दिल्ली और हरियाणा में यह सर्वे करवा सकता है AAP-कांग्रेस में गठबंधन, नेताओं का बदल डाला रुख

3
- Advertisement -

राहुल गांधी के साथ शीला दीक्षित.

नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) में आम आदमी पार्टी और कांग्रेस (Congress) के बीच गठबंधन की अनिश्चितताओं के बीच कांग्रेस पार्टी का एक अंदरूनी सर्वे कांग्रेस नेताओं को रुख बदलने में अहम भूमिका निभा सकता है. एनडीटीवी को सूत्रों ने बताया कि इस सर्वे में भाजपा (BJP) को 35 फीसदी वोटों के साथ आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) और कांग्रेस से आगे दिखाया गया है. इस सर्वे को पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और दिल्ली प्रमुख शीला दीक्षित को देख चुके हैं.

दिल्ली कांग्रेस प्रदेश कमेटी से जुड़े एक नेता ने एनडीटीवी को बताया, 'पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी के राज्य ईकाई की बात मानने और आप के साथ गठबंधन न करने का फैसला लेने के बाद वरिष्ठ केंद्रीय नेताओं ने राहुल गांधी से मुलाकात की और उन्हें इस फैसले पर दोबारा से विचार करने के लिए कहा. वरिष्ठ नेताओं ने पार्टी द्वारा कराए गए सर्वे राहुल गांधी को दिखाया, जिसमें आम आदमी पार्टी को 28 फीसदी, कांग्रेस को 22 फीसदी और भाजपा को 35 फीसदी वोट मिल रहे थे. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अगर आम आदमी पार्टी के साथ गठबंधन किया जाता है तो दिल्ली की सातों सीटें गठबंधन के खाते में आ जाएंगी.'

- Advertisement -

कांग्रेस क्या दिल्ली में 'आप' से चुनावी गठबंधन करे? ले रही कार्यकर्ताओं की राय

सूत्रों के मुताबिक वरिष्ठ केंद्रीय नेताओं से मुलाकात के बाद राहुल गांधी ने आम आदमी पार्टी के साथ गठबंधन पर शक्ति ऐप के जरिए कांग्रेस कार्यकर्ताओं से राय मांगी थी. इसके बाद उस फीडबैक का नतीजा राहुल गांधी को दे दिया गया है.

इसी बीच दिल्ली कांग्रेस प्रभारी पीसी चाको ने दिल्ली कांग्रेस चीफ शीला दीक्षित से मुलाकात की और उन्हें वोट शेयर के सर्वे के नतीजे दिखाए. इसके साथ ही उन्होंने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की राय बताई. हालांकि दीक्षित ने अपना पूरा रुख नहीं बदला, लेकिन वह इस बात के लिए राजी हो गईं कि 'आप' के साथ गठबंधन पर पार्टी नेतृत्व के फैसले से सहमत होने के लिए तैयार हैं.

क्या दिल्ली में अब भी हो सकता है कांग्रेस-AAP का गठबंधन? इस बात से लगाए जा रहे कयास…

साथ ही बताया कि चाको ने इसके बाद दिल्ली कांग्रेस यूनिट के अन्य नेताओं से मुलाकात की और सभी नेताओं ने आप के साथ गठबंधन को लेकर पार्टी नेतृत्व के फैसले के साथ जाने पर सहमति दे दी. कांग्रेस सूत्रों ने बताया, 'पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल और गुलाम नबी आजाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के संपर्क में हैं. दिल्ली और हरियाणा में आम आदमी पार्टी और कांग्रेस में गठबंधन की संभावना है.'

साथ ही सूत्रों ने बताया, 'अगर राहुल गांधी आम आदमी पार्टी के साथ गठबंधन करने पर कोई फैसला लेते हैं तो सीटों के बंटवारे को लेकर एक कमेटी का गठन किया जाएगा.'

केजरीवाल ने अब हरियाणा में गठबंधन के लिए राहुल से की गुजारिश, कहा- साथ लड़े तो सारी सीटें जीत लेंगे

टिप्पणियां

VIDEO- AAP के संजय सिंह ने कहा-कांग्रेस बहुत कंफ्यूज स्टेट में है

Source Article