर्पियो कार गाज़ीपुर की तरफ से आई और रुक गई. पुलिस ने जब उस कार को घेरकर उसमें सवार दो लोगों पकड़ लिया और कुल 6 किलो हेरोइन बरामद की. इस हेरोइन की अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत 24 करोड़ है.गिरफ्तार दोनों आरोपी इकराम अरविंद राणा सहारनपुर के रहने वाले हैं जो बरेली के एक शख्स से हेरोइन की यह खेप लेकर आए थे. आरोपियों ने बताया कि वे दिल्ली, मेरठ, सहारनपुर जैसी जगहों पर ड्रग्स सप्लाई करते हैं और इस काम में पिछले 10 सालों से लगे हैं. पिछले एक एक साल में वे करीब 80 किलो हेरोइन सप्लाई कर चुके हैं.
टिप्पणियांवीडियो-प्राइम टाइम: ड्रग्स के शिकंजे से कैसे निकलेगा पंजाब?
Source Article

- Advertisement -