टॉप 5 न्यूजः सुप्रीम कोर्ट में आरक्षण बिल को चुनौती, लालू प्रसाद यादव की जमानत नामंजूर

2
- Advertisement -

सुप्रीम कोर्ट की फाइल फोटो.

नई दिल्ली:

आर्थिक आधार पर 10 फीसदी आरक्षण(Reservation Bill) का मुद्दा सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में पहुंच गया है. यूथ फॉर इक्विलिटी ने संविधान संशोधन को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है.अयोध्या में राम जन्मभूमि- बाबरी मस्जिद भूमि मालिकाना हक विवाद( Ayodhya Case) की सुनवाई से जस्टिस उदय यू ललित (Justice Uday Lalit ) ने खुद को अलग कर लिया है.चारा घोटाले के मामले में जेल की सजा काट रहे राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की जमानत याचिका खारिज हो गई है. देवघर-दुमका चाईबासा कोषागार से अवैध निकासी मामले में राजद सुप्रीमो लालू यादव को बड़ा झटका देते हुए झारखंड उच्च न्यायालय से सभी तीनों मामले में उनकी जमानत याचिका बृहस्पतिवार को खारिज कर दिया.बिहार (Bihar)के गया में एक 16 साल की छात्रा का गला काटकरहत्या (Murder)कर दी गई, साथ ही उसका चेहरा एसिड से जला दिया गया. पांच दिन पहले छात्रा के शव के टुकड़े मिले थे.बिहार में ट्रेन में डकैती की बड़ी घटना सामने आई है. चेहरे पर मास्क और हाथों में बंदूक लिए करीब दर्जन भर से अधिक बदमाशों ने बुधवार की रात मुसाफिरों के बीच तांडव किया और बड़ी लूटपाट की घटना को अंजाम दिया.

सुप्रीम कोर्ट में पहुंचा आरक्षण बिल का मामला, संस्था ने कहा- आर्थिक आधार पर आरक्षण नहीं दे सकते

e5p9mpc

- Advertisement -

आर्थिक आधार पर 10 फीसदी आरक्षण(Reservation Bill) का मुद्दा सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में पहुंच गया है. यूथ फॉर इक्विलिटी ने संविधान संशोधन को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है. याचिका में कहा गया है कि ये संशोधन सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ है और आर्थिक आधार पर आरक्षण नहीं दिया जा सकता.बता दें कि मोदी सरकार (Modi Government) की ओर से देश भर के गरीब सवर्णों को 10 प्रतिशत आरक्षण देने वाला ऐतिहासिक विधेयक बुधवार को राज्यसभा में भी पास हुआ. लोकसभा और राज्यसभा से इस बिल के पास होने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसे सामाजिक न्याय की जीत बताया और कहा कि यह देश की युवा शुक्ति को अपना कौशल दिखाने के लिए व्यापक मौका सुनिश्चित करेगा तथा देश में एक बड़ा बदलाव लाने में सहायक होगा. पीएम मोदी ने कई ट्वीट में लिखा, ‘‘खुशी है कि संविधान (124वां संशोधन) विधेयक पारित हो गया है जो सामान्य वर्ग के आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को शिक्षा एवं रोजगार में 10 प्रतिशत आरक्षण मुहैया कराने के लिए संविधान में संशोधन करता है. मुझे देखकर प्रसन्नता हुई कि इसे इतना व्यापक समर्थन मिला.''

सुप्रीम कोर्ट में राम मंदिर विवाद केस की सुनवाई से क्यों हट गए जस्टिस उदय यू ललित ?

q0da0gr

अयोध्या में राम जन्मभूमि- बाबरी मस्जिद भूमि मालिकाना हक विवाद( Ayodhya Case) की सुनवाई से जस्टिस उदय यू ललित (Justice Uday Lalit ) ने खुद को अलग कर लिया है. वह इस केस की सुनवाई करने वाली पांच न्यायाधीशों की संविधान पीठ के सदस्य थे. जिसके बाद उच्चतम न्यायालय ने एक नई पीठ के समक्ष मामले की सुनवाई के लिए 29 जनवरी की तारीख तय की है. दरअसल, गुरुवार को संविधान पीठ के बैठते ही मुस्लिम पक्ष की ओर से पेश वरिष्ठ वकील राजीव धवन ने प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ को बताया कि न्यायमूर्ति ललित उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की पैरवी करने के लिए 1994 में अदालत में पेश हुए थे. यह जिक्र छेड़ने के बाद हालांकि, बाद में धवन ने यह भी कहा कि वह न्यायमूर्ति ललित के मामले की सुनवाई से अलग होने की मांग नहीं कर रहे, लेकिन न्यायाधीश ने स्वयं को मामले की सुनवाई से अलग करने का फैसला किया.

