तो अब औरंगाबाद और उस्मानाबाद का भी बदलेगा नाम? शिवसेना ने महाराष्ट्र सरकार से की मांग, जानें क्या होगा नाम

1
- Advertisement -

शिवसेना नेता संजय राउत (फाइल फोटो)

मुंबई: देश में फिलहाल शहरों के नाम बदलने का दौर जारी है. देश के विभिन्न इलाकों में जिस तरह से कई शहरों के नाम बदलने की मांग की आवाज उठ रही है, उससे लगता है कि बदले हुए नामों के शहरों की फेहरिस्त जल्द ही लंबी होगी. दरअसल, यूपी के इलाहाबाद, फैजाबाद के बाद अब महाराष्ट्र से भी औरंगाबाद और उस्मानाबाद के नाम बदले जाने की मांग उठने लगी है. शिवसेना ने औरंगाबाद का नाम संभाजी नगर और उस्मानाबाद का नाम धाराशिव करने की मांग की है. बता दें कि इससे पहले गुजरात के अहमदाबाद शहर का नाम बदले जाने की बात आई थी. माना जा रहा है कि गुजरात सरकार अहमदाबाद का नाम कर्णावती रखने पर विचार कर रही है.
तेलंगाना की सत्ता में बीजेपी आई तो हैदराबाद का भी बदल जाएगा नाम, भाजपा नेता राजा सिंह का दावा
दरअसल, 2019 लोकसभा चुनाव की आहट के साथ ही विकास का मुद्दा दरकिनार होकर भावनाओं की तरफ मुड़ने लगा है. शिवसेना नेता संजय राउत ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से सवाल पूछा है क्या उत्तर प्रदेश की तरह महाराष्ट्र में भी औरंगाबाद और उस्मानाबाद का नाम बदला जाएगा? इसके पीछे शिवसेना ने तर्क दिया है कि यह उनकी सबसे पुरानी मांग है और जिस तरीके से दूसरे राज्यों में शहरों के नाम बदले जा रहे हैं वैसे ही महाराष्ट्र में भी औरंगाबाद और उस्मानाबाद का नाम बदला जाना चाहिए.
अब शहरों के नाम बदलने की फेहरिस्त में गुजरात का अहमदाबाद शहर, इस नाम पर सरकार कर रही विचार
इधर विपक्ष नाम बदलने के मुद्दे पर शिवसेना और बीजेपी दोनों को आड़े हाथों लिया है. सपा नेता अबू आसिम आजमी ने कहा है कि शिवसेना और बीजेपी एक ही सिक्के के दो पहलू हैं. शहरों के नाम बदलने की बजाए अगर बीजेपी सरकार काम पर ध्यान देती तो आज महाराष्ट्र में जिस तरीके की हालात पैदा हुए हैं वैसे नहीं होते.
बता दें कि हाल ही में उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने दो शहरों के नाम पर बड़ा फैसला लिया है. बीते दिनों इलाहाबाद को प्रयागराज किया गया और अयोध्या में दीपोत्सव के दौरान सीएम योगी ने फैज़ाबाद का नाम बदलकर अयोध्या रख दिया. यही वजह है कि महाराष्ट्र में भी शिवसेना नाम बदलने की बात कर रही है.
टिप्पणियांइलाहाबाद का नाम बदलने पर उठे सवाल तो सीएम योगी बोले- क्यों आपका नाम रावण और दुर्योधन नहीं?
वहीं, गुजरात में भी अहमदाबाद का नाम कर्णावती करने पर विचार किया जा रहा है. गुजरात सरकार का कहना है कि अगर कानूनी बाधा सरकार पार कर लेती है और जनसमर्थन प्राप्त होता है तो अहमदाबाद का नाम बदलकर कर्णावती रख दिया जाएगा. सरकार का तर्क है कि पहले अहमदाबाद का नाम कर्णावती ही थी.
Source Article

- Advertisement -