लालू प्रसाद यादव को नहीं मिली जमानत, झारखंड हाई कोर्ट ने खारिज की याचिका

lalu yadav parole pti

चारा घोटाले के मामले में जेल की सजा काट रहे राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की जमानत याचिका खारिज हो गई है. देवघर-दुमका चाईबासा कोषागार से अवैध निकासी मामले में राजद सुप्रीमो लालू यादव को बड़ा झटका देते हुए झारखंड उच्च न्यायालय से सभी तीनों मामले में उनकी जमानत याचिका बृहस्पतिवार को खारिज कर दिया. न्यायमूर्ति अपरेश कुमार सिंह ने लालू प्रसाद की जमानत याचिकाओं को खारिज करने का फैसला सुनाया. लालू प्रसाद की जमानत याचिकाओं पर अदालत ने चार जनवरी को सुनवाई पूरी की थी. लालू प्रसाद ने देवघर-दुमका चाईबासा कोषागार से अवैध निकासी मामले में जमानत की गुहार लगाई थी. इस फैसले से 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए चुनाव प्रचार की तैयारी कर रहे राजद को बड़ा झटका लगने की आशंका है क्योंकि पार्टी के स्टार प्रचारक लालू प्रसाद के अब बिरसा मुंडा जेल में रहने की संभावना बढ़ गयी है. मामले में अब उच्चतम न्यायालय से कोई राहत मिलने पर ही वह जेल से बाहर आ सकेंगे.

बिहार: गया में 16 साल की छात्रा का गला काटकर मर्डर, एसिड से जलाया चेहरा

ifjn4o

गया: बिहार (Bihar)के गया में एक 16 साल की छात्रा का गला काटकरहत्या (Murder)कर दी गई, साथ ही उसका चेहरा एसिड से जला दिया गया. पांच दिन पहले छात्रा के शव के टुकड़े मिले थे. छात्रा गया के पटवा टोली की रहने वाली थी, परिजनों ने रेप का आरोप भी लगाया है. हालांकि, पुलिस (Bihar Police) ने इसे ऑनर किलिंग बता रही है. दोषियों के गिरफ्तार न होने और कार्रवाई में देरी के विरोध में लोग शहर में सड़कों पर उतरे हैं. पिछले पांच दिनों से शहर में तनाव का माहौल बना हुआ है. बुधवार को भारी संख्या में पुलिस के खिलाफ लोग सड़क पर उतरे थे. सैकड़ों की संख्या में हाथों में मोमबती लेकर प्रदर्शन करते हुए न्याय की मांग कर रहे थे. प्रदर्शन करने वालों का कहना है कि पुलिस इस मामले को हल्के में ले रही है.

दिल्ली से बिहार जा रही थी ट्रेन, मास्क पहन कर घुसे 15 बदमाश, बंदूक के जोर पर 1 घंटे तक 200 यात्रियों को लूटा

train genericटिप्पणियां

बिहार में ट्रेन में डकैती की बड़ी घटना सामने आई है. चेहरे पर मास्क और हाथों में बंदूक लिए करीब दर्जन भर से अधिक बदमाशों ने बुधवार की रात मुसाफिरों के बीच तांडव किया और बड़ी लूटपाट की घटना को अंजाम दिया. दरअसल, बिहार के क्यूल और जमालपुर स्टेशन के बीच धनौरी स्टेशन (लखीसराय) के पास ट्रेन को घंटे भर से ज्यादा रोककर बदमाशों ने मुसाफिरों से लूटपाट की और उनसे पास से सभी कीमती सामान छीन लिए. दरअसल, बुधवार की रात धनौरी स्टेशन के पास नई दिल्ली से भागलपुर जा रही ट्रेन संख्या 12350 में करीब 9.30 बजे घंटे भर से ज्यादा देर तक रोक कर ट्रेन में डकैती होती रही. बताया जा रहा है कि करीब 15 की संख्या में बदमाश थे, जिन्होंने मास्क पहन रखा था और सबके हाथों में बंदूक थे. बदमाशों ने तीन एसी और एक स्लीपर कोच को निशाना बनाया और इस तरह से चार कोच में लूटपाट की. कोच में मौजूद एक भी मुसाफिर को बदमाशों ने नहीं छोड़ा.

Source Article